सरकारी संपत्ति में निजी भागीदारी के विरुद्ध युवा कांग्रेस का प्रदर्शन

नयी दिल्ली, 26 अगस्त (वार्ता) युवा कांग्रेस ने मोदी सरकार की सार्वजनिक संपत्ति में निजी क्षेत्र को भागीदार बनाने की ‘राष्ट्रीय मौद्रीकरण पाइपलाइन’ योजना के विरुद्ध गुरुवार को यहां प्रदर्शन किया और कहा सरकार इसके तहत राष्ट्रीय संपत्ति अपने मित्रों के हवाले कर रही है।
युवा कांग्रेस के अध्यक्ष श्रीनिवास बीवी ने प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि मोदी सरकार की यह मित्रीकरण योजना है और सरकार सारी सरकारी संपत्ति अपने मित्रों को बेच रही है और इससे देश को भारी नुकसान होगा।
उन्होंने कहा कि योजना के तहत सरकार ने सड़क, रेल, एयरपोर्ट, बिजली, गैस, पेट्रोल, खदान, स्टेडियम, गोदाम सब बेच दिया है। मोदी सरकार अपने दो-तीन उद्योगपति मित्रों का एकाधिकार स्थापित करवाने के लिए यह काम कर रही है और देश ने पिछले 70 वर्षों में जो कुछ भी बनाया है उसे उनको बेचा जा रहा है।
देशवासियों के हितों को ताक पर रखकर मोदी सरकार सिर्फ अपना और अपने मित्रों का भला कर रही है।
श्री श्रीनिवास ने कहा कि मोदी सरकार निजीकरण करने की होड़ में देश के साथ विश्वासघात कर रही है। कुछ उद्योगपति मित्रों को छोड़कर मोदी सरकार ने सबकी उम्मीदों और आकांक्षाओं के साथ छल किया है। अच्छे दिन का सपना दिखाकर देश को बर्बादी के दलदल में धकेला जा रहा है। सरकार अल्पकालिक लाभ के लिए दीर्घकालिक लाभ को खत्म कर रही है और यह नीति देश के लिए हानिकारक साबित होगी।
युवा कांग्रेस नेता राहुल राव ने कहा कि प्रधानमंत्री और भाजपा का कहना था कि देश में 70 सालों में कुछ नहीं हुआ है। लेकिन 70 सालों में जो इस देश की पूंजी बनाई गई थी इस सरकार ने उसे बेच दिया है।

नव भारत न्यूज

Next Post

सभी भारतीयों को अफगानिस्तान से वापस लाना सरकार की प्राथमिकता: जयशंकर

Thu Aug 26 , 2021
नयी दिल्ली 26 अगस्त (वार्ता) विदेश मंत्री डा़ॅ एस जयशंकर ने गुरुवार को कहा कि भारत अफगानिस्तान की स्थिति के बारे में अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के साथ निरंतर बातचीत कर रहा है लेकिन अभी सबसे पहली प्राथमिकता बचे हुए भारतीय नागरिकों को वहां से वापस लाने की है। डा़ॅ जयशंकर ने […]