Breaking News :

अहमदाबाद,  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज कहा कि नर्मदा नदी के सरदार सरोवर बांध के गेट बंद होने के साथ ही गुजरात की समृद्धि का नया दौर शुरू हो गया है। श्री मोदी ने कहा कि पानी की उपलब्धता गुजरात के लिए एक बडी बात रहीं है। पहले पानी पर ही इतना पैसा खर्च होता था कि अन्य योजनाओं पर असर होता था। उन्होंने कहा कि नर्मदा परियोजना के लिए सभी सरकारों ने काम किया है, इसमें कोई राजनीति जैसी बात नहीं है। इसके दरवाजे लगने के मामले कुछ बाधाएं थीं पर अब वह सब कुछ दूर हो चुका है। गुजरात के लोग पानी का महत्व समझते हैं। उन्होंने कहा कि नर्मदा के दरवाजे बंद होने के साथ ही गुजरात के समृद्धि के दरवाजे खुलने के अवसर के लिए वह शीघ्र ही गुजरात का एक और दौरा करेंगे। ज्ञातव्य है कि बांध पर बने 30 दरवाजे हाल में बंद करने के बाद से इसमें जल का संग्रहण स्तर करीब पौने चार गुना बढ गया है जिससे गुजरात में जल की उपलब्धता की समस्या के काफी हद तक हल होने की उम्मीद है।"/> अहमदाबाद,  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज कहा कि नर्मदा नदी के सरदार सरोवर बांध के गेट बंद होने के साथ ही गुजरात की समृद्धि का नया दौर शुरू हो गया है। श्री मोदी ने कहा कि पानी की उपलब्धता गुजरात के लिए एक बडी बात रहीं है। पहले पानी पर ही इतना पैसा खर्च होता था कि अन्य योजनाओं पर असर होता था। उन्होंने कहा कि नर्मदा परियोजना के लिए सभी सरकारों ने काम किया है, इसमें कोई राजनीति जैसी बात नहीं है। इसके दरवाजे लगने के मामले कुछ बाधाएं थीं पर अब वह सब कुछ दूर हो चुका है। गुजरात के लोग पानी का महत्व समझते हैं। उन्होंने कहा कि नर्मदा के दरवाजे बंद होने के साथ ही गुजरात के समृद्धि के दरवाजे खुलने के अवसर के लिए वह शीघ्र ही गुजरात का एक और दौरा करेंगे। ज्ञातव्य है कि बांध पर बने 30 दरवाजे हाल में बंद करने के बाद से इसमें जल का संग्रहण स्तर करीब पौने चार गुना बढ गया है जिससे गुजरात में जल की उपलब्धता की समस्या के काफी हद तक हल होने की उम्मीद है।"/> अहमदाबाद,  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज कहा कि नर्मदा नदी के सरदार सरोवर बांध के गेट बंद होने के साथ ही गुजरात की समृद्धि का नया दौर शुरू हो गया है। श्री मोदी ने कहा कि पानी की उपलब्धता गुजरात के लिए एक बडी बात रहीं है। पहले पानी पर ही इतना पैसा खर्च होता था कि अन्य योजनाओं पर असर होता था। उन्होंने कहा कि नर्मदा परियोजना के लिए सभी सरकारों ने काम किया है, इसमें कोई राजनीति जैसी बात नहीं है। इसके दरवाजे लगने के मामले कुछ बाधाएं थीं पर अब वह सब कुछ दूर हो चुका है। गुजरात के लोग पानी का महत्व समझते हैं। उन्होंने कहा कि नर्मदा के दरवाजे बंद होने के साथ ही गुजरात के समृद्धि के दरवाजे खुलने के अवसर के लिए वह शीघ्र ही गुजरात का एक और दौरा करेंगे। ज्ञातव्य है कि बांध पर बने 30 दरवाजे हाल में बंद करने के बाद से इसमें जल का संग्रहण स्तर करीब पौने चार गुना बढ गया है जिससे गुजरात में जल की उपलब्धता की समस्या के काफी हद तक हल होने की उम्मीद है।">

सरदार सरोवर बांध पर गेट लगने से समृद्धि का नया दौर : मोदी

2017/06/29



अहमदाबाद,  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज कहा कि नर्मदा नदी के सरदार सरोवर बांध के गेट बंद होने के साथ ही गुजरात की समृद्धि का नया दौर शुरू हो गया है। श्री मोदी ने कहा कि पानी की उपलब्धता गुजरात के लिए एक बडी बात रहीं है। पहले पानी पर ही इतना पैसा खर्च होता था कि अन्य योजनाओं पर असर होता था। उन्होंने कहा कि नर्मदा परियोजना के लिए सभी सरकारों ने काम किया है, इसमें कोई राजनीति जैसी बात नहीं है। इसके दरवाजे लगने के मामले कुछ बाधाएं थीं पर अब वह सब कुछ दूर हो चुका है। गुजरात के लोग पानी का महत्व समझते हैं। उन्होंने कहा कि नर्मदा के दरवाजे बंद होने के साथ ही गुजरात के समृद्धि के दरवाजे खुलने के अवसर के लिए वह शीघ्र ही गुजरात का एक और दौरा करेंगे। ज्ञातव्य है कि बांध पर बने 30 दरवाजे हाल में बंद करने के बाद से इसमें जल का संग्रहण स्तर करीब पौने चार गुना बढ गया है जिससे गुजरात में जल की उपलब्धता की समस्या के काफी हद तक हल होने की उम्मीद है।


Opinions expressed in the comments are not reflective of Nava Bharat. Comments are moderated automatically.

Related Posts