‘यह नहीं माना जा सकता कि कोरोना की दूसरी लहर में लापरवाही से मौतें हुई’

नयी दिल्ली, 08 सितम्बर (वार्ता) उच्चतम न्यायालय ने कोरोना में हुई मौत को चिकित्सकीय लापरवाही मानकर मुआवजे का अनुरोध करने वाली याचिका पर विचार करने से इनकार करते हुए बुधवार को कहा कि अदालतें यह मानकर नहीं चल सकतीं कि वैश्विक महामारी की दूसरी लहर के दौरान कोविड-19 से हुई सभी मौतें लापरवाही के कारण हुई।
न्यायमूर्ति डी वाई चंद्रचूड़, न्यायमूर्ति विक्रम नाथ और न्यायमूर्ति हिमा कोहली की खंडपीठ ने दीपक राज सिंह की याचिका खारिज करते हुए कहा कि वह अपने सुझावों के साथ सक्षम प्राधिकारियों को अपना प्रतिनिधित्व दें।

नव भारत न्यूज

Next Post

अफगानिस्तान की नई सरकार

Thu Sep 9 , 2021
बंदूक के जोर पर काबुल की सत्ता पर काबिज हुए तालिबान ने हार्डकोर हथियारबंद तालिबानी नेताओं साथ अपनी नई सरकार का एलान किया है. इस सरकार में मुल्ला मोहम्मद हसन अखुंद प्रधानमंत्री होंगे, वहीं उप प्रधानमंत्री के तौर पर मुल्ला अब्दुल गनी बरादर के नाम की घोषणा की गई है. […]