Breaking News :

द्रमुक प्रायोजित बंद का कावेरी डेल्टा जिलों में व्यापक असर, स्टालिन हिरासत में

2017/04/25



` तिरूवरूर,  तमिलनाडु के सूखा प्रभावित किसानों के समर्थन में द्रविड़ मुनेत्र कषगम (द्रमुक) नीत विपक्षी पार्टियों के राज्यव्यापी बंद का आज कावेरी डेल्टा जिलों में व्यापक असर देखने को मिल रहा है और तिरूवरूर में बड़े स्तर पर विरोध प्रदर्शन करने का प्रयास कर रहे द्रमुक के कार्यकारी अध्यक्ष एम.के स्टालिन समेत सैंकड़ों पार्टी कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया गया। श्री स्टालिन के साथ पूर्व केन्द्रीय मंत्री टी.आर बालू एवं वरिष्ठ पार्टी नेताओं और कांग्रेस, माकपा, भाकपा, वीसीके तथा आईयूएमएल के सैकड़ों कार्यकर्ताओं के अलावा किसानों और व्यापारियों ने तिरूवरूर में सुबह तिरक्कू विधि से नये बस स्टैंड तक एक रैली निकाली और प्रदर्शन किया। पुलिस ने श्री स्टालिन और प्रदर्शनकारियों को हिरासत में ले लिया। द्रमुक नेता एवं पूर्व मंत्री के.एन.नेहरू और पार्टी के कई कार्यकर्ताओं को तिरूचिरापल्ली में केन्द्रीय बस स्टैंड पर जाम लगाने के प्रयास में हिरासत में लिया गया। पुलिस ने अखिल तमिलनाडु किसान एसोसिएशन की समन्वय समिति के अध्यक्ष पी आर पांडियन समेत कई किसानों को उस समय हिरासत में लिया जब वे तिरूवरूर जिले के कुलीकरई में थंजावुर-करईक्कल यात्री ट्रेन को रोक रहे थे। ये किसान कावेरी प्रबंधन बोर्ड (सीएमबी) का गठन किये जाने की मांग कर रहे थे। पुलिस ने पुडुकोट्टई के अलांगुडी में रोड-रोको अभियान चला रहे द्रमुक कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया। यहां प्राप्त रिपोर्टों के अनुसार विभिन्न राजनीतिक पार्टियों और किसानों को दक्षिणी, मध्य तथा डेल्टा जिलों में रेल और सड़क यातायात को बाधित करने का प्रयास करने पर हिरासत में लिया।


Opinions expressed in the comments are not reflective of Nava Bharat. Comments are moderated automatically.

Related Posts