पूर्ण गरिमा, भव्यता और दिव्यता के साथ होगा कुंडलपुर पंच कल्याणक प्रतिष्ठा महोत्सव: शिवराज

भोपाल, 14 फरवरी (वार्ता) मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कुंडलपुर पंच-कल्याणक प्रतिष्ठा महोत्सव का आयोजन हम सबके लिए गर्व का विषय है। इसे पूर्ण गरिमा, भव्यता और दिव्यता के साथ आयोजित किया जाए। आयोजन स्थल पर अनुशासन और व्यवस्था बनाए रखने की सभी आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाएं।
श्री चौहान दमोह जिले में कुंडलपुर पंच-कल्याणक प्रतिष्ठा महोत्सव के संबंध में निवास कार्यालय से बैठक को संबोधित कर रहे थे। केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल ने वर्चुअल सहभागिता की। मुख्यमंत्री ने कहा कि आयोजन स्थल पर स्वच्छता, सुरक्षा, पेयजल, आवास, स्वास्थ्य आदि सुविधा के लिए सजगता और संवेदनशीलता आवश्यक है। परम पूज्य आचार्य श्री विद्या सागर जी महाराज हम सबके श्रद्धा के केंद्र हैं। समिति के साथ सामंजस्य बनाकर कार्यक्रम को भव्य बनाएं।
मुख्यमंत्री ने आवश्यक व्यवस्थाओं के संबंध में जानकारी प्राप्त की। बताया गया कि कार्यक्रम स्थल पर प्रतिदिन दो बार 20 लाख लीटर पानी की व्यवस्था की जा रही है। आयोजन स्थल पर 30 वाटर टैंकर और 6 स्थान पर फायर ब्रिगेड की व्यवस्था की गई है। साफ-सफाई के लिए 500 कर्मचारी, 25 चलित शौचालय और 10 बड़े कंटेनर उपलब्ध हैं।
कुंडलपुर क्षेत्र से लगे 8 नगरों में 9298 आवास की अस्थाई व्यवस्था के साथ ही दमोह में 200 छोटे घरों की व्यवस्था है। कुंडलपुर में 10 बिस्तरीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, पटेरा, हटा और हिंडोरिया में अस्पताल के साथ जिला चिकित्सालय में भी आवश्यक स्वास्थ्य व्यवस्थाएँ की गई हैं। निजी, शासकीय और आयुष डॉक्टरों की टीम 24 घंटे उपलब्ध रहेगी। आपातकालीन सुविधा के लिए 5 एंबुलेंस और 4 अतिरिक्त 108 एम्बुलेंस की व्यवस्था है।
सुरक्षा व्यवस्था के लिए कार्यक्रम स्थल पर पुलिस कंट्रोल रूम और अस्थाई पुलिस चौकी बनाई गई है। व्यवस्था में 600 पुलिस जवान तैनात रहेंगे। साथ ही यातायात और पार्किंग की भी बेहतर व्यवस्था की गई है। आयोजन स्थल पर 200 सीसीटीवी कैमरे और 200 फायर फाइटिंग उपकरण उपलब्ध रहेंगे। चौबीस घंटे बिजली उपलब्ध कराने के उद्देश्य से 1225 केव्ही (980 किलोवाट) का अस्थाई विद्युत स्टेशन, 200 केव्ही के 13 ट्रांसफार्मर और 100 केव्ही के एक ट्रांसफार्मर की व्यवस्था की गयी है।
दमोह जिले के कुंडलपुर में भगवान आदिनाथ की प्रतिमा का महामस्ताभिषेक एवं पंच-कल्याणक महोत्सव 16 से 23 फरवरी तक किया जा रहा है। अपर मुख्य सचिव लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मलय श्रीवास्तव, प्रमुख सचिव लोक निर्माण नीरज मण्डलोई, प्रमुख सचिव ऊर्जा संजय दुबे, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री मनीष रस्तोगी और प्रमुख सचिव नगरीय विकास मनीष सिंह उपस्थित थे। सागर के संभागीय तथा दमोह के जिला स्तरीय अधिकारी भी वर्चुअली सम्मिलित हुए।

नव भारत न्यूज

Next Post

शांति की पहल करें संयुक्त राष्ट्र संघ

Tue Feb 15 , 2022
रूस और अमेरिका की जिद के कारण दुनिया तीसरे विश्वयुद्ध के मुहाने पर खड़ी है. ऐसे समय जब कोरोना महामारी ने लाखों लोगों को लील लिया और अनेक देशों की अर्थव्यवस्था में तबाह कर दी, विश्व एक और युद्ध झेलने की स्थिति में नहीं है. इस संबंध में संयुक्त राष्ट्र […]