कांग्रेस जिलाध्यक्ष व प्रदेश महामंत्री के इस्तीफों से कांग्रेस गर्माई

देवेंद्र को मनाने अशोक सिंह उनके घर पहुंचे, दोनों नेताओं ने इस्तीफों से किया इंकार लेकिन जताई नाराजगी
ग्वालियर: ग्वालियर में नगरीय निकाय चुनावों के बीच कांग्रेस में अंदरखाने इस्तीफों की सुगबुगाहट ने आज पार्टी के गलियारों को गरमा दिया। शहर जिला कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. देवेन्द्र शर्मा , प्रदेश महासचिव सुनील शर्मा सहित कुछ अन्य नेताओं के अपने पदों से इस्तीफे की सोशल मीडिया पर चली खबरों के बाद डॉ. देवेन्द्र शर्मा का फोन शाम तक बंद रहा। रात में नवभारत से बातचीत में उन्होंने अपने इस्तीफे की खबरों को असत्य करार दिया। उन्होंने कहा कि वे पार्टी अध्यक्ष की जिम्मेदारी को अभी भी निभा रहे हैं।

खबर यह भी है कि भले ही उन्होंने अपने इस्तीफे से इंकार किया है लेकिन पार्टी मंच पर अपनी नाराजगी से अवगत करा दिया है। यही वजह है कि उनकी नाराजगी व इस्तीफे की खबरों के बाद वरिष्ठ नेता अशोक सिंह पार्टी जिलाध्यक्ष देवेंद्र शर्मा के कमलसिंह का बाग स्थित निवास पर पहुंचे एवं उनकी नाराजगी की वजह जानी। अशोक सिंह इस मामले पर चुप हैं लेकिन उन्होंने प्रदेश नेतृत्व को सभी विषयों से अवगत करा दिया है।
उधर प्रदेश कांग्रेस महासचिव सुनील शर्मा ने इस संवाददाता से कहा कि उनके द्वारा इस्तीफा देने जैसी कोई बात नहीं है। में आज भी प्रचार अभियान में हूं।ज्ञातव्य है कि आज सुबह से शहर में सोशल मीडिया व कुछ चैनलों पर कांग्रेस नेताओं के इस्तीफे की खबर चल रही है, लेकिन इसकी पुष्टि कोई नहीं कर रहा है। वहीं कांग्रेस प्रवक्ता राजकुमार शर्मा का कहना है कि कोई इस्तीफा लिखित में मिले तभी मानेंगे, यह केवल कपोल कल्पना है।हालांकि इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता है कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों के विद्रोही स्वरों से पार्टी संकट में दिखने लगी है। अपुष्ट सूत्रों के अनुसार कांग्रेस के शहर अध्यक्ष देवेंद्र शर्मा ने पूर्व घोषित प्रत्याशियों को बदले जाने के दबाव को कार्यकर्ताओं के विद्रोह का कारण बताया है। दावा किया जा रहा है कि शर्मा ने इस तरह का दबाव बने रहने पर स्वयं भी पार्टी छोड़ने की चेतावनी भी दे दी थी। सूत्रों के अनुसार शहर अध्यक्ष शर्मा प्रत्याशी बदलने के दबाव से असंतुष्ट बताए जा रहे हैं। देवेंद्र शर्मा ने कुछ संवाद माध्यमों से चर्चा में असंतोष को स्वीकार किया है।
दिग्विजय सिंह को रात में आना था, दौरा स्थगित
ग्वालियर चंबल संभाग में नगरीय चुनाव को लेकर कांग्रेस के अंदर विद्रोह के बाद नेताओं को मनाने के लिए पूर्व मुख्यमन्त्री दिग्विजय सिंहआज मध्यरात्रि ग्वालियर आ रहे थे परंतु ज्ञात हुआ है कि सिंह ने कुछ नेताओं एवं कार्यकर्ताओं से दूरभाष पर चर्चा की उसके बाद उन्होंने यह आकस्मिक प्रवास स्थगित करने का निर्णय लिया। वह अब अगले सप्ताह ग्वालियर आएंगे. कांग्रेस में अंतर कलह का दिग्विजय सिंह ने गहन संज्ञान लिया है। डैमेज कंट्रोल के लिए उनका कल कार्यकर्ताओं से मिलने का कार्यक्रम था। बताया गया था कि वे जिला कांग्रेस अध्यक्ष देवेंद्र शर्मा के घर भी जाएंगे। ‌बताया जाता है कि कांग्रेस नेताओं ने कमलनाथ को ईमेल से इस्तीफे भेजे है।

नव भारत न्यूज

Next Post

42 दिन बाद एक व्यक्ति फिर मिला कोरोना पॉजीटिव

Wed Jun 22 , 2022
सिंगरौली: जिले में 42 दिन के बाद एक व्यक्ति फिर से कोरोना पॉजीटिव मिला है। जिसके बाद एक बार फिर प्रशासन एलर्ट मोड में आ गया है।मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के कार्यालय से जारी डेली मीडिया हेल्थ बुलेटिन के अनुसार आज मंगलवार को एक व्यक्ति कोरोना पॉजीटिव मिला है। […]