13 साल से फरार वारंटी गिरफ्त में

मल्हारगढ़ से अब तक 6 वारंटियों को पकडक़र राजस्थान पुलिस को सौंप चुकी है टीम

मंदसौर। मंदसौर के पिपलियामंडी पुलिस ने एक फरार वारंटी को गिरफ्तार कर राजस्थान पुलिस को सौंपा है। आरोपी पिछले 13 सालों से फरार था। मंदसौर पुलिस अब तक 6 आरोपियों को पकडक़र राजस्थान पुलिस को सौंप चुकी है।

एसडीओपी नरेंद्र सोलंकी ने बताया कि आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनजर सीमावर्ती राज्य राजस्थान से प्राप्त स्थायी वारंटियों की सूची के अनुसार सभी थानों पर अंतरराज्यीय स्थायी वारंटियों की धरपकड़ के लिए अभियान चलाया जा है।

इसी के अंतर्गत पिपलियामण्डी थाना प्रभारी नीरज सारवान के नेतृत्व में करवाई करते हुए राजस्थान के शंभूपुरा जिला चित्तौडगढ से 13 सालों से फरार स्थायी वारंटी अफजल पिता इब्राहिम नियारगर (50) निवासी बोतलगंज जिला मंदसौर को हिरासत में लेकर राजस्थान पुलिस के सुपुर्द किया है।

मल्हारगढ़ एसडीओपी नरेंद्र सोलंकी ने बताया की राजस्थान पुलिस के साथ ज्वाइंट ऑपरेशन में 3 फरार वारंटियों को डिटेन किया। इसके साथ मंदसौर पुलिस ने धरपकड़ में 3 वारंटियों को पकडक़र राजस्थान पुलिस के सुपुर्द किया। आरोपी राजस्थान के विभिन्न थाना क्षेत्रों में अपराधी रहे हैं। पुलिस को इनकी तलाश थी।

गिरफ्तार आरोपियों में पप्पू पिता हजारी बांछड़ा निवासी डोडियामीणा थाना वायडी नगर, करण पिता गोरू बंजारा निवासी गोपालपुरा थाना नारायणगढ़, पप्पू उर्फ पुखराज पिता केशरमल बावरी निवासी किशनगढ़ थाना नारायणगढ़, कमल पिता मूलचंद मालवीय निवासी लूनाहेड़ा व मोहम्मद रफीक पिता अमीर खां निवासी पुरानी मस्जिद के पास निंबाहेड़ा हालमुकाम फतेहगढ़ तहसील दलौदा और अफजल पिता इब्राहिम नियारगर (50) निवासी बोतलगंज को पकडक़र राजस्थान पुलिस को सुपुर्द किया है।

एसडीओपी सोलंकी ने बताया अपराधियों पर पुलिस की कार्रवाई निरंतर जारी रहेगी। आचार संहिता का सभी को पालन करना होगा।

Next Post

रास्ते की जमीन को लेकर दो पक्षों में जमकर मारपीट, एक मृत

Sat Mar 23 , 2024
10 से 12 व्यक्ति गंभीर रूप से घायल चला प्रशासन का बुलडोजर   मंदसौर। जिले के भानपुरा तहसील के अंतारालिया गांव में रास्ते की जमीन को लेकर विश्वकर्मा एवं भट्ट समाज के दो पक्षों में जमकर हुई मारपीट जिसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई है। वही 10 से 12 […]

You May Like