सात राज्यों की 13 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव में 50 से 83 प्रतिशत के बीच मतदान

नयी दिल्ली 10 जुलाई (वार्ता) देश के सात राज्यों की 13 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनावों में बुधवार को 50 से 83 प्रतिशत के बीच मतदान हुआ।

आज सुबह सात बजे से मतदान शुरू हुआ और मतदान शाम छह बजे तक चला। उपचुनाव स्वतंत्र, निष्पक्ष औ शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न कराने के लिए भारी सुरक्षा व्यवस्था का व्यापक प्रबंध किया गया था। जिन सात राज्यों की विधानसभा सीटों पर मतदान कराया जा रहा उनमें पश्चिम बंगाल की चार, हिमाचल की तीन, उत्तराखंड की दो और मध्य प्रदेश, बिहार पंजाब और तमिलनाडु की एक़-एक सीट शामिल है।

पश्चिम बंगाल की जिन चार सीटों पर आज मतदान हो रहा है, उनमें से तीन दक्षिण बंगाल की मानिकतला, रानाघाट दक्षिण और बगदाह सीट तथा चौथी सीट उत्तर बंगाल के उत्तर दिनाजपुर जिले के रायगंज की है।

हिमाचल प्रदेश की देहरा, हमीरपुर और नालागढ़ में उपचुनाव हैं। वर्ष 2022 में प्रदेश के देहरा से निर्दलीय विधायक होशियार सिंह, हमीरपुर से आशीष शर्मा और नालागढ़ से केएल ठाकुर ने विकास कार्यों में कमी का हवाला देते हुए विधानसभा से इस्तीफा दे दिया था। इस उपचुनाव में देहरा विधानसभा क्षेत्र से मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू की पत्नी कमलेश ठाकुर चुनाव लड़ रही हैं। यहां उनका मुकाबला भाजपा के होशियार सिंह के साथ है।

उत्तराखंड की दो सीटों मंगलौर और बद्रीनाथ पर मतदान हो रहा हैं। गत अक्टूबर में बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के विधायक सरवत करीम अंसारी के निधन के बाद मंगलौर विधानसभा सीट खाली हो गई थी। मंगलौर सीट पर कांग्रेस के पूर्व विधायक काजी निजामुद्दीन और बसपा ने सहानुभूति बटोरने के लिए दिवंगत सरवत करीम अंसारी के बेटे उबेदुर रहमान को मैदान में उतारा है। बद्रीनाथ सीट में मुख्य मुकाबला कांग्रेस से भाजपा में शामिल हुए राजेंद्र भंडारी और कांग्रेस के लखपत सिंह भुटोला के बीच है।

तमिलनाडु में विक्रवंडी सीट से विधायक रहे एन पुगाझेंथी का इसी साल अप्रैल में निधन हो गया था। उपचुनाव में अन्नाद्रमुक के मैदान में न होने के कारण राष्ट्रीय जंनतात्रिक गठबंधन की सहयोगी पट्टाली मक्कल काची (पीएमके) ने सी. अंबुमणि को मैदान में उतारा है। द्रमुक ने अन्नियुर शिवा और एनटीके ने अभिनय पोन्नीवलवन को टिकट दिया है,

पंजाब के जालंधर पश्चिम से आम आदमी पार्टी (आप) के टिकट से चुनाव जीतने वाले शीतल अंगुरल मार्च 2024 लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा में शामिल हो गए। वर्ष 2022 विधानसभा चुनाव में भाजपा के टिकट से लड़े मोहिंदर पाल भगत इस बार आप के टिकट से उपचुनाव में उतरे हैं। कांग्रेस ने सुरिंदर कौर को मैदान में उतारा है।

पूर्णिया जिले के रुपौली विधानसभा क्षेत्र से लगातार चार बार विधायक बीमा भारती एक बार फिर चुनाव में उतरी हैं। बीमा भारती 2005 में राजद के टिकट से पहली बार विधायक बनीं, फिर 2010, 2015 और 2020 में जदयू के टिकट से चुनाव में जीत दर्ज की। सुश्री बीमा के खिलाफ शंकर सिंह (लोजपा) मैदान में थे। जो इस बार निर्दलीय चुनाव में उतरे हैं।

मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा की अमरवाड़ा विधानसभा सीट पर लगातार तीन बार से विधायक कमलेश शाह ने 2023 में कांग्रेस के टिकट से चुनाव में जीत दर्ज की। वह छह महीने बाद ही कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा देकर भाजपा में शामिल हो गए। श्री शाह 2013 से इस सीट पर काबिज हैं और अब भाजपा के टिकट पर उपचुनाव में उतरे हैं।

इन सभी सीटों पर मतदान संपन्न होने के बाद 13 जुलाई को चुनाव परिणाम घोषित किये जायेंगे।

उपचुनाव का मतदान प्रतिशत इस प्रकार रहा बिहार के रूपौली में 51.14, हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर में 65.78, नालागढ़ में 78. 82 व देहरा में 63.89, उत्तराखंड के मंगलौर में 68.24, पश्चिम बंगाल के रायगंज में 67.12, मणिकटला 51.39,राणाघाट दक्षिण में 65.37 एवं बगड़ा में 65.15 प्रतिशत मतदान हुआ।

इसी तरह तमिलनाडु के विकारवांडी 82.48,उत्तराखंड के बदरीनाथ विस क्षेत्र में 51.43 और मंगलौर में 68.24 प्रतिशत, मध्य प्रदेश के अमरवाड़ा में 78.71 तथा पंजाब के जालंधर में मतदान का प्रतिशत 51.30 रहा।

Next Post

भाजपा सरकार की नीतियों से युवाओं को नहीं मिल रहा रोजगार : राहुल

Wed Jul 10 , 2024
नयी दिल्ली, 10 जुलाई (वार्ता) कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष तथा लोकसभा में विपक्ष के नेता राहुल गांधी ने बुधवार को कहा कि देश में बेरोजगारी चरम पर पहुंच गई है और भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थानी-आईआईटी जैसे प्रतिष्ठत संस्थानों में पढ़ने वाले बच्चों का भी प्लेसमेंट नहीं हो पा रहा है। श्री […]

You May Like