डेंगू से मौत पर परिजनों को मिले मुआवजा

हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर

जबलपुर:  मप्र हाईकोर्ट में एक जनहित याचिका दायर की गई है। जिसमें कहा गया है कि डेंगू से मौत होने पर मरीजों के परिजनों को मुआवजा दिया जाये। राहत चाही गई कि उक्त मुआवजा डेंगू के नियंत्रण नियमों का पालन न किये जाने वाले लोगों से वसूल कर उन्हें दंडित किया जाये। इसके साथ ही उक्त समयकाल में नियंत्रण कार्य में जुटे, मेडिकल, पैरा मेडिकल, सफाई व अन्य कर्मचारियों की हड़ताल पर रोक लगाई जाये। यह जनहित याचिका नागरिक उपभोक्ता मार्ग दर्शक मंच के अध्यक्ष डॉ. पीजी नाजपांडे व रजत भार्गव की ओर से दायर की गई है।

जिसमें कहा गया कि मप्र व जबलपुर जिले में डेंगू बीमारी ने विकराल रूप धारण कर लिया है। ऐसे समय में हमेशा के उपायो के साथ ही विशेषज्ञ उपाय लागू किया जाना जरूरी है। आवेदकों का कहना है कि बीमारी रोकने के वर्तमान कानूनी नियमों के अलावा सरल, अल्प समयावधि के विशेष नियमों को लागू करना चाहिये था, लेकिन राज्य सरकार पूर्णत: असफल हो गई है। याचिका में राहत चाही गई है कि इन विशेष परिस्थितियों में हर जिला स्तर पर एक्सपर्ट कमेटी का गठन किया जाये।

नगरों में बनी वार्ड कमेटियां व मोहल्ला कमेटियों को भी इस बीमारी के नियंत्रण कार्य में शामिल किया जाये। आरोप है कि पूरे प्रदेश के शहरों में जगह-जगह पानी भरा हुआ है। इतना नहीं याचिका के साथ सीवर लाईन के गड्डों व नालों में भरे हुए पानी के फोटोग्राफ्स भी पेश किये गये है।उक्त मामले में इसी सप्ताह सुनवाई होने की संभावना है। याचिकाकर्ताओं की ओर से अधिवक्ता प्रभात यादव पैरवी करेंगे।

नव भारत न्यूज

Next Post

रखरखाव छोड़ प्रचार किया डिवाइडर पर

Tue Sep 14 , 2021
स्वच्छता सर्वेक्षण के नाम पर दो वर्ष से नगर निगम करा रहा था रंगाई-पुताई, मेयर के मौखिक आदेश पर दिए थे    सागर 13 सितंबर. दो वर्ष पूर्व तत्कालीन नगर पालिक निगम महापौर द्वारा मौखिक आदेश पर शहर की मुख्य सड़कों के डिवाइडरों के सौंद्रयीकरण और रख रखाव का कार्य […]