डोडा के जंगलों में छिपे आतंकवादियों खिलाफ तलाशी अभियान तेज

जम्मू, 10 जुलाई (वार्ता) जम्मू-कश्मीर के डोडा जिले के जंगलों में छिपे आतंकवादियों को पकड़ने के लिए सुरक्षा बलों की संयुक्त टीम ने बुधवार को तलाशी अभियान तेज कर दिया।

आधिकारिक सूत्रों ने कहा, “डोडा में आज तड़के फिर तलाशी अभियान शुरू किया गया। कल देर रात अंधेरे के कारण तलाशी अभियान रोका गया था। ” उन्होंने कहा कि आतंकवादियों के बारे में फिलहाल कुछ पता नहीं चल पाया है।

सूत्रों के अनुसार डोडा के जंगलों में अंधेरे और भारी बारिश के कारण तलाशी अभियान निलंबित कर दिया गया था। मंगलवार को उस क्षेत्र में आतंकवादियों और सुरक्षाबलों के बीच दो घंटे से अधिक समय तक गोलीबारी हुई, जिसके बाद आतंकवादी घने जंगलों वाले गोली-गाडी इलाके में भाग गए।

कठुआ जिले के मछेड़ी क्षेत्र के लोहाई ब्लॉक के बदनोट गांव में सोमवार को ट्रक पर आतंकवादियों के हमले के बाद हुई गोलीबारी में सेना के पांच जवान शहीद हो गए और कई घायल हो गए।

उल्लेखनीय है कि चत्तरगल्ला में एक संयुक्त जांच चौकी पर 11 जून को आतंकवादियों के हमले में सुरक्षाबल के छह जवान घायल हो गए थे और 12 जून को गंदोह इलाके में कोटा टॉप पर आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ में एक पुलिस कर्मी घायल हो गया था।

डोडा जिले के एक वन क्षेत्र में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ के दौरान 26 जून को तीन आतंकवादी मारे गए थे।

केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा स्थितियों की समीक्षा के लिए राष्ट्रीय राजधानी में एक उच्च स्तरीय बैठक की अध्यक्षता की।

Next Post

भारत और आस्ट्रिया के संबंध रणनीतिक साझेदारी में बदलेंगे : मोदी

Wed Jul 10 , 2024
विएना 10 जुलाई (वार्ता) प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और ऑस्ट्रिया के चांसलर कार्ल नेहैमर ने बुधवार को यहां आपसी सहयोग को और मजबूत करने तथा संबंधों को रणनीतिक साझेदारी के स्तर तक ले जाने का निर्णय लिया। आस्ट्रिया की यात्रा पर आये श्री मोदी ने चांसलर नेहैमर के साथ संवाददाता सम्मेलन […]

You May Like