Breaking News :

अोमान, सीरिया की राजधानी दमिश्क के नजदीक आवासीय इलाकों लड़ाकू विमानों से भारी बमबारी में कम से कम 27 लोग मारे गए और दर्जनों घायल हो गए। बम गिराने वाले लड़ाकू विमानों को रूस और सीरिया सरकार का माना जा रहा है। युद्ध निरीक्षक, सहायता कर्मियों और स्थानीय लोगों ने आज इस बमबारी पुष्टि की है। नागरिक रक्षा कर्मियों ने कहा कि हमोरिया में आवासीय इलाके के नजदीक बाजार पर हुए हवाई हमलों में कम से कम 17 लोग मारे गए हैं। पिछले 24 घंटे में पूर्वी दमिश्क के सघन आबादी वाले कई शहरों पर कम से कम 30 हमले किए जा चुके हैं। अरबिन में चार नागरिक मारे गए हैं। इसके अलावा मिसराबा और हारास्ता में भी हमलों में लोगों के मारे जाने की खबर है। सीरिया में मानवाधिकारों की पर्यवेक्षक के अनुसार पिछले 20 दिनों जारी हवाई हमलों में सबसे ज्यादा लोग कल मारे गए हैं। इस दौरान 200 से ज्यादा नागरिक मारे गए हैं। इनमें बच्चे और महिलाएं भी शामिल हैं। रूस और सीरिया की सरकार ने नागरिक इलाको पर बम गिराने की बात से इन्कार किया है। उनका कहना है कि उनके लड़ाकू विमान केवल आतंकवादियों के ठिकानों को निशाना बना रहे हैं।विद्रोही इलाके को समर्पण के लिए मजबूर करने के लिए पूर्वी गुता में वर्ष 2013 से सैन्य घेराबंदी है। सरकार ने पिछले तीन महीने में इस घेराबंदी को कड़ा कर दिया है। यहां के निवासियों और सहायता कर्मियों का आरोप है कि भुखमरी को युद्ध के हथियार के रूप में जानबूझकर इस्तेमाल किया जा रहा है। सरकार इन आरोपों से इन्कार करती है।"/> अोमान, सीरिया की राजधानी दमिश्क के नजदीक आवासीय इलाकों लड़ाकू विमानों से भारी बमबारी में कम से कम 27 लोग मारे गए और दर्जनों घायल हो गए। बम गिराने वाले लड़ाकू विमानों को रूस और सीरिया सरकार का माना जा रहा है। युद्ध निरीक्षक, सहायता कर्मियों और स्थानीय लोगों ने आज इस बमबारी पुष्टि की है। नागरिक रक्षा कर्मियों ने कहा कि हमोरिया में आवासीय इलाके के नजदीक बाजार पर हुए हवाई हमलों में कम से कम 17 लोग मारे गए हैं। पिछले 24 घंटे में पूर्वी दमिश्क के सघन आबादी वाले कई शहरों पर कम से कम 30 हमले किए जा चुके हैं। अरबिन में चार नागरिक मारे गए हैं। इसके अलावा मिसराबा और हारास्ता में भी हमलों में लोगों के मारे जाने की खबर है। सीरिया में मानवाधिकारों की पर्यवेक्षक के अनुसार पिछले 20 दिनों जारी हवाई हमलों में सबसे ज्यादा लोग कल मारे गए हैं। इस दौरान 200 से ज्यादा नागरिक मारे गए हैं। इनमें बच्चे और महिलाएं भी शामिल हैं। रूस और सीरिया की सरकार ने नागरिक इलाको पर बम गिराने की बात से इन्कार किया है। उनका कहना है कि उनके लड़ाकू विमान केवल आतंकवादियों के ठिकानों को निशाना बना रहे हैं।विद्रोही इलाके को समर्पण के लिए मजबूर करने के लिए पूर्वी गुता में वर्ष 2013 से सैन्य घेराबंदी है। सरकार ने पिछले तीन महीने में इस घेराबंदी को कड़ा कर दिया है। यहां के निवासियों और सहायता कर्मियों का आरोप है कि भुखमरी को युद्ध के हथियार के रूप में जानबूझकर इस्तेमाल किया जा रहा है। सरकार इन आरोपों से इन्कार करती है।"/> अोमान, सीरिया की राजधानी दमिश्क के नजदीक आवासीय इलाकों लड़ाकू विमानों से भारी बमबारी में कम से कम 27 लोग मारे गए और दर्जनों घायल हो गए। बम गिराने वाले लड़ाकू विमानों को रूस और सीरिया सरकार का माना जा रहा है। युद्ध निरीक्षक, सहायता कर्मियों और स्थानीय लोगों ने आज इस बमबारी पुष्टि की है। नागरिक रक्षा कर्मियों ने कहा कि हमोरिया में आवासीय इलाके के नजदीक बाजार पर हुए हवाई हमलों में कम से कम 17 लोग मारे गए हैं। पिछले 24 घंटे में पूर्वी दमिश्क के सघन आबादी वाले कई शहरों पर कम से कम 30 हमले किए जा चुके हैं। अरबिन में चार नागरिक मारे गए हैं। इसके अलावा मिसराबा और हारास्ता में भी हमलों में लोगों के मारे जाने की खबर है। सीरिया में मानवाधिकारों की पर्यवेक्षक के अनुसार पिछले 20 दिनों जारी हवाई हमलों में सबसे ज्यादा लोग कल मारे गए हैं। इस दौरान 200 से ज्यादा नागरिक मारे गए हैं। इनमें बच्चे और महिलाएं भी शामिल हैं। रूस और सीरिया की सरकार ने नागरिक इलाको पर बम गिराने की बात से इन्कार किया है। उनका कहना है कि उनके लड़ाकू विमान केवल आतंकवादियों के ठिकानों को निशाना बना रहे हैं।विद्रोही इलाके को समर्पण के लिए मजबूर करने के लिए पूर्वी गुता में वर्ष 2013 से सैन्य घेराबंदी है। सरकार ने पिछले तीन महीने में इस घेराबंदी को कड़ा कर दिया है। यहां के निवासियों और सहायता कर्मियों का आरोप है कि भुखमरी को युद्ध के हथियार के रूप में जानबूझकर इस्तेमाल किया जा रहा है। सरकार इन आरोपों से इन्कार करती है।">

सीरिया के दमिश्क में विमानों ने की बमबारी, 27 मरे

2017/12/04



अोमान, सीरिया की राजधानी दमिश्क के नजदीक आवासीय इलाकों लड़ाकू विमानों से भारी बमबारी में कम से कम 27 लोग मारे गए और दर्जनों घायल हो गए। बम गिराने वाले लड़ाकू विमानों को रूस और सीरिया सरकार का माना जा रहा है। युद्ध निरीक्षक, सहायता कर्मियों और स्थानीय लोगों ने आज इस बमबारी पुष्टि की है। नागरिक रक्षा कर्मियों ने कहा कि हमोरिया में आवासीय इलाके के नजदीक बाजार पर हुए हवाई हमलों में कम से कम 17 लोग मारे गए हैं। पिछले 24 घंटे में पूर्वी दमिश्क के सघन आबादी वाले कई शहरों पर कम से कम 30 हमले किए जा चुके हैं। अरबिन में चार नागरिक मारे गए हैं। इसके अलावा मिसराबा और हारास्ता में भी हमलों में लोगों के मारे जाने की खबर है। सीरिया में मानवाधिकारों की पर्यवेक्षक के अनुसार पिछले 20 दिनों जारी हवाई हमलों में सबसे ज्यादा लोग कल मारे गए हैं। इस दौरान 200 से ज्यादा नागरिक मारे गए हैं। इनमें बच्चे और महिलाएं भी शामिल हैं। रूस और सीरिया की सरकार ने नागरिक इलाको पर बम गिराने की बात से इन्कार किया है। उनका कहना है कि उनके लड़ाकू विमान केवल आतंकवादियों के ठिकानों को निशाना बना रहे हैं।विद्रोही इलाके को समर्पण के लिए मजबूर करने के लिए पूर्वी गुता में वर्ष 2013 से सैन्य घेराबंदी है। सरकार ने पिछले तीन महीने में इस घेराबंदी को कड़ा कर दिया है। यहां के निवासियों और सहायता कर्मियों का आरोप है कि भुखमरी को युद्ध के हथियार के रूप में जानबूझकर इस्तेमाल किया जा रहा है। सरकार इन आरोपों से इन्कार करती है।


Opinions expressed in the comments are not reflective of Nava Bharat. Comments are moderated automatically.

Related Posts