घर के पीछे बना रखा था नकली घी बनाने का कारखाना पुलिस ने 4 क्विंटल से अधिक नकली घी बरामद किया

खरगोन:  पुलिस कि सक्रियता ने समय रहते घर के पीछे बना रखें नकली घी बनाने के कारखाने पर कार्यवाही करते हुए 4 क्विंटल से अधिक घी और उपयोग में आने वाली मशीनें जब्त की है।दरसल सोमवार को मुखबिर से पुलिस को सूचना मिली थी कि पोखर खुर्द के मुकेश पाटीदार ने अपने घर के पीछे भारी मात्रा में मिलावटी व अमानक घी का निर्माण कर बेचने की तैयारी कर रहा है।शादी ब्याह के सीजन को देखते हुए पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ चौधरी के निर्देश पर एसडीओपी अलावा ने सायबर सेल के दल और पुलिस बल के साथ दस्तक देकर कार्यवाही को अंजाम दिया।मौके पर स्थिति को देखते हुए खाद्य सुरक्षा अधिकारी को बुलाया गया।खाद्य सुरक्षा अधिकारियों ने मौके पर कार्यवाही करते हुए नमूने लिए।

70 हजार से अधिक राशि का 456 नकली घी किया बरामद

खाद्य प्रशासन के सुरक्षा अधिकारी आरआर सोलंकी ने मामले की मेनगांव थाने में एफआईआर दर्ज कराई है।पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार पोखरखुर्द पिपराटा क्षेत्र की फर्म पूर्णानंद बेकरी एवं डेयरी फार्म में प्रथम दृष्टया मिलावटी एवं अमानक घी का विनिर्माण और विक्रय किये जाने का मामला है। पुलिस की मौजूदगी में निरीक्षण के दौरान फैक्टरी में विक्रय के लिए निर्माण किया हुआ पाया। इसमे अलग-अलग मात्रा के कुल 31 डिब्बा में पैक्ड निमाड़ अमृत वेजिटेबल आइल और रिफाइंड सोयाबीन आइल खान पान व फार्च्यून तेल के खाली लगभग 10 डिब्बे पाए गए।वहीं एक स्टील की कोठी में 5 किलो खुला घी भी पाया गया।

इस तरह कुल 456 ली. नकली घी पाया गया। जिसकी बाजार मूल्य 71960 रूपये है।घी में से शंका होने पर जांच के लिए नमूने लिए गए। अधिकारियों ने अमृत वेजिटेबल आयल के 14.5 ली. के 17 टीन के डिब्बो और पैक्ड निमाड़ अमृत वेजिटेबल ऑयल के 5 ली. के डब्बे 12 डब्बे खोलकर 2-2 किलो तथा पैक्ड निमाड़ अमृत वेजिटेबल ऑइल के 500 एमएल में से जांच के लिए नमूने लिए गए। नमूनों की जांच राज्य खाद्य परीक्षण के लिए प्रयोगशाला भोपाल भेजे जाएंगे।वही मामले में 51 वर्षीय पोखरखुर्द के मुकेश काशीराम पाटीदार पर प्रकरण दर्ज किया गया है।

नव भारत न्यूज

Next Post

नागरिकों के छोटे-छोटे सहयोग से ही इंदौर नं. वनः संभागआयुक्त

Wed Nov 24 , 2021
संभाग आयुक्त, आयुक्त, अपर आयुक्त एवं उपायुक्त ने जमा किया निवास का कचरा प्रबंधन शुल्क इंदौर: संभागायुक्त और निगम प्रशासक डॉ. पवन कुमार शर्मा ने आज अपने आवास का कचरा प्रबंधन शुल्क जमा कराते हुए नागरिकों से कर भरने की अपील की. इस अवसर पर सहायक राजस्व अधिकारी महेंद्र राठौर […]