Breaking News :

कांग्रेस नेता का रिश्तेदार है मृतक, परिजनों ने जताई हत्या की आशंका नवभारत न्यूज भोपाल, शुक्रवार सुबह न्यूमार्केट के एक रेडीमेड कपड़ा व्यापारी का शव संदिग्ध परिस्थितियों में पीपलनेर गांव में खड़ी कार में मिला. सूचना के बाद पहुंची पुलिस ने मृतक का शव पीएम के लिए भिजवाया. पुलिस ने कार से एक इंजेक्शन की सिरिंज, सल्फास व पास से शराब की बोतल बरामद की है. पुलिस अभी कुछ कहने से बच रही है. मृतक कांग्रेस के वरिष्ठ नेता माणक अग्रवाल के भतीजे का साला है. घटना का आला अधिकारियों ने मुआयना किया है. उनका कहना है कि ऐसी कोई साक्ष्य सामने नहीं आए हैं जिससे यह प्रतीत हो कि युवक की हत्या की गई है. गांधी नगर पुलिस मामले की जांच में जुटी है. गांधी नगर टीआई कुलदीप खत्री के मुताबिक नवनीत अग्रवाल उम्र 43 वर्ष प्रोफेसर कालोनी स्थित सागर आपार्टमेंट में रहते थे. न्यू मार्केट में उनकी रेडीमेड कपड़ों की दुकान समता चौक के सामने दूसरे तल पर है. पीपलनेर स्थित एक गोदाम के चौकीदार ने सूचना दी थी कि एक कार में युवक मृत अवस्था में पड़ा हुआ है, जिसका आधा शव कार के बाहर लटका हुआ है. सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुुंची. मृतक सफेद रंग की आई 10 कार में आधा बाहर लटका हुआ मिला, जिसकी पहचान नवनीत अग्रवाल के रूप में हुई. इसके बाद टीटी नगर थाने को सूचना दी गई. मृतक की कार से मोबाइल, सल्फास, कॉकरोच मारने का पेस्ट व एक सिरिंज मिली, वहीं कार के पास बाहर एक खाली शराब की बोतल मिली. इसके बाद पुलिस ने शव को पीएम के लिए भिजवाया. संक्षिप्त रिपोर्ट में मौत का कारण जहर की वजह से होना बताया जा रहा है. विवाद के चलते की हत्या परिजनों ने आरोप लगाते हुए बताया कि कुछ दिनों पहले नवनीत का कुछ लोगों से विवाद हो गया था, जिसके चलते इनके बीच दो दिन पहले मुंहवाद भी हुआ था. परिजनों के मुताबिक लेनदेन को लेकर विवाद हुआ था. पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है. पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही पुलिस की कार्रवाई आगे बढ़ पाएगी, वहीं पुलिस मृतक के कॉल डिटेल भी खंगाल रही है. परिजन रिपोर्ट दर्ज करा रहे थे तभी मिल गई सूचना नवनीत के परिजन शुक्रवार सुबह करीब 8 बजे गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराने टीटी नगर थाने पहुंचे थे. इसी बीच गांधी नगर थाने से टीटी नगर पुलिस को सूचना मिल गई, जिसके बाद परिजन घटनास्थल पर पहुंच गए. परिजनों का कहना है कि नवनीत को शराब में जहर मिलाकर पिलाया गया है. जिप्सी में आए थे चार लोग पुलिस को यह भी जानकारी मिली है कि चौकीदार ने चार लोगों को एक जिप्सी से आते हुए देखा था, इसके बाद परिजनों ने इस बात पर जोर दिया है कि नवनीत की हत्या की गई है. वहीं पुलिस का कहना है कि ऐसे कोई साक्ष्य नहीं मिल रहे हैं, जिससे हत्या का मामला लगे. पुलिस का कहना है कि मृतक के शरीर पर किसी तरह के संघर्ष या चोट के निशान नहीं हैं. पुलिस हत्या की आशंका से इंकार कर रही है, वहीं परिजनों द्धारा आशंका जाहिर करने के बाद पुलिस ने आत्महत्या के एंगल पर भी जांच करना शुरू कर दी है. मृतक का शरीर जहर की वजह से पूरा नीला पड़ गया था."/> कांग्रेस नेता का रिश्तेदार है मृतक, परिजनों ने जताई हत्या की आशंका नवभारत न्यूज भोपाल, शुक्रवार सुबह न्यूमार्केट के एक रेडीमेड कपड़ा व्यापारी का शव संदिग्ध परिस्थितियों में पीपलनेर गांव में खड़ी कार में मिला. सूचना के बाद पहुंची पुलिस ने मृतक का शव पीएम के लिए भिजवाया. पुलिस ने कार से एक इंजेक्शन की सिरिंज, सल्फास व पास से शराब की बोतल बरामद की है. पुलिस अभी कुछ कहने से बच रही है. मृतक कांग्रेस के वरिष्ठ नेता माणक अग्रवाल के भतीजे का साला है. घटना का आला अधिकारियों ने मुआयना किया है. उनका कहना है कि ऐसी कोई साक्ष्य सामने नहीं आए हैं जिससे यह प्रतीत हो कि युवक की हत्या की गई है. गांधी नगर पुलिस मामले की जांच में जुटी है. गांधी नगर टीआई कुलदीप खत्री के मुताबिक नवनीत अग्रवाल उम्र 43 वर्ष प्रोफेसर कालोनी स्थित सागर आपार्टमेंट में रहते थे. न्यू मार्केट में उनकी रेडीमेड कपड़ों की दुकान समता चौक के सामने दूसरे तल पर है. पीपलनेर स्थित एक गोदाम के चौकीदार ने सूचना दी थी कि एक कार में युवक मृत अवस्था में पड़ा हुआ है, जिसका आधा शव कार के बाहर लटका हुआ है. सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुुंची. मृतक सफेद रंग की आई 10 कार में आधा बाहर लटका हुआ मिला, जिसकी पहचान नवनीत अग्रवाल के रूप में हुई. इसके बाद टीटी नगर थाने को सूचना दी गई. मृतक की कार से मोबाइल, सल्फास, कॉकरोच मारने का पेस्ट व एक सिरिंज मिली, वहीं कार के पास बाहर एक खाली शराब की बोतल मिली. इसके बाद पुलिस ने शव को पीएम के लिए भिजवाया. संक्षिप्त रिपोर्ट में मौत का कारण जहर की वजह से होना बताया जा रहा है. विवाद के चलते की हत्या परिजनों ने आरोप लगाते हुए बताया कि कुछ दिनों पहले नवनीत का कुछ लोगों से विवाद हो गया था, जिसके चलते इनके बीच दो दिन पहले मुंहवाद भी हुआ था. परिजनों के मुताबिक लेनदेन को लेकर विवाद हुआ था. पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है. पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही पुलिस की कार्रवाई आगे बढ़ पाएगी, वहीं पुलिस मृतक के कॉल डिटेल भी खंगाल रही है. परिजन रिपोर्ट दर्ज करा रहे थे तभी मिल गई सूचना नवनीत के परिजन शुक्रवार सुबह करीब 8 बजे गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराने टीटी नगर थाने पहुंचे थे. इसी बीच गांधी नगर थाने से टीटी नगर पुलिस को सूचना मिल गई, जिसके बाद परिजन घटनास्थल पर पहुंच गए. परिजनों का कहना है कि नवनीत को शराब में जहर मिलाकर पिलाया गया है. जिप्सी में आए थे चार लोग पुलिस को यह भी जानकारी मिली है कि चौकीदार ने चार लोगों को एक जिप्सी से आते हुए देखा था, इसके बाद परिजनों ने इस बात पर जोर दिया है कि नवनीत की हत्या की गई है. वहीं पुलिस का कहना है कि ऐसे कोई साक्ष्य नहीं मिल रहे हैं, जिससे हत्या का मामला लगे. पुलिस का कहना है कि मृतक के शरीर पर किसी तरह के संघर्ष या चोट के निशान नहीं हैं. पुलिस हत्या की आशंका से इंकार कर रही है, वहीं परिजनों द्धारा आशंका जाहिर करने के बाद पुलिस ने आत्महत्या के एंगल पर भी जांच करना शुरू कर दी है. मृतक का शरीर जहर की वजह से पूरा नीला पड़ गया था."/> कांग्रेस नेता का रिश्तेदार है मृतक, परिजनों ने जताई हत्या की आशंका नवभारत न्यूज भोपाल, शुक्रवार सुबह न्यूमार्केट के एक रेडीमेड कपड़ा व्यापारी का शव संदिग्ध परिस्थितियों में पीपलनेर गांव में खड़ी कार में मिला. सूचना के बाद पहुंची पुलिस ने मृतक का शव पीएम के लिए भिजवाया. पुलिस ने कार से एक इंजेक्शन की सिरिंज, सल्फास व पास से शराब की बोतल बरामद की है. पुलिस अभी कुछ कहने से बच रही है. मृतक कांग्रेस के वरिष्ठ नेता माणक अग्रवाल के भतीजे का साला है. घटना का आला अधिकारियों ने मुआयना किया है. उनका कहना है कि ऐसी कोई साक्ष्य सामने नहीं आए हैं जिससे यह प्रतीत हो कि युवक की हत्या की गई है. गांधी नगर पुलिस मामले की जांच में जुटी है. गांधी नगर टीआई कुलदीप खत्री के मुताबिक नवनीत अग्रवाल उम्र 43 वर्ष प्रोफेसर कालोनी स्थित सागर आपार्टमेंट में रहते थे. न्यू मार्केट में उनकी रेडीमेड कपड़ों की दुकान समता चौक के सामने दूसरे तल पर है. पीपलनेर स्थित एक गोदाम के चौकीदार ने सूचना दी थी कि एक कार में युवक मृत अवस्था में पड़ा हुआ है, जिसका आधा शव कार के बाहर लटका हुआ है. सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुुंची. मृतक सफेद रंग की आई 10 कार में आधा बाहर लटका हुआ मिला, जिसकी पहचान नवनीत अग्रवाल के रूप में हुई. इसके बाद टीटी नगर थाने को सूचना दी गई. मृतक की कार से मोबाइल, सल्फास, कॉकरोच मारने का पेस्ट व एक सिरिंज मिली, वहीं कार के पास बाहर एक खाली शराब की बोतल मिली. इसके बाद पुलिस ने शव को पीएम के लिए भिजवाया. संक्षिप्त रिपोर्ट में मौत का कारण जहर की वजह से होना बताया जा रहा है. विवाद के चलते की हत्या परिजनों ने आरोप लगाते हुए बताया कि कुछ दिनों पहले नवनीत का कुछ लोगों से विवाद हो गया था, जिसके चलते इनके बीच दो दिन पहले मुंहवाद भी हुआ था. परिजनों के मुताबिक लेनदेन को लेकर विवाद हुआ था. पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है. पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही पुलिस की कार्रवाई आगे बढ़ पाएगी, वहीं पुलिस मृतक के कॉल डिटेल भी खंगाल रही है. परिजन रिपोर्ट दर्ज करा रहे थे तभी मिल गई सूचना नवनीत के परिजन शुक्रवार सुबह करीब 8 बजे गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराने टीटी नगर थाने पहुंचे थे. इसी बीच गांधी नगर थाने से टीटी नगर पुलिस को सूचना मिल गई, जिसके बाद परिजन घटनास्थल पर पहुंच गए. परिजनों का कहना है कि नवनीत को शराब में जहर मिलाकर पिलाया गया है. जिप्सी में आए थे चार लोग पुलिस को यह भी जानकारी मिली है कि चौकीदार ने चार लोगों को एक जिप्सी से आते हुए देखा था, इसके बाद परिजनों ने इस बात पर जोर दिया है कि नवनीत की हत्या की गई है. वहीं पुलिस का कहना है कि ऐसे कोई साक्ष्य नहीं मिल रहे हैं, जिससे हत्या का मामला लगे. पुलिस का कहना है कि मृतक के शरीर पर किसी तरह के संघर्ष या चोट के निशान नहीं हैं. पुलिस हत्या की आशंका से इंकार कर रही है, वहीं परिजनों द्धारा आशंका जाहिर करने के बाद पुलिस ने आत्महत्या के एंगल पर भी जांच करना शुरू कर दी है. मृतक का शरीर जहर की वजह से पूरा नीला पड़ गया था.">

संदिग्ध परिस्थितियों में मिला व्यापारी का शव

2017/12/09



कांग्रेस नेता का रिश्तेदार है मृतक, परिजनों ने जताई हत्या की आशंका नवभारत न्यूज भोपाल, शुक्रवार सुबह न्यूमार्केट के एक रेडीमेड कपड़ा व्यापारी का शव संदिग्ध परिस्थितियों में पीपलनेर गांव में खड़ी कार में मिला. सूचना के बाद पहुंची पुलिस ने मृतक का शव पीएम के लिए भिजवाया. पुलिस ने कार से एक इंजेक्शन की सिरिंज, सल्फास व पास से शराब की बोतल बरामद की है. पुलिस अभी कुछ कहने से बच रही है. मृतक कांग्रेस के वरिष्ठ नेता माणक अग्रवाल के भतीजे का साला है. घटना का आला अधिकारियों ने मुआयना किया है. उनका कहना है कि ऐसी कोई साक्ष्य सामने नहीं आए हैं जिससे यह प्रतीत हो कि युवक की हत्या की गई है. गांधी नगर पुलिस मामले की जांच में जुटी है. गांधी नगर टीआई कुलदीप खत्री के मुताबिक नवनीत अग्रवाल उम्र 43 वर्ष प्रोफेसर कालोनी स्थित सागर आपार्टमेंट में रहते थे. न्यू मार्केट में उनकी रेडीमेड कपड़ों की दुकान समता चौक के सामने दूसरे तल पर है. पीपलनेर स्थित एक गोदाम के चौकीदार ने सूचना दी थी कि एक कार में युवक मृत अवस्था में पड़ा हुआ है, जिसका आधा शव कार के बाहर लटका हुआ है. सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुुंची. मृतक सफेद रंग की आई 10 कार में आधा बाहर लटका हुआ मिला, जिसकी पहचान नवनीत अग्रवाल के रूप में हुई. इसके बाद टीटी नगर थाने को सूचना दी गई. मृतक की कार से मोबाइल, सल्फास, कॉकरोच मारने का पेस्ट व एक सिरिंज मिली, वहीं कार के पास बाहर एक खाली शराब की बोतल मिली. इसके बाद पुलिस ने शव को पीएम के लिए भिजवाया. संक्षिप्त रिपोर्ट में मौत का कारण जहर की वजह से होना बताया जा रहा है. विवाद के चलते की हत्या परिजनों ने आरोप लगाते हुए बताया कि कुछ दिनों पहले नवनीत का कुछ लोगों से विवाद हो गया था, जिसके चलते इनके बीच दो दिन पहले मुंहवाद भी हुआ था. परिजनों के मुताबिक लेनदेन को लेकर विवाद हुआ था. पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है. पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही पुलिस की कार्रवाई आगे बढ़ पाएगी, वहीं पुलिस मृतक के कॉल डिटेल भी खंगाल रही है. परिजन रिपोर्ट दर्ज करा रहे थे तभी मिल गई सूचना नवनीत के परिजन शुक्रवार सुबह करीब 8 बजे गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराने टीटी नगर थाने पहुंचे थे. इसी बीच गांधी नगर थाने से टीटी नगर पुलिस को सूचना मिल गई, जिसके बाद परिजन घटनास्थल पर पहुंच गए. परिजनों का कहना है कि नवनीत को शराब में जहर मिलाकर पिलाया गया है. जिप्सी में आए थे चार लोग पुलिस को यह भी जानकारी मिली है कि चौकीदार ने चार लोगों को एक जिप्सी से आते हुए देखा था, इसके बाद परिजनों ने इस बात पर जोर दिया है कि नवनीत की हत्या की गई है. वहीं पुलिस का कहना है कि ऐसे कोई साक्ष्य नहीं मिल रहे हैं, जिससे हत्या का मामला लगे. पुलिस का कहना है कि मृतक के शरीर पर किसी तरह के संघर्ष या चोट के निशान नहीं हैं. पुलिस हत्या की आशंका से इंकार कर रही है, वहीं परिजनों द्धारा आशंका जाहिर करने के बाद पुलिस ने आत्महत्या के एंगल पर भी जांच करना शुरू कर दी है. मृतक का शरीर जहर की वजह से पूरा नीला पड़ गया था.


Opinions expressed in the comments are not reflective of Nava Bharat. Comments are moderated automatically.

Related Posts