Breaking News :

  इस्लामाबाद, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहिद खाकन अब्बासी ने कहा है कि पाकिस्तान आतंकवादियों नहीं, संतों का देश है। दुनिया न्यूज की आज की रिपोर्ट के अनुसार श्री अब्बासी शुक्रवार को लाहौर साहित्यिक उत्सव के सिलसिले में गवर्नर हाउस में आयोजित समारोह को संबोधित कर रहे थे। प्रधानमंत्री ने कहा,“ पश्चिमी मीडिया ने पाकिस्तान को बदनाम कर रखा है जबकि यहां की सांस्कृतिक धरोहर और संतों की शिक्षा देश की सच्ची सूरत है।” श्री अब्बासी ने कहा कि लाहौर साहित्यिक उत्सव से समाज में सहिष्णुता बढ़ेगी और विभिन्न देशों से आने वाले शिष्टमंडल हमारे यहां से प्रेम का संदेश ले जायेंगे। इस मौके पर नामी गिरामी लेखक,विचारक और विशिष्ट जन मौजूद थे।"/>   इस्लामाबाद, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहिद खाकन अब्बासी ने कहा है कि पाकिस्तान आतंकवादियों नहीं, संतों का देश है। दुनिया न्यूज की आज की रिपोर्ट के अनुसार श्री अब्बासी शुक्रवार को लाहौर साहित्यिक उत्सव के सिलसिले में गवर्नर हाउस में आयोजित समारोह को संबोधित कर रहे थे। प्रधानमंत्री ने कहा,“ पश्चिमी मीडिया ने पाकिस्तान को बदनाम कर रखा है जबकि यहां की सांस्कृतिक धरोहर और संतों की शिक्षा देश की सच्ची सूरत है।” श्री अब्बासी ने कहा कि लाहौर साहित्यिक उत्सव से समाज में सहिष्णुता बढ़ेगी और विभिन्न देशों से आने वाले शिष्टमंडल हमारे यहां से प्रेम का संदेश ले जायेंगे। इस मौके पर नामी गिरामी लेखक,विचारक और विशिष्ट जन मौजूद थे।"/>   इस्लामाबाद, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहिद खाकन अब्बासी ने कहा है कि पाकिस्तान आतंकवादियों नहीं, संतों का देश है। दुनिया न्यूज की आज की रिपोर्ट के अनुसार श्री अब्बासी शुक्रवार को लाहौर साहित्यिक उत्सव के सिलसिले में गवर्नर हाउस में आयोजित समारोह को संबोधित कर रहे थे। प्रधानमंत्री ने कहा,“ पश्चिमी मीडिया ने पाकिस्तान को बदनाम कर रखा है जबकि यहां की सांस्कृतिक धरोहर और संतों की शिक्षा देश की सच्ची सूरत है।” श्री अब्बासी ने कहा कि लाहौर साहित्यिक उत्सव से समाज में सहिष्णुता बढ़ेगी और विभिन्न देशों से आने वाले शिष्टमंडल हमारे यहां से प्रेम का संदेश ले जायेंगे। इस मौके पर नामी गिरामी लेखक,विचारक और विशिष्ट जन मौजूद थे।">

पाकिस्तान संतों की धरती: अब्बासी

2018/02/24



 
इस्लामाबाद, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहिद खाकन अब्बासी ने कहा है कि पाकिस्तान आतंकवादियों नहीं, संतों का देश है। दुनिया न्यूज की आज की रिपोर्ट के अनुसार श्री अब्बासी शुक्रवार को लाहौर साहित्यिक उत्सव के सिलसिले में गवर्नर हाउस में आयोजित समारोह को संबोधित कर रहे थे। प्रधानमंत्री ने कहा,“ पश्चिमी मीडिया ने पाकिस्तान को बदनाम कर रखा है जबकि यहां की सांस्कृतिक धरोहर और संतों की शिक्षा देश की सच्ची सूरत है।” श्री अब्बासी ने कहा कि लाहौर साहित्यिक उत्सव से समाज में सहिष्णुता बढ़ेगी और विभिन्न देशों से आने वाले शिष्टमंडल हमारे यहां से प्रेम का संदेश ले जायेंगे। इस मौके पर नामी गिरामी लेखक,विचारक और विशिष्ट जन मौजूद थे।


Opinions expressed in the comments are not reflective of Nava Bharat. Comments are moderated automatically.

Related Posts