ग्वालियर-भिंड नेशनल हाइवे पर युवक को गोली लगी

घायल युवक की पुलिस को 18 लाख की चोरी के मामले में थी तलाश

भिंड :  मेहगांव में ग्वालियर-भिंड नेशनल हाइवे 719 पर पीस कालेज के पास एक युवक को गोली लगी है। युवक का कहना है कि दो बाइक से आए चार आरोपितों ने उसे पिस्टल से गोली मारी है। गोली पेट में बाईं ओर लगी है। घायल युवक की पुलिस को बाबा के आश्रम से हुई 18 लाख रुपये की चोरी के मामले में तलाश थी। बाबा ने अपने नाती पर 18 लाख रुपये चोरी का संदेह जाहिर किया था। पुलिस गोली मारने की वारदात को संदिग्ध मान रही है।

देर रात रवि कटारे निवासी विरगवां गांव को पेट में बाईं ओर गोली लगने से घायल अवस्था में एंबुलेंस से मेहगांव अस्पताल पहुंचाया गया। डाक्टर ने पुलिस को बुलाकर इलाज शुरू किया। पुलिस को रवि ने बताया कि वह भिंड लहार रोड पर रहता है। रविवार को मेहगांव में रिश्तेदार के घर जा रहा था। रिश्तेदार का घर भूल गया तो पीस कालेज की ओर चला गया। कालेज के पास ग्वालियर की ओर से चार आरोपित दो बाइक से आए। रवि का कहना है कि इनमें दो आरोपित उसके ताऊ के बेटे हैं। इनसे पुरानी रंजिश है। चारों आरोपितों ने घेरकर पिस्टल से गोली मार दी। गोली मारने के बाद आरोपित भाग निकले। आसपास के लोगों ने काल कर एंबुलेंस को बुलाया। एंबुलेंस से रवि इलाज के लिए मेहगांव पहुंचा।

रवि की कहानी पर विश्वास नहीं कर रही पुलिस: दरअसल करीब सप्ताह भर पहले विरगवां गांव निवासी वासुदेव कटारे मेहगांव थाने पहुंचे थे। उन्होंने पुलिस को बताया कि गांव में मंदिर के आश्रम में 18 लाख रुपये रखे हुए थे। रात में उनकी यह रकम चोरी हो गई। वासुदेव कटारे ने अपने नाती रवि कटारे पर संदेह जताया था। दस दिन पहले तक रवि उनके साथ रह रहा था। किसी बात पर नाराज होकर उन्होंने रवि को भगा दिया था। इसी वारदात में पूछताछ के लिए पुलिस को रवि की तलाश थी। रवि पुलिस को मिला तो, लेकिन घायल अवस्था में मिला है।

इसलिए पुलिस गोली लगने की उसकी कहानी पर पूरी तरह से विश्वास नहीं कर रही है।गोली से घायल रवि कटारे की कहानी के बाद एफएसएल टीम ने पड़ताल शुरू की है। टीम ने रवि के हाथों को वाश करवाया है। इसकी जांच से यह स्पष्ट हो जाएगा कि रवि ने गोली खुद तो नहीं मारी है। इसके अलावा पुलिस भी कई अन्य एंगल से जांच कर रही है। मेहगांव टीआइ डीबीएस तोमर का कहना है कि वारदात संदिग्ध नजर आ रही है। वे पूरी वारदात की पड़ताल कर रहे हैं।

नव भारत न्यूज

Next Post

NSUI के राष्ट्रीय संयोजक ने मृत व्यक्ति के बनाए फर्जी डॉक्यूमेंट और GDA से ले लिया प्लॉट, FIR के बाद गिरफ्तार

Tue Oct 12 , 2021
ग्वालियर:  जीवाजी यूनिवर्सिटी के छात्र नेता और NSUI के राष्ट्रीय संयोजक सचिन द्विवेदी उर्फ सचिन त्रिवेदी को ग्वालियर की पड़ाव थाना पुलिस ने धोखाधड़ी के मामले में गिरफ्तार किया है। राजेन्द्र जैन नामक व्यक्ति को ग्वालियर विकास प्राधिकरण(GDA) ने शताब्दीपुरम में अपना घर योजना में 1988 को एक प्लॉट का […]