Breaking News :

नई दिल्ली,  कांग्रेस ने नोटबंदी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारतीय रिजर्व बैंक पर सीधा हमला बोलते हुए आज कहा कि यह जन विरोधी कदम उठाकर अर्थव्यवस्था को पटरी से उतारने के लिए उन्हें देशवासियों से माफी मांगनी होगी अन्यथा पार्टी का संघर्ष जारी रहेगा . देश भर में रिजर्व बैंक की 33 शाखाओं के घेराव के पार्टी के कार्यक्रम के तहत यहां जंतर-मंतर पर आयोजित धरने को संबोधित करते हुए राज्यसभा के पार्टी के उपनेता आनंद शर्मा ने कहा कि नोटबंदी के कारण देश में हाहाकार मचा हुआ है. इसकी मार देश के हर तबके खासकर किसान, युवा, मध्यम वर्ग, व्यापारी और महिलाओं पर पड़ी है. इसलिए कांग्रेस को सडक़ पर उतरना पड़ा है. मोदी पर निशाना साधते हुए शर्मा ने कहा वह खुद को फकीर बताते है और फकीर बनकर उन्होंने देश को लूट लिया . यह प्रधानमंत्री का काम नहीं है कि वह पेटीएम का ब्रांड अबेंसडर बने. नोटबंदी को शताब्दी को सबसे बड़ा घोटाला बताते हुए उन्होंने आरोप लगाया कि लोग एटीएम के बाहर लाइन में खड़े थे और आरबीआई से नये नोट भारतीय जनता पार्टी के नेताओं के घर पहुंच रहे थे . प्रधानमंत्री और आरबीआई ने पूरे मामले पर चुप्पी साध रखी है. मुंबई में कांग्रेस संचार विभाग के प्रमुख रणदीपङ्क्षसह सुरजेवाला के नेतृत्व में पार्टी के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने रिजर्व बैंक का घेराव करते हुए मोदी सरकार के विरोध में नारे लगाए और विरोध प्रदर्शन किया. इस दौरान अशोक चव्हाण, हर्षबर्धन पाटिल, संजय निरुपम सहित कई प्रमुख नेता मौजूद थे."/> नई दिल्ली,  कांग्रेस ने नोटबंदी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारतीय रिजर्व बैंक पर सीधा हमला बोलते हुए आज कहा कि यह जन विरोधी कदम उठाकर अर्थव्यवस्था को पटरी से उतारने के लिए उन्हें देशवासियों से माफी मांगनी होगी अन्यथा पार्टी का संघर्ष जारी रहेगा . देश भर में रिजर्व बैंक की 33 शाखाओं के घेराव के पार्टी के कार्यक्रम के तहत यहां जंतर-मंतर पर आयोजित धरने को संबोधित करते हुए राज्यसभा के पार्टी के उपनेता आनंद शर्मा ने कहा कि नोटबंदी के कारण देश में हाहाकार मचा हुआ है. इसकी मार देश के हर तबके खासकर किसान, युवा, मध्यम वर्ग, व्यापारी और महिलाओं पर पड़ी है. इसलिए कांग्रेस को सडक़ पर उतरना पड़ा है. मोदी पर निशाना साधते हुए शर्मा ने कहा वह खुद को फकीर बताते है और फकीर बनकर उन्होंने देश को लूट लिया . यह प्रधानमंत्री का काम नहीं है कि वह पेटीएम का ब्रांड अबेंसडर बने. नोटबंदी को शताब्दी को सबसे बड़ा घोटाला बताते हुए उन्होंने आरोप लगाया कि लोग एटीएम के बाहर लाइन में खड़े थे और आरबीआई से नये नोट भारतीय जनता पार्टी के नेताओं के घर पहुंच रहे थे . प्रधानमंत्री और आरबीआई ने पूरे मामले पर चुप्पी साध रखी है. मुंबई में कांग्रेस संचार विभाग के प्रमुख रणदीपङ्क्षसह सुरजेवाला के नेतृत्व में पार्टी के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने रिजर्व बैंक का घेराव करते हुए मोदी सरकार के विरोध में नारे लगाए और विरोध प्रदर्शन किया. इस दौरान अशोक चव्हाण, हर्षबर्धन पाटिल, संजय निरुपम सहित कई प्रमुख नेता मौजूद थे."/> नई दिल्ली,  कांग्रेस ने नोटबंदी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारतीय रिजर्व बैंक पर सीधा हमला बोलते हुए आज कहा कि यह जन विरोधी कदम उठाकर अर्थव्यवस्था को पटरी से उतारने के लिए उन्हें देशवासियों से माफी मांगनी होगी अन्यथा पार्टी का संघर्ष जारी रहेगा . देश भर में रिजर्व बैंक की 33 शाखाओं के घेराव के पार्टी के कार्यक्रम के तहत यहां जंतर-मंतर पर आयोजित धरने को संबोधित करते हुए राज्यसभा के पार्टी के उपनेता आनंद शर्मा ने कहा कि नोटबंदी के कारण देश में हाहाकार मचा हुआ है. इसकी मार देश के हर तबके खासकर किसान, युवा, मध्यम वर्ग, व्यापारी और महिलाओं पर पड़ी है. इसलिए कांग्रेस को सडक़ पर उतरना पड़ा है. मोदी पर निशाना साधते हुए शर्मा ने कहा वह खुद को फकीर बताते है और फकीर बनकर उन्होंने देश को लूट लिया . यह प्रधानमंत्री का काम नहीं है कि वह पेटीएम का ब्रांड अबेंसडर बने. नोटबंदी को शताब्दी को सबसे बड़ा घोटाला बताते हुए उन्होंने आरोप लगाया कि लोग एटीएम के बाहर लाइन में खड़े थे और आरबीआई से नये नोट भारतीय जनता पार्टी के नेताओं के घर पहुंच रहे थे . प्रधानमंत्री और आरबीआई ने पूरे मामले पर चुप्पी साध रखी है. मुंबई में कांग्रेस संचार विभाग के प्रमुख रणदीपङ्क्षसह सुरजेवाला के नेतृत्व में पार्टी के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने रिजर्व बैंक का घेराव करते हुए मोदी सरकार के विरोध में नारे लगाए और विरोध प्रदर्शन किया. इस दौरान अशोक चव्हाण, हर्षबर्धन पाटिल, संजय निरुपम सहित कई प्रमुख नेता मौजूद थे.">

नोटबंदी कांग्रेस का देशव्यापी प्रदर्शन

2017/01/19



नई दिल्ली,  कांग्रेस ने नोटबंदी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारतीय रिजर्व बैंक पर सीधा हमला बोलते हुए आज कहा कि यह जन विरोधी कदम उठाकर अर्थव्यवस्था को पटरी से उतारने के लिए उन्हें देशवासियों से माफी मांगनी होगी अन्यथा पार्टी का संघर्ष जारी रहेगा . देश भर में रिजर्व बैंक की 33 शाखाओं के घेराव के पार्टी के कार्यक्रम के तहत यहां जंतर-मंतर पर आयोजित धरने को संबोधित करते हुए राज्यसभा के पार्टी के उपनेता आनंद शर्मा ने कहा कि नोटबंदी के कारण देश में हाहाकार मचा हुआ है. इसकी मार देश के हर तबके खासकर किसान, युवा, मध्यम वर्ग, व्यापारी और महिलाओं पर पड़ी है. इसलिए कांग्रेस को सडक़ पर उतरना पड़ा है. मोदी पर निशाना साधते हुए शर्मा ने कहा वह खुद को फकीर बताते है और फकीर बनकर उन्होंने देश को लूट लिया . यह प्रधानमंत्री का काम नहीं है कि वह पेटीएम का ब्रांड अबेंसडर बने. नोटबंदी को शताब्दी को सबसे बड़ा घोटाला बताते हुए उन्होंने आरोप लगाया कि लोग एटीएम के बाहर लाइन में खड़े थे और आरबीआई से नये नोट भारतीय जनता पार्टी के नेताओं के घर पहुंच रहे थे . प्रधानमंत्री और आरबीआई ने पूरे मामले पर चुप्पी साध रखी है. मुंबई में कांग्रेस संचार विभाग के प्रमुख रणदीपङ्क्षसह सुरजेवाला के नेतृत्व में पार्टी के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने रिजर्व बैंक का घेराव करते हुए मोदी सरकार के विरोध में नारे लगाए और विरोध प्रदर्शन किया. इस दौरान अशोक चव्हाण, हर्षबर्धन पाटिल, संजय निरुपम सहित कई प्रमुख नेता मौजूद थे.


Opinions expressed in the comments are not reflective of Nava Bharat. Comments are moderated automatically.

Related Posts