Breaking News :

इंदौर, दो बार के ओलंपिक पदक विजेता सुशील कुमार सहित देश के 800 पहलवान यहां 15 से 18 नवंबर तक होने वाली सीनियर राष्ट्रीय कुश्ती प्रतियोगिता में ताल ठाेकेंगे। प्रतियोगिता में देश भर से 800 पहलवान, 100 कोच और 50 तकनीकी अधिकारी हिस्सा लेंगे।टूर्नामेंट का इस साल महत्व इस कारण भी बढ़ गया है क्योंकि दो बार ओलंपिक में पदक जीतने वाले पहलवान सुशील कुमार तीन साल से अधिक समय के बाद इस टूर्नामेंट के जरिये मैट पर वापसी कर रहे हैं। सुशील आखिरी बार 2009 में राष्ट्रीय चैंपियनशिप में खेले थे।सुशील का 2014 के राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीतने के बाद यह पहला टूर्नामेंट होगा।सुशील के आने से इस टूर्नामेंट में एक अलग ही आकर्षण पैदा हो गया है। सुशील के अलावा स्टार पहलवान विनेश फोगाट की मौजूदगी भी टूर्नामेंट का आकर्षण बढ़ाएगी।कुश्ती फेडरेशन ने विनेश के साथ प्रवीण राणा और रविंदर खत्री पर अनुशासनहीनता के कारण लगा निलंबन हटा लिया है जिससे ये तीनों पहलवान अब राष्ट्रीय चैंपियनशिप में उतर सकेंगे। टूर्नामेंट में हरियाणा की तरफ से रितू, पूजा ढांडा, गीतिका जाखर, अमित दहिया, अमित धनखड़, मौसम और नवीन मोर जैसे दिग्गज पहलवान उतरेंगे। हरियाणा ने इस चैंपियनशिप के लिए 60 पहलवानों की टीम उतारी है।राष्ट्रीय चैंपियनशिप विश्व कुश्ती संस्था यूनाइटेड वर्ल्ड रेसलिंग के 10 वजन वर्गाें के नये नियम के अनुसार खेली जाएगी।"/> इंदौर, दो बार के ओलंपिक पदक विजेता सुशील कुमार सहित देश के 800 पहलवान यहां 15 से 18 नवंबर तक होने वाली सीनियर राष्ट्रीय कुश्ती प्रतियोगिता में ताल ठाेकेंगे। प्रतियोगिता में देश भर से 800 पहलवान, 100 कोच और 50 तकनीकी अधिकारी हिस्सा लेंगे।टूर्नामेंट का इस साल महत्व इस कारण भी बढ़ गया है क्योंकि दो बार ओलंपिक में पदक जीतने वाले पहलवान सुशील कुमार तीन साल से अधिक समय के बाद इस टूर्नामेंट के जरिये मैट पर वापसी कर रहे हैं। सुशील आखिरी बार 2009 में राष्ट्रीय चैंपियनशिप में खेले थे।सुशील का 2014 के राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीतने के बाद यह पहला टूर्नामेंट होगा।सुशील के आने से इस टूर्नामेंट में एक अलग ही आकर्षण पैदा हो गया है। सुशील के अलावा स्टार पहलवान विनेश फोगाट की मौजूदगी भी टूर्नामेंट का आकर्षण बढ़ाएगी।कुश्ती फेडरेशन ने विनेश के साथ प्रवीण राणा और रविंदर खत्री पर अनुशासनहीनता के कारण लगा निलंबन हटा लिया है जिससे ये तीनों पहलवान अब राष्ट्रीय चैंपियनशिप में उतर सकेंगे। टूर्नामेंट में हरियाणा की तरफ से रितू, पूजा ढांडा, गीतिका जाखर, अमित दहिया, अमित धनखड़, मौसम और नवीन मोर जैसे दिग्गज पहलवान उतरेंगे। हरियाणा ने इस चैंपियनशिप के लिए 60 पहलवानों की टीम उतारी है।राष्ट्रीय चैंपियनशिप विश्व कुश्ती संस्था यूनाइटेड वर्ल्ड रेसलिंग के 10 वजन वर्गाें के नये नियम के अनुसार खेली जाएगी।"/> इंदौर, दो बार के ओलंपिक पदक विजेता सुशील कुमार सहित देश के 800 पहलवान यहां 15 से 18 नवंबर तक होने वाली सीनियर राष्ट्रीय कुश्ती प्रतियोगिता में ताल ठाेकेंगे। प्रतियोगिता में देश भर से 800 पहलवान, 100 कोच और 50 तकनीकी अधिकारी हिस्सा लेंगे।टूर्नामेंट का इस साल महत्व इस कारण भी बढ़ गया है क्योंकि दो बार ओलंपिक में पदक जीतने वाले पहलवान सुशील कुमार तीन साल से अधिक समय के बाद इस टूर्नामेंट के जरिये मैट पर वापसी कर रहे हैं। सुशील आखिरी बार 2009 में राष्ट्रीय चैंपियनशिप में खेले थे।सुशील का 2014 के राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीतने के बाद यह पहला टूर्नामेंट होगा।सुशील के आने से इस टूर्नामेंट में एक अलग ही आकर्षण पैदा हो गया है। सुशील के अलावा स्टार पहलवान विनेश फोगाट की मौजूदगी भी टूर्नामेंट का आकर्षण बढ़ाएगी।कुश्ती फेडरेशन ने विनेश के साथ प्रवीण राणा और रविंदर खत्री पर अनुशासनहीनता के कारण लगा निलंबन हटा लिया है जिससे ये तीनों पहलवान अब राष्ट्रीय चैंपियनशिप में उतर सकेंगे। टूर्नामेंट में हरियाणा की तरफ से रितू, पूजा ढांडा, गीतिका जाखर, अमित दहिया, अमित धनखड़, मौसम और नवीन मोर जैसे दिग्गज पहलवान उतरेंगे। हरियाणा ने इस चैंपियनशिप के लिए 60 पहलवानों की टीम उतारी है।राष्ट्रीय चैंपियनशिप विश्व कुश्ती संस्था यूनाइटेड वर्ल्ड रेसलिंग के 10 वजन वर्गाें के नये नियम के अनुसार खेली जाएगी।">

राष्ट्रीय कुश्ती में उतरेंगे 800 पहलवान

2017/11/15



इंदौर, दो बार के ओलंपिक पदक विजेता सुशील कुमार सहित देश के 800 पहलवान यहां 15 से 18 नवंबर तक होने वाली सीनियर राष्ट्रीय कुश्ती प्रतियोगिता में ताल ठाेकेंगे। प्रतियोगिता में देश भर से 800 पहलवान, 100 कोच और 50 तकनीकी अधिकारी हिस्सा लेंगे।टूर्नामेंट का इस साल महत्व इस कारण भी बढ़ गया है क्योंकि दो बार ओलंपिक में पदक जीतने वाले पहलवान सुशील कुमार तीन साल से अधिक समय के बाद इस टूर्नामेंट के जरिये मैट पर वापसी कर रहे हैं। सुशील आखिरी बार 2009 में राष्ट्रीय चैंपियनशिप में खेले थे।सुशील का 2014 के राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीतने के बाद यह पहला टूर्नामेंट होगा।सुशील के आने से इस टूर्नामेंट में एक अलग ही आकर्षण पैदा हो गया है। सुशील के अलावा स्टार पहलवान विनेश फोगाट की मौजूदगी भी टूर्नामेंट का आकर्षण बढ़ाएगी।कुश्ती फेडरेशन ने विनेश के साथ प्रवीण राणा और रविंदर खत्री पर अनुशासनहीनता के कारण लगा निलंबन हटा लिया है जिससे ये तीनों पहलवान अब राष्ट्रीय चैंपियनशिप में उतर सकेंगे। टूर्नामेंट में हरियाणा की तरफ से रितू, पूजा ढांडा, गीतिका जाखर, अमित दहिया, अमित धनखड़, मौसम और नवीन मोर जैसे दिग्गज पहलवान उतरेंगे। हरियाणा ने इस चैंपियनशिप के लिए 60 पहलवानों की टीम उतारी है।राष्ट्रीय चैंपियनशिप विश्व कुश्ती संस्था यूनाइटेड वर्ल्ड रेसलिंग के 10 वजन वर्गाें के नये नियम के अनुसार खेली जाएगी।


Opinions expressed in the comments are not reflective of Nava Bharat. Comments are moderated automatically.

Related Posts