Breaking News :

भुज,  सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) ने गुजरात में कच्छ जिले के तटवर्ती अरब सागर से लगे क्रीक क्षेत्र के दलदली हरामीनाला से पांच पाकिस्तानी नौकाओं और इनमें सवार तीन लोगों को कल देर रात पकड लिया। इसके साथ ही पाकिस्तान के इस सीमावर्ती क्षेत्र से पिछले लगभग 3 माह में कुल मिला कर 28 पाकिस्तानी नौकाएं और इनमे सवार नौ लोग पकडे जा चुके हैं। ये सभी मछुआरे निकले हैं।बीएसएफ के डीआईजी स्तर के एक अधिकारी ने आज यूनीवार्ता को बताया कि चीन निर्मित पंखों से बने कम आवाज वाले मोटर लगी 25 गुणा 4 फुट आकार की पांचों नौकाएं मछली पकडनेवाली लगती हैं। पिछली बार पकडी गयी नौकाओं की ही तर्ज पर इनमें से भी मछलियां, मछली पकडने के उपकरण, कपडे, डीजल आदि मिले हैं। कोई संदिग्ध वस्तु नहीं मिली है। एहतियातन पकडे गये तीनों से पूछताछ की जा रही है। अक्सर पाकिस्तानी मछुआरे चोरी छिपे इस इलाके में घुसते रहते हैं और पकडे भी जाते हैं। सीमापार से आतंकी घुसपैठ की आशंका के चलते अरब सागर से लगे इस क्षेत्र में कडी सुरक्षा चौकसी रखी जाती है। गत 30 अक्टूबर को हरामीनाला से ऐसी एक नौका तथा एक व्यक्ति और छह और सात सितंबर को 21 नौकाएं और पांच सवार तथा 18 अगस्त को एक नौका पकडी गयी थी।"/> भुज,  सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) ने गुजरात में कच्छ जिले के तटवर्ती अरब सागर से लगे क्रीक क्षेत्र के दलदली हरामीनाला से पांच पाकिस्तानी नौकाओं और इनमें सवार तीन लोगों को कल देर रात पकड लिया। इसके साथ ही पाकिस्तान के इस सीमावर्ती क्षेत्र से पिछले लगभग 3 माह में कुल मिला कर 28 पाकिस्तानी नौकाएं और इनमे सवार नौ लोग पकडे जा चुके हैं। ये सभी मछुआरे निकले हैं।बीएसएफ के डीआईजी स्तर के एक अधिकारी ने आज यूनीवार्ता को बताया कि चीन निर्मित पंखों से बने कम आवाज वाले मोटर लगी 25 गुणा 4 फुट आकार की पांचों नौकाएं मछली पकडनेवाली लगती हैं। पिछली बार पकडी गयी नौकाओं की ही तर्ज पर इनमें से भी मछलियां, मछली पकडने के उपकरण, कपडे, डीजल आदि मिले हैं। कोई संदिग्ध वस्तु नहीं मिली है। एहतियातन पकडे गये तीनों से पूछताछ की जा रही है। अक्सर पाकिस्तानी मछुआरे चोरी छिपे इस इलाके में घुसते रहते हैं और पकडे भी जाते हैं। सीमापार से आतंकी घुसपैठ की आशंका के चलते अरब सागर से लगे इस क्षेत्र में कडी सुरक्षा चौकसी रखी जाती है। गत 30 अक्टूबर को हरामीनाला से ऐसी एक नौका तथा एक व्यक्ति और छह और सात सितंबर को 21 नौकाएं और पांच सवार तथा 18 अगस्त को एक नौका पकडी गयी थी।"/> भुज,  सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) ने गुजरात में कच्छ जिले के तटवर्ती अरब सागर से लगे क्रीक क्षेत्र के दलदली हरामीनाला से पांच पाकिस्तानी नौकाओं और इनमें सवार तीन लोगों को कल देर रात पकड लिया। इसके साथ ही पाकिस्तान के इस सीमावर्ती क्षेत्र से पिछले लगभग 3 माह में कुल मिला कर 28 पाकिस्तानी नौकाएं और इनमे सवार नौ लोग पकडे जा चुके हैं। ये सभी मछुआरे निकले हैं।बीएसएफ के डीआईजी स्तर के एक अधिकारी ने आज यूनीवार्ता को बताया कि चीन निर्मित पंखों से बने कम आवाज वाले मोटर लगी 25 गुणा 4 फुट आकार की पांचों नौकाएं मछली पकडनेवाली लगती हैं। पिछली बार पकडी गयी नौकाओं की ही तर्ज पर इनमें से भी मछलियां, मछली पकडने के उपकरण, कपडे, डीजल आदि मिले हैं। कोई संदिग्ध वस्तु नहीं मिली है। एहतियातन पकडे गये तीनों से पूछताछ की जा रही है। अक्सर पाकिस्तानी मछुआरे चोरी छिपे इस इलाके में घुसते रहते हैं और पकडे भी जाते हैं। सीमापार से आतंकी घुसपैठ की आशंका के चलते अरब सागर से लगे इस क्षेत्र में कडी सुरक्षा चौकसी रखी जाती है। गत 30 अक्टूबर को हरामीनाला से ऐसी एक नौका तथा एक व्यक्ति और छह और सात सितंबर को 21 नौकाएं और पांच सवार तथा 18 अगस्त को एक नौका पकडी गयी थी।">

बीएसएफ ने गुजरात तट के निकट 5 पाकिस्तानी नौकाएं, 3 सवार पकडे

2017/11/10



भुज,  सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) ने गुजरात में कच्छ जिले के तटवर्ती अरब सागर से लगे क्रीक क्षेत्र के दलदली हरामीनाला से पांच पाकिस्तानी नौकाओं और इनमें सवार तीन लोगों को कल देर रात पकड लिया। इसके साथ ही पाकिस्तान के इस सीमावर्ती क्षेत्र से पिछले लगभग 3 माह में कुल मिला कर 28 पाकिस्तानी नौकाएं और इनमे सवार नौ लोग पकडे जा चुके हैं। ये सभी मछुआरे निकले हैं।बीएसएफ के डीआईजी स्तर के एक अधिकारी ने आज यूनीवार्ता को बताया कि चीन निर्मित पंखों से बने कम आवाज वाले मोटर लगी 25 गुणा 4 फुट आकार की पांचों नौकाएं मछली पकडनेवाली लगती हैं। पिछली बार पकडी गयी नौकाओं की ही तर्ज पर इनमें से भी मछलियां, मछली पकडने के उपकरण, कपडे, डीजल आदि मिले हैं। कोई संदिग्ध वस्तु नहीं मिली है। एहतियातन पकडे गये तीनों से पूछताछ की जा रही है। अक्सर पाकिस्तानी मछुआरे चोरी छिपे इस इलाके में घुसते रहते हैं और पकडे भी जाते हैं। सीमापार से आतंकी घुसपैठ की आशंका के चलते अरब सागर से लगे इस क्षेत्र में कडी सुरक्षा चौकसी रखी जाती है। गत 30 अक्टूबर को हरामीनाला से ऐसी एक नौका तथा एक व्यक्ति और छह और सात सितंबर को 21 नौकाएं और पांच सवार तथा 18 अगस्त को एक नौका पकडी गयी थी।


Opinions expressed in the comments are not reflective of Nava Bharat. Comments are moderated automatically.

Related Posts