Breaking News :

सेंचुरियन, कप्तान विराट कोहली (153 रन) की विदेशी जमीन पर खेली गयी बेहतरीन कप्तानी पारी से भारत ने झटकों से उबरते हुये दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरे क्रिकेट टेस्ट के तीसरे दिन सोमवार को अपनी पहली पारी में 307 रन बनाये, मेजबान टीम को इससे 28 रन की बढ़त मिली है। भारत ने अपनी पहली पारी कल के 183 रन पर पांच विकेट से आगे शुरू की। उस समय कप्तान विराट 85 रन और ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या 11 रन पर नाबाद थे। विराट ने एक छोर संभालते हुये अपने चिर परिचित अंदाज़ में खेलना शुरू किया और वह आखिरी बल्लेबाज़ के रूप में 307 के स्कोर पर आउट हुये। विराट ने 217 गेंदों का सामना किया और 153 रन में 15 चौके लगाये। विराट का 65 टेस्टों में यह 21वां शतक है और विदेशी जमीन पर उनका यह तीसरा सर्वश्रेष्ठ स्कोर है। एक छोर से बल्लेबाज़ों से खास मदद नहीं मिलने पर भी विराट ने अपना धैर्य संभाले रखा और टेस्ट करियर का अपना 21वां शतक भी जड़ दिया। विराट ने इसी के साथ मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर को भी पीछे छोड़ दिया जिन्होंने 110 पारियों में इतने शतक बनाये थे। भारतीय कप्तान 109 पारियों में 21 शतकों तक पहुंचे। वह सबसे तेज़ 21 शतक लगाने वाले चौथे बल्लेबाज़ और दक्षिण अफ्रीका की ज़मीन पर शतक लगाने वाले दूसरे भारतीय कप्तान बन गये हैं।"/> सेंचुरियन, कप्तान विराट कोहली (153 रन) की विदेशी जमीन पर खेली गयी बेहतरीन कप्तानी पारी से भारत ने झटकों से उबरते हुये दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरे क्रिकेट टेस्ट के तीसरे दिन सोमवार को अपनी पहली पारी में 307 रन बनाये, मेजबान टीम को इससे 28 रन की बढ़त मिली है। भारत ने अपनी पहली पारी कल के 183 रन पर पांच विकेट से आगे शुरू की। उस समय कप्तान विराट 85 रन और ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या 11 रन पर नाबाद थे। विराट ने एक छोर संभालते हुये अपने चिर परिचित अंदाज़ में खेलना शुरू किया और वह आखिरी बल्लेबाज़ के रूप में 307 के स्कोर पर आउट हुये। विराट ने 217 गेंदों का सामना किया और 153 रन में 15 चौके लगाये। विराट का 65 टेस्टों में यह 21वां शतक है और विदेशी जमीन पर उनका यह तीसरा सर्वश्रेष्ठ स्कोर है। एक छोर से बल्लेबाज़ों से खास मदद नहीं मिलने पर भी विराट ने अपना धैर्य संभाले रखा और टेस्ट करियर का अपना 21वां शतक भी जड़ दिया। विराट ने इसी के साथ मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर को भी पीछे छोड़ दिया जिन्होंने 110 पारियों में इतने शतक बनाये थे। भारतीय कप्तान 109 पारियों में 21 शतकों तक पहुंचे। वह सबसे तेज़ 21 शतक लगाने वाले चौथे बल्लेबाज़ और दक्षिण अफ्रीका की ज़मीन पर शतक लगाने वाले दूसरे भारतीय कप्तान बन गये हैं।"/> सेंचुरियन, कप्तान विराट कोहली (153 रन) की विदेशी जमीन पर खेली गयी बेहतरीन कप्तानी पारी से भारत ने झटकों से उबरते हुये दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरे क्रिकेट टेस्ट के तीसरे दिन सोमवार को अपनी पहली पारी में 307 रन बनाये, मेजबान टीम को इससे 28 रन की बढ़त मिली है। भारत ने अपनी पहली पारी कल के 183 रन पर पांच विकेट से आगे शुरू की। उस समय कप्तान विराट 85 रन और ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या 11 रन पर नाबाद थे। विराट ने एक छोर संभालते हुये अपने चिर परिचित अंदाज़ में खेलना शुरू किया और वह आखिरी बल्लेबाज़ के रूप में 307 के स्कोर पर आउट हुये। विराट ने 217 गेंदों का सामना किया और 153 रन में 15 चौके लगाये। विराट का 65 टेस्टों में यह 21वां शतक है और विदेशी जमीन पर उनका यह तीसरा सर्वश्रेष्ठ स्कोर है। एक छोर से बल्लेबाज़ों से खास मदद नहीं मिलने पर भी विराट ने अपना धैर्य संभाले रखा और टेस्ट करियर का अपना 21वां शतक भी जड़ दिया। विराट ने इसी के साथ मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर को भी पीछे छोड़ दिया जिन्होंने 110 पारियों में इतने शतक बनाये थे। भारतीय कप्तान 109 पारियों में 21 शतकों तक पहुंचे। वह सबसे तेज़ 21 शतक लगाने वाले चौथे बल्लेबाज़ और दक्षिण अफ्रीका की ज़मीन पर शतक लगाने वाले दूसरे भारतीय कप्तान बन गये हैं।">

विराट शतक से भारत के 307 रन

2018/01/15



सेंचुरियन, कप्तान विराट कोहली (153 रन) की विदेशी जमीन पर खेली गयी बेहतरीन कप्तानी पारी से भारत ने झटकों से उबरते हुये दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरे क्रिकेट टेस्ट के तीसरे दिन सोमवार को अपनी पहली पारी में 307 रन बनाये, मेजबान टीम को इससे 28 रन की बढ़त मिली है। भारत ने अपनी पहली पारी कल के 183 रन पर पांच विकेट से आगे शुरू की। उस समय कप्तान विराट 85 रन और ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या 11 रन पर नाबाद थे। विराट ने एक छोर संभालते हुये अपने चिर परिचित अंदाज़ में खेलना शुरू किया और वह आखिरी बल्लेबाज़ के रूप में 307 के स्कोर पर आउट हुये। विराट ने 217 गेंदों का सामना किया और 153 रन में 15 चौके लगाये। विराट का 65 टेस्टों में यह 21वां शतक है और विदेशी जमीन पर उनका यह तीसरा सर्वश्रेष्ठ स्कोर है। एक छोर से बल्लेबाज़ों से खास मदद नहीं मिलने पर भी विराट ने अपना धैर्य संभाले रखा और टेस्ट करियर का अपना 21वां शतक भी जड़ दिया। विराट ने इसी के साथ मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर को भी पीछे छोड़ दिया जिन्होंने 110 पारियों में इतने शतक बनाये थे। भारतीय कप्तान 109 पारियों में 21 शतकों तक पहुंचे। वह सबसे तेज़ 21 शतक लगाने वाले चौथे बल्लेबाज़ और दक्षिण अफ्रीका की ज़मीन पर शतक लगाने वाले दूसरे भारतीय कप्तान बन गये हैं।


Opinions expressed in the comments are not reflective of Nava Bharat. Comments are moderated automatically.

Related Posts