Breaking News :

नयी दिल्ली, बिहार के मुख्यमंत्री और जनता दल (यूनाइटेड):जदयू: के प्रमुख नीतीश कुमार आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा मॉरिशस के प्रधानमंत्री प्रवीन्द्र कुमार जगन्नाथ के सम्मान में दिये गये भोज में शरीक हुये, पटना से आज यहां पंहुचे श्री कुमार ने संवाददाताओं से कहा कि श्री मोदी ने इस भोज में शामिल होने के लिए उन्हें आमंत्रित किया है। उन्होंने कहा कि मॉरिशस के प्रधानमंत्री बिहार मूल के हैं,इसके कारण भी वह इस भोज में शामिल हो रहे हैं। जद (यू)अध्यक्ष प्रधानमंत्री से अलग से भी बातचीत करेंगे जिसमें गंगा नदी में प्रदूषण और गाद की समस्या पर चर्चा किये जाने की संभावना है। श्री कुमार और और वहां के राजनीतिक दल बिहार के विकास के लिए अलग पैकेज की मांग करते रहे हैं। श्री कुमार के कल कांग्रेस अध्यक्ष की ओर से विपक्षी दलों के लिए आयोजित भोज में शामिल नहीं होने तथा श्री मोदी से मिलने आज यहां पहुंचने को लेकर तरह-तरह के कयास लगाये जा रहे हैं। उन्होंने इन्हें खारिज करते हुये कल पटना में कहा था कि मीडिया इसकी गलत व्याख्या कर रही है। उन्होंने कहा था, “श्रीमती गांधी की बैठक में मेरे व्यक्तिगत रूप से शामिल नहीं होने को लेकर गलत व्याख्या की जा रही है जबकि मैं कुछ दिन पहले ही उनसे मिल चुका हूं। साथ ही मेरी सरकारी कार्यक्रमों को लेकर चल रही व्यवस्तता से भी मैने उनको अवगत करा दिया है।”"/> नयी दिल्ली, बिहार के मुख्यमंत्री और जनता दल (यूनाइटेड):जदयू: के प्रमुख नीतीश कुमार आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा मॉरिशस के प्रधानमंत्री प्रवीन्द्र कुमार जगन्नाथ के सम्मान में दिये गये भोज में शरीक हुये, पटना से आज यहां पंहुचे श्री कुमार ने संवाददाताओं से कहा कि श्री मोदी ने इस भोज में शामिल होने के लिए उन्हें आमंत्रित किया है। उन्होंने कहा कि मॉरिशस के प्रधानमंत्री बिहार मूल के हैं,इसके कारण भी वह इस भोज में शामिल हो रहे हैं। जद (यू)अध्यक्ष प्रधानमंत्री से अलग से भी बातचीत करेंगे जिसमें गंगा नदी में प्रदूषण और गाद की समस्या पर चर्चा किये जाने की संभावना है। श्री कुमार और और वहां के राजनीतिक दल बिहार के विकास के लिए अलग पैकेज की मांग करते रहे हैं। श्री कुमार के कल कांग्रेस अध्यक्ष की ओर से विपक्षी दलों के लिए आयोजित भोज में शामिल नहीं होने तथा श्री मोदी से मिलने आज यहां पहुंचने को लेकर तरह-तरह के कयास लगाये जा रहे हैं। उन्होंने इन्हें खारिज करते हुये कल पटना में कहा था कि मीडिया इसकी गलत व्याख्या कर रही है। उन्होंने कहा था, “श्रीमती गांधी की बैठक में मेरे व्यक्तिगत रूप से शामिल नहीं होने को लेकर गलत व्याख्या की जा रही है जबकि मैं कुछ दिन पहले ही उनसे मिल चुका हूं। साथ ही मेरी सरकारी कार्यक्रमों को लेकर चल रही व्यवस्तता से भी मैने उनको अवगत करा दिया है।”"/> नयी दिल्ली, बिहार के मुख्यमंत्री और जनता दल (यूनाइटेड):जदयू: के प्रमुख नीतीश कुमार आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा मॉरिशस के प्रधानमंत्री प्रवीन्द्र कुमार जगन्नाथ के सम्मान में दिये गये भोज में शरीक हुये, पटना से आज यहां पंहुचे श्री कुमार ने संवाददाताओं से कहा कि श्री मोदी ने इस भोज में शामिल होने के लिए उन्हें आमंत्रित किया है। उन्होंने कहा कि मॉरिशस के प्रधानमंत्री बिहार मूल के हैं,इसके कारण भी वह इस भोज में शामिल हो रहे हैं। जद (यू)अध्यक्ष प्रधानमंत्री से अलग से भी बातचीत करेंगे जिसमें गंगा नदी में प्रदूषण और गाद की समस्या पर चर्चा किये जाने की संभावना है। श्री कुमार और और वहां के राजनीतिक दल बिहार के विकास के लिए अलग पैकेज की मांग करते रहे हैं। श्री कुमार के कल कांग्रेस अध्यक्ष की ओर से विपक्षी दलों के लिए आयोजित भोज में शामिल नहीं होने तथा श्री मोदी से मिलने आज यहां पहुंचने को लेकर तरह-तरह के कयास लगाये जा रहे हैं। उन्होंने इन्हें खारिज करते हुये कल पटना में कहा था कि मीडिया इसकी गलत व्याख्या कर रही है। उन्होंने कहा था, “श्रीमती गांधी की बैठक में मेरे व्यक्तिगत रूप से शामिल नहीं होने को लेकर गलत व्याख्या की जा रही है जबकि मैं कुछ दिन पहले ही उनसे मिल चुका हूं। साथ ही मेरी सरकारी कार्यक्रमों को लेकर चल रही व्यवस्तता से भी मैने उनको अवगत करा दिया है।”">

नीतीश शरीक हुए मोदी के भोज में

2017/05/27



नयी दिल्ली, बिहार के मुख्यमंत्री और जनता दल (यूनाइटेड):जदयू: के प्रमुख नीतीश कुमार आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा मॉरिशस के प्रधानमंत्री प्रवीन्द्र कुमार जगन्नाथ के सम्मान में दिये गये भोज में शरीक हुये, पटना से आज यहां पंहुचे श्री कुमार ने संवाददाताओं से कहा कि श्री मोदी ने इस भोज में शामिल होने के लिए उन्हें आमंत्रित किया है। उन्होंने कहा कि मॉरिशस के प्रधानमंत्री बिहार मूल के हैं,इसके कारण भी वह इस भोज में शामिल हो रहे हैं। जद (यू)अध्यक्ष प्रधानमंत्री से अलग से भी बातचीत करेंगे जिसमें गंगा नदी में प्रदूषण और गाद की समस्या पर चर्चा किये जाने की संभावना है। श्री कुमार और और वहां के राजनीतिक दल बिहार के विकास के लिए अलग पैकेज की मांग करते रहे हैं। श्री कुमार के कल कांग्रेस अध्यक्ष की ओर से विपक्षी दलों के लिए आयोजित भोज में शामिल नहीं होने तथा श्री मोदी से मिलने आज यहां पहुंचने को लेकर तरह-तरह के कयास लगाये जा रहे हैं। उन्होंने इन्हें खारिज करते हुये कल पटना में कहा था कि मीडिया इसकी गलत व्याख्या कर रही है। उन्होंने कहा था, “श्रीमती गांधी की बैठक में मेरे व्यक्तिगत रूप से शामिल नहीं होने को लेकर गलत व्याख्या की जा रही है जबकि मैं कुछ दिन पहले ही उनसे मिल चुका हूं। साथ ही मेरी सरकारी कार्यक्रमों को लेकर चल रही व्यवस्तता से भी मैने उनको अवगत करा दिया है।”


Opinions expressed in the comments are not reflective of Nava Bharat. Comments are moderated automatically.

Related Posts