Breaking News :

सेंचुरियन, जबरदस्त लय और ऊंचे मनोबल के साथ दक्षिण अफ्रीका पहुंची कप्तान विराट कोहली की नंबर वन भारतीय टीम अफ्रीका की जमीन पर 25 वर्षाें बाद भी अपवाद साबित नहीं हो सकी और बुधवार को करो या मरो के दूसरे क्रिकेट टेस्ट में 135 रनों से पराजित होने के साथ सीरीज़ भी गंवा बैठी। भारतीय टीम केपटाउन में पहला मैच हारकर तीन टेस्टों की सीरीज़ में 0-1 से पिछड़ चुकी थी लेकिन रेामांच और आक्रामकता से भरे दूसरे टेस्ट में टीम 287 रन के लक्ष्य का पीछा नहीं कर सकी और दक्षिण अफ्रीका की उछाल भरी पिचों पर घूमती गेंदों के सामने पूरी टीम 50.2 ओवरों में 151 रन पर ढेर हो गयी। इसी के साथ मेज़बान टीम ने 2-0 से सीरीज़ में अपराजेय बढ़त कायम कर ली है। लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम के लिये मध्यक्रम के बल्लेबाज़ रोहित शर्मा 47 रन की पारी खेलकर सबसे सफल रहे जबकि पहली पारी में 153 रन की बेहतरीन शतकीय पारी खेलने वाले विराट दूसरी पारी में पांच रन पर आउट हुये। लुंगी एनगिदी ने जसप्रीत बुमराह को वेर्नोन फिलेंडर के हाथों कैच कराकर भारत का आखिरी विकेट निकाला। वह दूसरी पारी में 39 रन पर सर्वाधिक छह विकेट लेकर दक्षिण अफ्रीका के सबसे सफल गेंदबाज़ रहे।"/> सेंचुरियन, जबरदस्त लय और ऊंचे मनोबल के साथ दक्षिण अफ्रीका पहुंची कप्तान विराट कोहली की नंबर वन भारतीय टीम अफ्रीका की जमीन पर 25 वर्षाें बाद भी अपवाद साबित नहीं हो सकी और बुधवार को करो या मरो के दूसरे क्रिकेट टेस्ट में 135 रनों से पराजित होने के साथ सीरीज़ भी गंवा बैठी। भारतीय टीम केपटाउन में पहला मैच हारकर तीन टेस्टों की सीरीज़ में 0-1 से पिछड़ चुकी थी लेकिन रेामांच और आक्रामकता से भरे दूसरे टेस्ट में टीम 287 रन के लक्ष्य का पीछा नहीं कर सकी और दक्षिण अफ्रीका की उछाल भरी पिचों पर घूमती गेंदों के सामने पूरी टीम 50.2 ओवरों में 151 रन पर ढेर हो गयी। इसी के साथ मेज़बान टीम ने 2-0 से सीरीज़ में अपराजेय बढ़त कायम कर ली है। लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम के लिये मध्यक्रम के बल्लेबाज़ रोहित शर्मा 47 रन की पारी खेलकर सबसे सफल रहे जबकि पहली पारी में 153 रन की बेहतरीन शतकीय पारी खेलने वाले विराट दूसरी पारी में पांच रन पर आउट हुये। लुंगी एनगिदी ने जसप्रीत बुमराह को वेर्नोन फिलेंडर के हाथों कैच कराकर भारत का आखिरी विकेट निकाला। वह दूसरी पारी में 39 रन पर सर्वाधिक छह विकेट लेकर दक्षिण अफ्रीका के सबसे सफल गेंदबाज़ रहे।"/> सेंचुरियन, जबरदस्त लय और ऊंचे मनोबल के साथ दक्षिण अफ्रीका पहुंची कप्तान विराट कोहली की नंबर वन भारतीय टीम अफ्रीका की जमीन पर 25 वर्षाें बाद भी अपवाद साबित नहीं हो सकी और बुधवार को करो या मरो के दूसरे क्रिकेट टेस्ट में 135 रनों से पराजित होने के साथ सीरीज़ भी गंवा बैठी। भारतीय टीम केपटाउन में पहला मैच हारकर तीन टेस्टों की सीरीज़ में 0-1 से पिछड़ चुकी थी लेकिन रेामांच और आक्रामकता से भरे दूसरे टेस्ट में टीम 287 रन के लक्ष्य का पीछा नहीं कर सकी और दक्षिण अफ्रीका की उछाल भरी पिचों पर घूमती गेंदों के सामने पूरी टीम 50.2 ओवरों में 151 रन पर ढेर हो गयी। इसी के साथ मेज़बान टीम ने 2-0 से सीरीज़ में अपराजेय बढ़त कायम कर ली है। लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम के लिये मध्यक्रम के बल्लेबाज़ रोहित शर्मा 47 रन की पारी खेलकर सबसे सफल रहे जबकि पहली पारी में 153 रन की बेहतरीन शतकीय पारी खेलने वाले विराट दूसरी पारी में पांच रन पर आउट हुये। लुंगी एनगिदी ने जसप्रीत बुमराह को वेर्नोन फिलेंडर के हाथों कैच कराकर भारत का आखिरी विकेट निकाला। वह दूसरी पारी में 39 रन पर सर्वाधिक छह विकेट लेकर दक्षिण अफ्रीका के सबसे सफल गेंदबाज़ रहे।">

द.अफ्रीका में 25 साल बाद भी अपवाद साबित नहीं हुई ‘टीम विराट’

2018/01/17



सेंचुरियन, जबरदस्त लय और ऊंचे मनोबल के साथ दक्षिण अफ्रीका पहुंची कप्तान विराट कोहली की नंबर वन भारतीय टीम अफ्रीका की जमीन पर 25 वर्षाें बाद भी अपवाद साबित नहीं हो सकी और बुधवार को करो या मरो के दूसरे क्रिकेट टेस्ट में 135 रनों से पराजित होने के साथ सीरीज़ भी गंवा बैठी। भारतीय टीम केपटाउन में पहला मैच हारकर तीन टेस्टों की सीरीज़ में 0-1 से पिछड़ चुकी थी लेकिन रेामांच और आक्रामकता से भरे दूसरे टेस्ट में टीम 287 रन के लक्ष्य का पीछा नहीं कर सकी और दक्षिण अफ्रीका की उछाल भरी पिचों पर घूमती गेंदों के सामने पूरी टीम 50.2 ओवरों में 151 रन पर ढेर हो गयी। इसी के साथ मेज़बान टीम ने 2-0 से सीरीज़ में अपराजेय बढ़त कायम कर ली है। लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम के लिये मध्यक्रम के बल्लेबाज़ रोहित शर्मा 47 रन की पारी खेलकर सबसे सफल रहे जबकि पहली पारी में 153 रन की बेहतरीन शतकीय पारी खेलने वाले विराट दूसरी पारी में पांच रन पर आउट हुये। लुंगी एनगिदी ने जसप्रीत बुमराह को वेर्नोन फिलेंडर के हाथों कैच कराकर भारत का आखिरी विकेट निकाला। वह दूसरी पारी में 39 रन पर सर्वाधिक छह विकेट लेकर दक्षिण अफ्रीका के सबसे सफल गेंदबाज़ रहे।


Opinions expressed in the comments are not reflective of Nava Bharat. Comments are moderated automatically.

Related Posts