दो बेटियों के साथ मां ने खाया जहर, चार माह की मासूम की मौत, बड़ी बेटी और मां की हालत नाजुक,रेफर

नवभारत न्यूज

दमोह. जिले के हिंडोरिया थाना क्षेत्र की बांदकपुर चौकी राजनगर के पास टपरियाऊ गांव निवासी एक नवविवाहिता 25 वर्षीय महिला ने बुधवार सुबह अपनी दो बेटियों को जहर खिलाने के बाद खुद भी जहर खा लिया. गंभीर हालत में तीनों को परिजन इलाज के लिए जिला अस्पताल लेकर पहुंचे, जहां चार माह की मासूम ने दम तोड़ दिया. 25 वर्षीय महिला रुक्मणी यादव और उसकी 2 साल की बेटी जिज्ञासा को ड्यूटी रत महिला डॉक्टर मंडल, मनीष सराफ, डॉक्टर सुनील जैन के अलावा और भी महिला डॉक्टरों ने नर्सों व वार्ड वायों के सहयोग से तत्काल प्राथमिक उपचार दिया. उनकी हालत नाजुक थी,इसलिए दोनों को जबलपुर मेडिकल कॉलेज रेफर किया गया है.जो वेंटिलेटर पर है. घटना का कारण पारिवारिक विवाद बताया जा रहा है.तीनों को जिला अस्पताल लेकर पहुंचे, महिला के जेठ आशीष यादव ने बताया कि पता नहीं किस कारण से उनकी बहू ने जहर खाया है. मेरा छोटा भाई मनीष उस समय खेत में काम कर रहा था. परिवार के बाकी लोग भी अपने-अपने काम में व्यस्त थे. अचानक खबर मिली तो जाकर देखा कि बहु रुक्मण ने जहर खा लिया है और उल्टियां कर रही है. बच्चों की हालत भी ठीक नहीं थी, इसलिए सभी को लेकर तत्काल जिला अस्पताल पहुंचे. घटना की खबर मिलने के बाद सीएसपी अभिषेक तिवारी, टीआई देहात रावेंद्र सिंह बागरी, चौकी प्रभारी जबलपुर नाका अभय सिंह, टीआई हिंडोरिया अमित गौतम सहित पुलिस भी जिला अस्पताल पहुंची और परिवार के लोगों से जानकारी जुटाई. अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि महिला ने इस तरह का जानलेवा कदम क्यों उठाया है.ड्यूटी डाक्टर मनीष सराफ ने बताया की मां और उसकी दो बेटियों को जहर का सेवन करने पर जिला अस्पताल लाया गया था.जहां एक बच्ची की मौत हो गई और मां,बेटी को जबलपुर रेफर किया गया. परिवार के लोगों ने घरेलू विवाद का कारण बताया है.

Next Post

आईटीबीपी ने लद्दाख में तस्करों से सोने की 108 छड़ें जब्त की

Wed Jul 10 , 2024
नयी दिल्ली 10 जुलाई (वार्ता) भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) ने पूर्वी लद्दाख के दक्षिणी सेक्टर से दो लोगों को गिरफ्तार कर उनके पास से लगभग 108 किलोग्राम वजन की 108 सोने की छड़ें और चीन के खाद्य पदार्थों सहित अन्य सामान जब्त किया है। आईटीबीपी ने बुधवार को यहां बताया […]

You May Like