Breaking News :

पेंशनभोगियों के लिए डिजीटल सेवा

2017/12/30



पेंशनरों को जीवित होने का प्रमाण देने के चक्कर से मिलेगी मुक्ति, पेंशन संख्या को कराना होगा आधार से लिंक नवभारत न्यूज भोपाल, पेंशन का लाभ पाने वाले डाक विभाग व केंद्र सरकार के सभी पेेंशनरों को हर साल जीवित होने के प्रमाण देने हेतु काफी चक्कर काटने पड़ते है, जिसे भारतीय डाक विभाग ने अब सुविधाजनक बना दिया है. जिसमें पेंशन भुगतान आवेदन (पीपीओ), आधार संख्या एवं बैंक खाता आदि की जानकारी प्रधान डाकघर में देनी होगी. राज्य के सभी प्रधान डाकघरों में इसकी शुरूआत कर दी गई है. म.प्र. परिमंडल मुख्य पोस्ट मास्टर जनरल द्वारा इससे संबंधित पत्र सभी प्रधान डाकघरों को भेजा है.पोस्ट मास्टर जनरल ने बताया कि प्रधान डाकघर में पेंशनरों के लिये डिजीटल जीवन प्रमाण पत्र की सुविधा चालू कर दी गई है. इसके लिये उन्हें पेंशन भुगतान आदेश (पीपीओ), आधार संख्या एवं बैंक खाता आदि की जानकारी उपलब्ध करानी होती है. कैसे जीतेंगे वृद्धों का भरोसा एक तरफ देश डिजीटलीकरण की तरफ बढ़ रहा है. वहीं ग्रामीण क्षेत्र में वृद्धजन अभी तक आधार कार्ड से वंचित हैं. ऐसे में उन्हें फायदा पहुंचाना नाकाम हो सकता है. ग्रामीण क्षेत्रों में साक्षरता और ऑनलाइन सेन्टरों की कमी के बाद लोगों में इसे लागू करने में समस्या आयेगी. वहीं कमजोर व असहाय वृद्धजनों का सेन्टरों में गलत तरीके से ज्यादा रकम खींचने का मामला पहले भी प्रकाश में आ चुका है. कैसे करेंगे जमा इसमें पेंशनरों के पेंशन संख्या को उसके आधार संख्या व बैंक खाते के साथ जोड़ा जायेगा. इसके बाद आधार से जुड़ी एक यूनिक संख्या जनरेट की जायेगी, जिसमें बायोमैट्रिक मशीन में अंगुली का निशान देकर पेंशनर अपना जीवन प्रमाण पत्र कहीं से भी जमा करवा सकते हैं. डिजीटल की सुविधा पेंशनधारियों के लिये जीवन प्रमाण पत्र जमा करने आधार कार्ड पर आधारित पद्धति द्वारा इलेक्ट्रॉनिक सुविधा शुरू की गई है. इसके तहत भारतीय डाक विभाग के अपने पेंशनरों के साथ-साथ केंद्रीय सरकार के सभी पेंशनरों को डिजीटल जीवन प्रमाण पत्र उपलब्ध करायेगा, जिससे उन्हें जीवित होने के प्रमाण के लिये हर साल ऑफिस-ऑफिस नहीं भटकना पड़ेगा. इस व्यवस्था के तहत पेंशनर बिना कार्यालय गये पूरे भारत में कहीं से भी जमा कर सकते हैं.


Opinions expressed in the comments are not reflective of Nava Bharat. Comments are moderated automatically.

Related Posts