निगम ने जमींदोज किए दो खतरनाक मकान

बड़ा सराफा और चंद्रभागा क्षेत्र में की कार्रवाई

इंदौर:  नगर निगम के रिमूवल विभाग ने शुक्रवार को दो और अतिखतरनाक श्रेणी के मकान धवस्त कर दिए. एक कार्रवाई बड़ा सराफा और दूसरी कार्रवाई चंद्रभागा क्षेत्र में की गई. बड़ा सराफा में कार्रवाई के दौरान एक किराएदार नगर निगम से वैकल्पिक मकान मांगने लगा. अधिकारियों ने उसे फिलहाल विजय नगर क्षेत्र के शेल्टर हाउस भिजवा दिया. एक कार्रवाई बड़ा सराफा में की गई. यहां अधिकारियों की मौजूदगी में गिरधर और महेंद्र सुगंधी का 79 बड़ा सराफा स्थित मकान तोड़ा गया.

उक्त अत्यधिक जर्जर मकान जी प्लस-2 श्रेणी का था और लगभग 30 बाय 70 फीट क्षेत्रफल में बना था. दूसरी कार्रवाई 62 चंद्रभागा स्थित दीपक बिरथरे के मकान पर की गई. करीब 1500 वर्गफीट क्षेत्रफल में बना यह मकान जी प्लस-2 आकार का था. निगम अमले ने पोकलेन मशीन, बुलडोजर और निगमकर्मियों की मदद से दोनों जगह खतरनाक मकान गिराए. कार्यवाही के दौरान भवन अधिकारी अश्विन जनवदे, भवन निरीक्षक आनंद रैदास, रिमूव्हल विभाग के बबलु कल्याणे, रिमूव्हल स्टाफ, अन्य उपस्थित थे. रिमूवल अधिकारी ने बताया कि जुलाई से अतिखतरनाक और खतरनाक श्रेणी के मकानों के खिलाफ शुरू हुई कार्रवाई में अब तक लगभग 20 छोटे-बड़े जर्जर मकान गिराए जा चुके हैं. उल्लेखनीय है कि सर्वे के अनुसार शहर में 164 जर्जर मकानों का पता चला है. इनमें से 27 अतिखतरनाक श्रेणी में हैं.

नव भारत न्यूज

Next Post

पहले गरीब और गरीबों के नाम पर पाखंड था - मोदी

Sat Aug 7 , 2021
भोपाल, 07 अगस्त (वार्ता) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गरीबों के कल्याण के प्रति केंद्र सरकार की प्रतिबद्धता जताते हुए आज कहा कि पहले के कर्ताधर्ताओं और उनकी सरकारों के कार्यकाल के दौरान गरीबों के नाम पर पाखंड किया गया है। श्री मोदी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से ‘प्रधानमंत्री गरीब […]