Breaking News :

ट्रामा यूनिट भी शिफ्ट हुआ

नवभारत न्यूज भोपाल, लम्बे इंतजार के बाद आखिरकार राजधानी के सबसे बड़े हमीदिया अस्पताल में नव निर्मित इमरजेंसी भवन में कामकाज शुरू हो गया. अब यहां आपातकालीन सेवाओं के साथ ही अस्थि रोग विभाग एवं ट्रामा सेन्टर की सुविधायें भी मरीजों को मिल सकेंगी. करीब 47 करोड़ की लागत वाले इस भवन में सीटी स्केन व पैथोलॉजी की सुविधा भी मिलेगी. सोमवार से सर्जरी एवं अस्थि रोग विभाग की ओपीडी को शुरू कर दिया गया है. बिल्डिंग का औपचारिक उद्घाटन 26 जनवरी को होगा. प्राप्त जानकारी के अनुसार ट्रामा एवं इमरजेंसी का कार्य एक से दो महीने में शुरू हो जायेगा एवं नई बिल्डिंग में 6 डिपोर्टमेंट स्थापित किये जायेंगे. अभी जिस तरह से हमीदिया अस्पताल में मरीजों को इमरजेंसी सेवाओं के दौरान इधर से उधर भटकना पड़ता था, अब नई बिल्डिंग में ट्रामा एवं इमरजेंसी आ जाने से भटकना नहीं पड़ेगा. मरीजों को इमरजेंसी संबंधी सभी सुविधाएं इस ट्रामा एवं इमरजेंसी विभाग की नई बिङ्क्षल्डग में आसानी से उपलब्ध हो सकेंगी. इस बिल्डिंग में पैथालॉजी, सीटी स्केन, एक्स-रे, ओटी, आईसीयू आदि विभाग भी स्थापित होंगे. यह बिल्डिंग पांच मंजिला है, जहां ट्रामा एवं इमरजेंसी संबंधित मरीज की जांचें एवं आईसीयू वार्ड आदि की सुविधा उपलब्ध रहेगी. इस बिल्डिंग में कुछ सामान आना शेष है, जिससे यह पूरी तरह चालू हो सके पर सामान आने में कुछ समय अभी शेष होने से ट्रामा एवं इमरजेंसी यूनिट शुरू होने में समय लग रहा है."/>

ट्रामा यूनिट भी शिफ्ट हुआ

नवभारत न्यूज भोपाल, लम्बे इंतजार के बाद आखिरकार राजधानी के सबसे बड़े हमीदिया अस्पताल में नव निर्मित इमरजेंसी भवन में कामकाज शुरू हो गया. अब यहां आपातकालीन सेवाओं के साथ ही अस्थि रोग विभाग एवं ट्रामा सेन्टर की सुविधायें भी मरीजों को मिल सकेंगी. करीब 47 करोड़ की लागत वाले इस भवन में सीटी स्केन व पैथोलॉजी की सुविधा भी मिलेगी. सोमवार से सर्जरी एवं अस्थि रोग विभाग की ओपीडी को शुरू कर दिया गया है. बिल्डिंग का औपचारिक उद्घाटन 26 जनवरी को होगा. प्राप्त जानकारी के अनुसार ट्रामा एवं इमरजेंसी का कार्य एक से दो महीने में शुरू हो जायेगा एवं नई बिल्डिंग में 6 डिपोर्टमेंट स्थापित किये जायेंगे. अभी जिस तरह से हमीदिया अस्पताल में मरीजों को इमरजेंसी सेवाओं के दौरान इधर से उधर भटकना पड़ता था, अब नई बिल्डिंग में ट्रामा एवं इमरजेंसी आ जाने से भटकना नहीं पड़ेगा. मरीजों को इमरजेंसी संबंधी सभी सुविधाएं इस ट्रामा एवं इमरजेंसी विभाग की नई बिङ्क्षल्डग में आसानी से उपलब्ध हो सकेंगी. इस बिल्डिंग में पैथालॉजी, सीटी स्केन, एक्स-रे, ओटी, आईसीयू आदि विभाग भी स्थापित होंगे. यह बिल्डिंग पांच मंजिला है, जहां ट्रामा एवं इमरजेंसी संबंधित मरीज की जांचें एवं आईसीयू वार्ड आदि की सुविधा उपलब्ध रहेगी. इस बिल्डिंग में कुछ सामान आना शेष है, जिससे यह पूरी तरह चालू हो सके पर सामान आने में कुछ समय अभी शेष होने से ट्रामा एवं इमरजेंसी यूनिट शुरू होने में समय लग रहा है."/>

ट्रामा यूनिट भी शिफ्ट हुआ

नवभारत न्यूज भोपाल, लम्बे इंतजार के बाद आखिरकार राजधानी के सबसे बड़े हमीदिया अस्पताल में नव निर्मित इमरजेंसी भवन में कामकाज शुरू हो गया. अब यहां आपातकालीन सेवाओं के साथ ही अस्थि रोग विभाग एवं ट्रामा सेन्टर की सुविधायें भी मरीजों को मिल सकेंगी. करीब 47 करोड़ की लागत वाले इस भवन में सीटी स्केन व पैथोलॉजी की सुविधा भी मिलेगी. सोमवार से सर्जरी एवं अस्थि रोग विभाग की ओपीडी को शुरू कर दिया गया है. बिल्डिंग का औपचारिक उद्घाटन 26 जनवरी को होगा. प्राप्त जानकारी के अनुसार ट्रामा एवं इमरजेंसी का कार्य एक से दो महीने में शुरू हो जायेगा एवं नई बिल्डिंग में 6 डिपोर्टमेंट स्थापित किये जायेंगे. अभी जिस तरह से हमीदिया अस्पताल में मरीजों को इमरजेंसी सेवाओं के दौरान इधर से उधर भटकना पड़ता था, अब नई बिल्डिंग में ट्रामा एवं इमरजेंसी आ जाने से भटकना नहीं पड़ेगा. मरीजों को इमरजेंसी संबंधी सभी सुविधाएं इस ट्रामा एवं इमरजेंसी विभाग की नई बिङ्क्षल्डग में आसानी से उपलब्ध हो सकेंगी. इस बिल्डिंग में पैथालॉजी, सीटी स्केन, एक्स-रे, ओटी, आईसीयू आदि विभाग भी स्थापित होंगे. यह बिल्डिंग पांच मंजिला है, जहां ट्रामा एवं इमरजेंसी संबंधित मरीज की जांचें एवं आईसीयू वार्ड आदि की सुविधा उपलब्ध रहेगी. इस बिल्डिंग में कुछ सामान आना शेष है, जिससे यह पूरी तरह चालू हो सके पर सामान आने में कुछ समय अभी शेष होने से ट्रामा एवं इमरजेंसी यूनिट शुरू होने में समय लग रहा है.">

हमीदिया की सेवाएं अब नए भवन में

2018/01/16



ट्रामा यूनिट भी शिफ्ट हुआ

नवभारत न्यूज भोपाल, लम्बे इंतजार के बाद आखिरकार राजधानी के सबसे बड़े हमीदिया अस्पताल में नव निर्मित इमरजेंसी भवन में कामकाज शुरू हो गया. अब यहां आपातकालीन सेवाओं के साथ ही अस्थि रोग विभाग एवं ट्रामा सेन्टर की सुविधायें भी मरीजों को मिल सकेंगी. करीब 47 करोड़ की लागत वाले इस भवन में सीटी स्केन व पैथोलॉजी की सुविधा भी मिलेगी. सोमवार से सर्जरी एवं अस्थि रोग विभाग की ओपीडी को शुरू कर दिया गया है. बिल्डिंग का औपचारिक उद्घाटन 26 जनवरी को होगा. प्राप्त जानकारी के अनुसार ट्रामा एवं इमरजेंसी का कार्य एक से दो महीने में शुरू हो जायेगा एवं नई बिल्डिंग में 6 डिपोर्टमेंट स्थापित किये जायेंगे. अभी जिस तरह से हमीदिया अस्पताल में मरीजों को इमरजेंसी सेवाओं के दौरान इधर से उधर भटकना पड़ता था, अब नई बिल्डिंग में ट्रामा एवं इमरजेंसी आ जाने से भटकना नहीं पड़ेगा. मरीजों को इमरजेंसी संबंधी सभी सुविधाएं इस ट्रामा एवं इमरजेंसी विभाग की नई बिङ्क्षल्डग में आसानी से उपलब्ध हो सकेंगी. इस बिल्डिंग में पैथालॉजी, सीटी स्केन, एक्स-रे, ओटी, आईसीयू आदि विभाग भी स्थापित होंगे. यह बिल्डिंग पांच मंजिला है, जहां ट्रामा एवं इमरजेंसी संबंधित मरीज की जांचें एवं आईसीयू वार्ड आदि की सुविधा उपलब्ध रहेगी. इस बिल्डिंग में कुछ सामान आना शेष है, जिससे यह पूरी तरह चालू हो सके पर सामान आने में कुछ समय अभी शेष होने से ट्रामा एवं इमरजेंसी यूनिट शुरू होने में समय लग रहा है.


Opinions expressed in the comments are not reflective of Nava Bharat. Comments are moderated automatically.

Related Posts