2 लाख लाख की सुपारी देकर कराया था पति का मर्डर

नरेश की अंधी हत्या का खुलासा, दोस्त और पत्नी निकली कातिल, दोनों गिरफ्तार

जबलपुर:  पनागर थाना अंतर्गत ग्राम मचला में हुई नरेश मिश्रा 40 वर्ष की अंधी हत्या की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है। कातिल कोई और नहीं बल्कि मृतक की पत्नी ही निकली जिसने 2 लाख की सुपारी देकर दोस्त से हत्या कराई थी। पुलिस ने मृतक की पत्नी समेत आरोपी दोस्त को गिरफ्तार कर लिया है।उल्लेखनीय है कि मचला पनागर निवासी नरेश कुमार मिश्रा 40 वर्ष का 10 जनवरी से लापता था। गुमइंसान की रिपोट पत्नी उषा मिश्रा ने दर्ज कराई थी। 12 जनवरी को बेलखाडू रोड के किनारे खेत में नरेशा का कटा हुआ सिर मिला था। धड़ रोड के दूसरी तरफ लगभग 100 मीटर अंदर मिला था। मृतक नरेश मिश्रा  खेती किसानी करता था कुछ समय पूर्व ही आधा एकड़ खेत बेचकर एक बुलेरो खरीदी थी, बुलेरो को स्वयं किराये पर चलाता था।

2019 में मृतक ने आरोपी की भाभी के साथ किया था दुष्कर्म का प्रयास पुलिस के मुताबिक पतासाजी के दौरान ज्ञात हुआ कि मचला गॉव का अखिलेश उर्फ अक्कू विश्वकर्मा 10 जनवरी को मृतक नरेश कुमार मिश्रा के साथ रात 8 बजेके बाद देखा गया था, यह जानकारी लगते ही संदेही अखिलेश उर्फ अक्कूविश्वकर्मा पिता गिरजा प्रसाद विश्वकर्मा निवासी ग्राम मचला को अभिरक्षा में लेते हुये सघन पूछताछ की गयी तो अखिलेश विश्वकर्मा ने अपने दोस्त नरेश कुमार मिश्रा की फरसे से गला काट कर हत्या करना स्वीकार करते हुयेबताया कि नरेश ने वर्ष 2019 में उसकी भाभी के साथ दुराचार का प्रयास कियाथा, तभी से वह नरेश से रंजिश रखता था।
दूसरी महिला से थे संबंध, पत्नी थी परेशान
आरोपी अक्कू ने बताया कि नरेश कुमार मिश्रा अपनी पत्नी उषा मिश्रा के साथ भी आये दिन शराब पीकर मारपीट करता था जिससे उषा मिश्रा भी काफी परेशान थी, नरेश मिश्रा के एक अन्य महिला से भी सम्बंध थे। नरेश की पत्नी उषा मिश्रा ने 8-10 दिन पूर्व उससे कहा कि मै अपने पति से काफी परेशान हूॅ तुम मेरे पति को मार दो मैं तुम्हें 2 लाख रूपये दूंगी, उसे भी नरेश से बदला लेना था इसलिये वह तैयार हो गया तो उषा ने उसे एक फरसा दिया था जिसे उसने अपने पास रख लिया था।
4 वार कर काट दी गर्दन, मुंडी उठाकर खेत में फेंकी-
आरोपी अक्कू के मुताबिक 10 जनवरी को रात 8 बजे उसने फोन कर नरेश मिश्रा को शराब पीने के लिये श्याम मिश्रा के खेत में बुलाया, नरेश मिश्रा के आने पर हम दोनो ने बैठकर शराब पी, नरेश को उसने ज्याद पिलाई, जब नरेश अधिक नश्ेा में होकर जमीन में लेट गया तो कुछ ही दूरी पर पूर्व से छिपाकर आम के पेड के नीचे छिपाकर रखे फरसे से 4 बार हमला करके नरेश की गर्दन काट दी, जब खून निकलना बंद हो गया तो नरेश की मुंडी उठाकर उसने सुखचैन के पीछे स्थित अशोक पटेल के खेत मे ले जाकर फेंक दिया, ताकि सुखचैन एवं
सुखचैन के लडके पर पुलिस का शक जाये क्योंकि सुखचैन नरेश से मनमुटाव रखता था।
फरसा, 2 मोबाइल बरामद
नरेश की पत्नी उषा मिश्रा को अभिरक्षा में लेकर पूछताछ की गयी तो पति से परेशान होकर पति के दोस्त अखिलेश विश्वकर्मा को 2 लाख रूपये देने का कहकर पत्नि की हत्या कराना स्वीकार किया। अखिलेश विश्वकर्मा की निशादेही पर घटना में प्रयुक्त फरसा एवं घटना के वक्त उपयोग में लाये गये 2 मोबाईल जप्त करते हुये प्रकरण में दोनों को विधिवत गिरफ्तार कर न्यायालय के समक्ष पेश किया जा रहा है।

नव भारत न्यूज

Next Post

ग्वालियर में कोरोना बेकाबू, फिर मिले 291 मरीज मिले

Fri Jan 14 , 2022
1000 के करीब एक्टिव मरीज हॉटस्पॉट क्षेत्रों के बाद अब नए इलाकों में मिल रहे कोविड मरीज ग्वालियर: ग्वालियर जिले में आज 291 कोरोना पॉजीटिव मरीज मिले हैं। कल 280 कोविड मरीज मिले थे। शहर में कोरोना मरीजों की संख्या दिन पर दिन बढ़ती जा रही है। आज 5,379 लोगों […]