बाँधवगढ में बरकरार है बाघ बजरंग बाघ की बादशाहत

फेंसिंग को छलांग लगाकर पार्क के भीतर प्रवेश करते कैमरे में हुआ कैद
उमरिया: दुनिया भर में बाघ दर्शन के लिए मशहूर बाँधवगढ टाइगर रिसर्व के ताला कोर परिक्षेत्र के ए पर्यटन रुट में बाघ बजरंग का एक शानदार वीडियो कैमरे में कैद हुआ है जो सोशल मीडिया में काफी लोकप्रिय हो रहा है। बाघ पहले टाइगर रिसर्व की फेंसिंग लांघकर बाहर निकल जाता है लेकिन उस पार जंगली हाथी मौजुद होने के कारण वापस फेंसिंग में छलांग लगाकर वापस पर्यटन जोन की ओर चला आता है वीडियो उसी दौरान का रिकार्ड हुआ है।
बांघवगढ़ का डोमिनिटेड बाघ है बजरंग
अपनी विशाल कदकाठी और आकर्षक शरीर के कारण बजरंग बाघ बाँधवगढ का सबसे डोमिनेटेड बाघ माना जाता है। लंबे और विशालकाय शरीर वाले इस बाघ की बादशाहत भी बाँधवगढ के कोर क्षेत्र के दो तिहाई जंगल से भी ज्यादा जंगल मे बनी हुई है और यह पर्यटकों को सभी पर्यटन जोन में आसानी से दिख जाता है।
चार बाघिनों के साथ तीन परिक्षेत्रों में फैली है बादशाहत
बाँधवगढ के जंगल में बाघ बजरंग की बादशाहत बरकरार है।अपने पिता के भीम के नक्शे कदम पर चलते हुए बजरंग ने भी अपनी टैरेटरि पार्क के तीन कोर परिक्षेत्र में फैला रखी है। वैसे तो बाघों की टैरोटिरि अमूमन 20 से 25 किमी के रेडियस में होती है लेकिन बाघ बजरंग के टैरोटिरि की शुरुआत खितौली परिक्षेत्र के सदानिहा तिराहा से शुरू होती है जो मगधी परिक्षेत्र होते हुए मुख्य पर्यटन जोन ताला परिक्षेत्र के राजबहरा, चक्रधरा,और तमरिहा तक जाती है,जो बाँधवगढ टाइगर रिजर्व के कुल कोर क्षेत्र के दो तिहाई हिस्से भी ज्यादा है। बजरंग की चार रानियां हैं जिनके अलग-अलग शावक हैं बजरंग ने खितौली में रा फीमेल,एवं दररहा बच्ची को ताला परिक्षेत्र में चक्रधरा फीमेल एवं मगधी जोन में बफर वाली फीमेल को अपनी रानी बना रखा है।

नव भारत न्यूज

Next Post

कहीं स्टॅाक में गड़बड़ी तो कहीं दुकानें बंद, राशन का वितरण नहीं

Wed Nov 23 , 2022
गरीबों के हक पर डाका: जांच में मिली अनियमित्तयायें, प्रकरण दर्ज जबलपुर: गरीबों के हक पर डाका डालने के लिए शासकीय उचित मूल्य दुकानों के संचालक नए-नए हथकंडे अपना रहे है। अनुविभागीय अधिकारी शहपुरा के साथ पुलिस ने शासकीय उचित मूल्य दुकानों की जांच की तो अनेक अनियमित्तायें पाये मिली। […]