Breaking News :

बेंगलुरु, भारतीय टीम के सलामी बल्लेबाज लोकेश राहुल विजय हजारे घरेलू टूर्नामेंट  अपनी तैयारियों को पुख्ता करने में जुटे हैं और उन्होंने भरोसा जताया है कि वह दक्षिण अफ्रीका में अागामी ट्वंटी-20 सीरीज में अच्छा प्रदर्शन कर खुद की उपयोगिता साबित करेंगे। राहुल दक्षिण अफ्रीका दौरे पर टेस्ट टीम का हिस्सा थे जिसमें वह कुछ खास छाप नहीं छोड़ सके थे और दो टेस्टों में 10, 4, 0 और 16 रन ही बना पाए थे।वह अभी वनडे टीम का हिस्सा नहीं है और वह इस समय घरेलू क्रिकेट टूर्नामेंट विजय हजारे ट्राफी में कर्नाटक की ओर से खेल रहे हैं।घरेलू क्रिकेट टूर्नामेंट के दो मैचों में उन्होंने अब तक 3 और 22 रन ही बनाए हैं। राहुल ने टूर्नामेंट के दौरान एक मैच से इतर संवाददाताओं से कहा,“ दक्षिण अफ्रीका का दौरा मेरे लिए नई चुनौती की तरह था।वहां पर हमें गति और उछाल की उम्मीद तो थी लेकिन इतनी नहीं जितनी कि देखने को मिली।यह हैरानी करने वाला था।एक सलामी बल्लेबाज के लिए ऐसी परिस्थितियों में ओपनिंग करना चुनौतीपूर्ण होता है।लेकिन कुल मिलाकर सीखने की दृष्टि से यह अच्छा अनुभव रहा।” उन्होंने कहा,“ छोटे प्रारूप में खुद को ढालने के लिए मैं यहां अधिक समय व्यतीत कर रहा हूं।मुझे उम्मीद है कि पंजाब के खिलाफ होने वाले मुकाबले में मैं बल्लेबाजी करने के उतरूंगा।विकेटकीपर होने के नाते मुझ पर अधिक जिम्मेदारियां होती है।लेकिन टीम के लिए मैं किसी भी जिम्मेदारी का निर्वाह करने के लिए तैयार हूं।दक्षिण अफ्रीका में होने वाले ट्वंटी-20 मुकाबले के लिए मैं खुद को पूरी तरह से तैयार कर रहा हूं और मुझे उम्मीद है कि इस प्रारूप में मेरे बल्ले से रन निकलेंगे।”"/> बेंगलुरु, भारतीय टीम के सलामी बल्लेबाज लोकेश राहुल विजय हजारे घरेलू टूर्नामेंट  अपनी तैयारियों को पुख्ता करने में जुटे हैं और उन्होंने भरोसा जताया है कि वह दक्षिण अफ्रीका में अागामी ट्वंटी-20 सीरीज में अच्छा प्रदर्शन कर खुद की उपयोगिता साबित करेंगे। राहुल दक्षिण अफ्रीका दौरे पर टेस्ट टीम का हिस्सा थे जिसमें वह कुछ खास छाप नहीं छोड़ सके थे और दो टेस्टों में 10, 4, 0 और 16 रन ही बना पाए थे।वह अभी वनडे टीम का हिस्सा नहीं है और वह इस समय घरेलू क्रिकेट टूर्नामेंट विजय हजारे ट्राफी में कर्नाटक की ओर से खेल रहे हैं।घरेलू क्रिकेट टूर्नामेंट के दो मैचों में उन्होंने अब तक 3 और 22 रन ही बनाए हैं। राहुल ने टूर्नामेंट के दौरान एक मैच से इतर संवाददाताओं से कहा,“ दक्षिण अफ्रीका का दौरा मेरे लिए नई चुनौती की तरह था।वहां पर हमें गति और उछाल की उम्मीद तो थी लेकिन इतनी नहीं जितनी कि देखने को मिली।यह हैरानी करने वाला था।एक सलामी बल्लेबाज के लिए ऐसी परिस्थितियों में ओपनिंग करना चुनौतीपूर्ण होता है।लेकिन कुल मिलाकर सीखने की दृष्टि से यह अच्छा अनुभव रहा।” उन्होंने कहा,“ छोटे प्रारूप में खुद को ढालने के लिए मैं यहां अधिक समय व्यतीत कर रहा हूं।मुझे उम्मीद है कि पंजाब के खिलाफ होने वाले मुकाबले में मैं बल्लेबाजी करने के उतरूंगा।विकेटकीपर होने के नाते मुझ पर अधिक जिम्मेदारियां होती है।लेकिन टीम के लिए मैं किसी भी जिम्मेदारी का निर्वाह करने के लिए तैयार हूं।दक्षिण अफ्रीका में होने वाले ट्वंटी-20 मुकाबले के लिए मैं खुद को पूरी तरह से तैयार कर रहा हूं और मुझे उम्मीद है कि इस प्रारूप में मेरे बल्ले से रन निकलेंगे।”"/> बेंगलुरु, भारतीय टीम के सलामी बल्लेबाज लोकेश राहुल विजय हजारे घरेलू टूर्नामेंट  अपनी तैयारियों को पुख्ता करने में जुटे हैं और उन्होंने भरोसा जताया है कि वह दक्षिण अफ्रीका में अागामी ट्वंटी-20 सीरीज में अच्छा प्रदर्शन कर खुद की उपयोगिता साबित करेंगे। राहुल दक्षिण अफ्रीका दौरे पर टेस्ट टीम का हिस्सा थे जिसमें वह कुछ खास छाप नहीं छोड़ सके थे और दो टेस्टों में 10, 4, 0 और 16 रन ही बना पाए थे।वह अभी वनडे टीम का हिस्सा नहीं है और वह इस समय घरेलू क्रिकेट टूर्नामेंट विजय हजारे ट्राफी में कर्नाटक की ओर से खेल रहे हैं।घरेलू क्रिकेट टूर्नामेंट के दो मैचों में उन्होंने अब तक 3 और 22 रन ही बनाए हैं। राहुल ने टूर्नामेंट के दौरान एक मैच से इतर संवाददाताओं से कहा,“ दक्षिण अफ्रीका का दौरा मेरे लिए नई चुनौती की तरह था।वहां पर हमें गति और उछाल की उम्मीद तो थी लेकिन इतनी नहीं जितनी कि देखने को मिली।यह हैरानी करने वाला था।एक सलामी बल्लेबाज के लिए ऐसी परिस्थितियों में ओपनिंग करना चुनौतीपूर्ण होता है।लेकिन कुल मिलाकर सीखने की दृष्टि से यह अच्छा अनुभव रहा।” उन्होंने कहा,“ छोटे प्रारूप में खुद को ढालने के लिए मैं यहां अधिक समय व्यतीत कर रहा हूं।मुझे उम्मीद है कि पंजाब के खिलाफ होने वाले मुकाबले में मैं बल्लेबाजी करने के उतरूंगा।विकेटकीपर होने के नाते मुझ पर अधिक जिम्मेदारियां होती है।लेकिन टीम के लिए मैं किसी भी जिम्मेदारी का निर्वाह करने के लिए तैयार हूं।दक्षिण अफ्रीका में होने वाले ट्वंटी-20 मुकाबले के लिए मैं खुद को पूरी तरह से तैयार कर रहा हूं और मुझे उम्मीद है कि इस प्रारूप में मेरे बल्ले से रन निकलेंगे।”">

राहुल को द.अफ्रीका में अच्छे प्रदर्शन का भरोसा

2018/02/12



बेंगलुरु, भारतीय टीम के सलामी बल्लेबाज लोकेश राहुल विजय हजारे घरेलू टूर्नामेंट  अपनी तैयारियों को पुख्ता करने में जुटे हैं और उन्होंने भरोसा जताया है कि वह दक्षिण अफ्रीका में अागामी ट्वंटी-20 सीरीज में अच्छा प्रदर्शन कर खुद की उपयोगिता साबित करेंगे। राहुल दक्षिण अफ्रीका दौरे पर टेस्ट टीम का हिस्सा थे जिसमें वह कुछ खास छाप नहीं छोड़ सके थे और दो टेस्टों में 10, 4, 0 और 16 रन ही बना पाए थे।वह अभी वनडे टीम का हिस्सा नहीं है और वह इस समय घरेलू क्रिकेट टूर्नामेंट विजय हजारे ट्राफी में कर्नाटक की ओर से खेल रहे हैं।घरेलू क्रिकेट टूर्नामेंट के दो मैचों में उन्होंने अब तक 3 और 22 रन ही बनाए हैं। राहुल ने टूर्नामेंट के दौरान एक मैच से इतर संवाददाताओं से कहा,“ दक्षिण अफ्रीका का दौरा मेरे लिए नई चुनौती की तरह था।वहां पर हमें गति और उछाल की उम्मीद तो थी लेकिन इतनी नहीं जितनी कि देखने को मिली।यह हैरानी करने वाला था।एक सलामी बल्लेबाज के लिए ऐसी परिस्थितियों में ओपनिंग करना चुनौतीपूर्ण होता है।लेकिन कुल मिलाकर सीखने की दृष्टि से यह अच्छा अनुभव रहा।” उन्होंने कहा,“ छोटे प्रारूप में खुद को ढालने के लिए मैं यहां अधिक समय व्यतीत कर रहा हूं।मुझे उम्मीद है कि पंजाब के खिलाफ होने वाले मुकाबले में मैं बल्लेबाजी करने के उतरूंगा।विकेटकीपर होने के नाते मुझ पर अधिक जिम्मेदारियां होती है।लेकिन टीम के लिए मैं किसी भी जिम्मेदारी का निर्वाह करने के लिए तैयार हूं।दक्षिण अफ्रीका में होने वाले ट्वंटी-20 मुकाबले के लिए मैं खुद को पूरी तरह से तैयार कर रहा हूं और मुझे उम्मीद है कि इस प्रारूप में मेरे बल्ले से रन निकलेंगे।”


Opinions expressed in the comments are not reflective of Nava Bharat. Comments are moderated automatically.

Related Posts