Breaking News :

सीएम को नेताजी सुभाष चंद्र बोस सम्मान से नवाजा

2017/11/30



हरियाणा के राज्यपाल सोलंकी ने किया सम्मानित नवभारत न्यूज भोपाल, मुख्यमंत्री शिवराज ङ्क्षसह चौहान के शासन के 12 साल पूरे होने पर नगर निगम भोपाल द्वारा राजधानी के मोतीलाल नेहरू स्टेडियम में शाम 5 बजे से जश्न मनाया गया. इस मौके पर हरियाणा के राज्यपाल कप्तान सिंह सोलंकी ने मुख्यमंत्री को 'सुभाष चंद्र बोस नेतृत्व सम्मान' से सम्मानित किया और उनकी उपलब्धियों की जमकर तारीफ की. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रदेश के चौतरफा विकास के लिये वे प्रतिबद्ध हैं. यही वजह है कि कभी बीमारू राज्य कहा जाने वाला मध्यप्रदेश आज विकसित राज्यों की कतार में खड़ा है. मुख्यमंत्री चौहान कार्यक्रम में बग्घी में बैठकर पहुंचे जिसे महापौर आलोक शर्मा चला रहे थे. कार्यक्रम में एमआईसी मेम्बर्स द्वारा मुख्यमंत्री व राज्यपाल कप्तान सिंह सोलंकी को बड़ी माला से आत्मीय अभिनंदन किया. राज्यपाल कप्तान सिंह ने मुख्यमंत्री को 12 साल तक उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिये सुभाष चंद्र बोस सम्मान से सम्मानित किया. इस दौरान शहर के विभिन्न कॉलेजों से आये विद्यार्थियों ने मामा शिवराज से अपने सवाल किये, जिसमें मुख्यमंत्री ने छात्रों की परेशानी हल की तथा कई योजनायें चालू करने एवं कुछ पुरानी योजनाओं को सुचारू करने की घोषणा की. हरियाणा के राज्यपाल कप्तान सिंह सोलंकी ने भी इस मौके पर शिवराज सरकार में हुई प्रदेश की प्रगति की जमकर तारीफ की. केंद्रीय मंत्री और गुजरात प्रभारी नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि जितना विकास प्रदेश का शिवराज सिंह चौहान के कार्यकाल में हुआ, उतना पहले कभी नहीं हुआ. साथ ही गुजरात चुनाव पर निशाना साधते कहा कि पहले से भी ज्यादा सीटें गुजरात में जीतेंगे. राहुल गांधी की सक्रियता पर कहा कि 'बुझने से पहले दीया भी जोर से जलता है.' मुख्यमंत्री की घोषणाएं

  • हाईस्कूल और हायर सेकेंडरी स्कूल में कॅरियर काउंसङ्क्षलग प्रकोष्ठï का गठन होगा.
  • स्किल डेह्वïलपमेंट यूनिवर्सिटी 600 करोड़ की लागत से भोपाल में बनाई जायेगी.
  • मुख्यमंत्री मेधावी छात्र योजना में 85 प्रतिशत अंक के दायरे को घटाने पर विचार करेंगे.
  • विद्यार्थी पंचायत जल्द बुलाने की घोषणा.
  • जेईई मेंस में डेढ़ लाख तक की मेरिट लिस्ट में आने वाले छात्रों को मेधावी छात्र योजना का लाभ दिया जायेगा. अभी 50 हजार की मेरिट में आने वाले छात्रों की फीस सरकार भर रही है.


Opinions expressed in the comments are not reflective of Nava Bharat. Comments are moderated automatically.

Related Posts