Breaking News :

भोपाल,  हवाला कारोबार की राशि ले जाते पकड़ाए आरोपियों के बारे में नया खुलासा हुआ है. दोनों ही आरोपी पाकिस्तान के रहने वाले हैं और भोपाल में अनाधिकृत रूप से रह रहे थे. वहीं पुलिस को हवाला के तहत कारोबार से जुड़े व्यापारियों के संबंध में भी महत्वपूर्ण जानकारी मिली है. पुलिस इन व्यापारियों पर जल्द कार्रवाई कर सकती है. गौरतलब है कि मंगलवारा थाना प्रभारी सुदेश तिवारी ने हवाला कारोबार के तहत मुंबई 80 लाख रूपए ले जा रहे दयानंद कुकरेजा और अशोक भदवानी को गिरफ्तार किया था. पुलिस ने जब पड़ताल की तो सामने आया कि पकड़े गए दोनों आरोपी दयानंद कुकरेजा और अशोक भदवानी पाकिस्तानी नागरिक हैं और एक लंबे समय से परिवार सहित भोपाल में रह रहे थे. बताया जा रहा है कि दयानंद आत्मज नोतरमल कुकेरजा वर्तमान निवासी ईदगाह हिल्स अपने परिवार के साथ वर्ष 1990 में पाकिस्तान से टूरिस्ट वीजा पर भोपाल आया था. वहीं अशोक भदवानी निवासी न्यू सिंधी कॉलोनी बैरसिया रोड़ पाकिस्तान से वर्ष 2016 में भोपाल आया था. दोनों ही दिखाने के लिए खजूर और मसाले की दुकान चलाते थे. इनके विरूद्व पुलिस ने अवैध रूप से रहने को लेकर मामला दर्ज कर लिया है. बताया जा रहा है कि दयानंद कुकरेजा पहले भी एक अपराधिक मामले में गिरफ्तार हो चुका है. पुलिस इस बात की जांच कर रही है कि गिरफ्तार होने के बाद दयानंद कुकरेजा और उसके परिवार वालों को वापस पाकिस्तान क्यों नहीं भेजा गया. प्रारंभिक जांच में इन दोनों आरोपियों के पाकिस्तान और दुबई में भारत को अस्थिर करने वाली ताकतों के साथ संबंध होना भी पता चला है. पुलिस इस बारे में भी जांच कर रही है."/> भोपाल,  हवाला कारोबार की राशि ले जाते पकड़ाए आरोपियों के बारे में नया खुलासा हुआ है. दोनों ही आरोपी पाकिस्तान के रहने वाले हैं और भोपाल में अनाधिकृत रूप से रह रहे थे. वहीं पुलिस को हवाला के तहत कारोबार से जुड़े व्यापारियों के संबंध में भी महत्वपूर्ण जानकारी मिली है. पुलिस इन व्यापारियों पर जल्द कार्रवाई कर सकती है. गौरतलब है कि मंगलवारा थाना प्रभारी सुदेश तिवारी ने हवाला कारोबार के तहत मुंबई 80 लाख रूपए ले जा रहे दयानंद कुकरेजा और अशोक भदवानी को गिरफ्तार किया था. पुलिस ने जब पड़ताल की तो सामने आया कि पकड़े गए दोनों आरोपी दयानंद कुकरेजा और अशोक भदवानी पाकिस्तानी नागरिक हैं और एक लंबे समय से परिवार सहित भोपाल में रह रहे थे. बताया जा रहा है कि दयानंद आत्मज नोतरमल कुकेरजा वर्तमान निवासी ईदगाह हिल्स अपने परिवार के साथ वर्ष 1990 में पाकिस्तान से टूरिस्ट वीजा पर भोपाल आया था. वहीं अशोक भदवानी निवासी न्यू सिंधी कॉलोनी बैरसिया रोड़ पाकिस्तान से वर्ष 2016 में भोपाल आया था. दोनों ही दिखाने के लिए खजूर और मसाले की दुकान चलाते थे. इनके विरूद्व पुलिस ने अवैध रूप से रहने को लेकर मामला दर्ज कर लिया है. बताया जा रहा है कि दयानंद कुकरेजा पहले भी एक अपराधिक मामले में गिरफ्तार हो चुका है. पुलिस इस बात की जांच कर रही है कि गिरफ्तार होने के बाद दयानंद कुकरेजा और उसके परिवार वालों को वापस पाकिस्तान क्यों नहीं भेजा गया. प्रारंभिक जांच में इन दोनों आरोपियों के पाकिस्तान और दुबई में भारत को अस्थिर करने वाली ताकतों के साथ संबंध होना भी पता चला है. पुलिस इस बारे में भी जांच कर रही है."/> भोपाल,  हवाला कारोबार की राशि ले जाते पकड़ाए आरोपियों के बारे में नया खुलासा हुआ है. दोनों ही आरोपी पाकिस्तान के रहने वाले हैं और भोपाल में अनाधिकृत रूप से रह रहे थे. वहीं पुलिस को हवाला के तहत कारोबार से जुड़े व्यापारियों के संबंध में भी महत्वपूर्ण जानकारी मिली है. पुलिस इन व्यापारियों पर जल्द कार्रवाई कर सकती है. गौरतलब है कि मंगलवारा थाना प्रभारी सुदेश तिवारी ने हवाला कारोबार के तहत मुंबई 80 लाख रूपए ले जा रहे दयानंद कुकरेजा और अशोक भदवानी को गिरफ्तार किया था. पुलिस ने जब पड़ताल की तो सामने आया कि पकड़े गए दोनों आरोपी दयानंद कुकरेजा और अशोक भदवानी पाकिस्तानी नागरिक हैं और एक लंबे समय से परिवार सहित भोपाल में रह रहे थे. बताया जा रहा है कि दयानंद आत्मज नोतरमल कुकेरजा वर्तमान निवासी ईदगाह हिल्स अपने परिवार के साथ वर्ष 1990 में पाकिस्तान से टूरिस्ट वीजा पर भोपाल आया था. वहीं अशोक भदवानी निवासी न्यू सिंधी कॉलोनी बैरसिया रोड़ पाकिस्तान से वर्ष 2016 में भोपाल आया था. दोनों ही दिखाने के लिए खजूर और मसाले की दुकान चलाते थे. इनके विरूद्व पुलिस ने अवैध रूप से रहने को लेकर मामला दर्ज कर लिया है. बताया जा रहा है कि दयानंद कुकरेजा पहले भी एक अपराधिक मामले में गिरफ्तार हो चुका है. पुलिस इस बात की जांच कर रही है कि गिरफ्तार होने के बाद दयानंद कुकरेजा और उसके परिवार वालों को वापस पाकिस्तान क्यों नहीं भेजा गया. प्रारंभिक जांच में इन दोनों आरोपियों के पाकिस्तान और दुबई में भारत को अस्थिर करने वाली ताकतों के साथ संबंध होना भी पता चला है. पुलिस इस बारे में भी जांच कर रही है.">

हवाला कांड : पाकिस्तान के रहने वाले हैं दोनों आरोपी

2017/10/16



भोपाल,  हवाला कारोबार की राशि ले जाते पकड़ाए आरोपियों के बारे में नया खुलासा हुआ है. दोनों ही आरोपी पाकिस्तान के रहने वाले हैं और भोपाल में अनाधिकृत रूप से रह रहे थे. वहीं पुलिस को हवाला के तहत कारोबार से जुड़े व्यापारियों के संबंध में भी महत्वपूर्ण जानकारी मिली है. पुलिस इन व्यापारियों पर जल्द कार्रवाई कर सकती है. गौरतलब है कि मंगलवारा थाना प्रभारी सुदेश तिवारी ने हवाला कारोबार के तहत मुंबई 80 लाख रूपए ले जा रहे दयानंद कुकरेजा और अशोक भदवानी को गिरफ्तार किया था. पुलिस ने जब पड़ताल की तो सामने आया कि पकड़े गए दोनों आरोपी दयानंद कुकरेजा और अशोक भदवानी पाकिस्तानी नागरिक हैं और एक लंबे समय से परिवार सहित भोपाल में रह रहे थे. बताया जा रहा है कि दयानंद आत्मज नोतरमल कुकेरजा वर्तमान निवासी ईदगाह हिल्स अपने परिवार के साथ वर्ष 1990 में पाकिस्तान से टूरिस्ट वीजा पर भोपाल आया था. वहीं अशोक भदवानी निवासी न्यू सिंधी कॉलोनी बैरसिया रोड़ पाकिस्तान से वर्ष 2016 में भोपाल आया था. दोनों ही दिखाने के लिए खजूर और मसाले की दुकान चलाते थे. इनके विरूद्व पुलिस ने अवैध रूप से रहने को लेकर मामला दर्ज कर लिया है. बताया जा रहा है कि दयानंद कुकरेजा पहले भी एक अपराधिक मामले में गिरफ्तार हो चुका है. पुलिस इस बात की जांच कर रही है कि गिरफ्तार होने के बाद दयानंद कुकरेजा और उसके परिवार वालों को वापस पाकिस्तान क्यों नहीं भेजा गया. प्रारंभिक जांच में इन दोनों आरोपियों के पाकिस्तान और दुबई में भारत को अस्थिर करने वाली ताकतों के साथ संबंध होना भी पता चला है. पुलिस इस बारे में भी जांच कर रही है.


Opinions expressed in the comments are not reflective of Nava Bharat. Comments are moderated automatically.

Related Posts