Breaking News :

विद्यार्थियों को मिलेगा स्वच्छ कार्ड इस मौके पर निगम आयुक्त प्रियंका दास ने कहा कि वॉल पेंटिंग के पीछे हमारा उद्देश्य जहां एक और शहर की दीवारों को सुंदरता प्रदान करना है वहीं कलाकृतियों के कारण लोग दीवारों को गंदा भी नहीं करते और स्वच्छता व पर्यावरण संरक्षण आदि संबंधी संदेश भी नागरिकों तक पहुंचते है. दास ने कहा कि हम विद्यार्थियों की भावना एवं उनकी कला का आदर करते हैं और इस वॉल पेंटिंग में अपनी भावनाएं उकेरने वाले विद्यार्थियों को स्वच्छ कार्ड दिया जाएगा."/> विद्यार्थियों को मिलेगा स्वच्छ कार्ड इस मौके पर निगम आयुक्त प्रियंका दास ने कहा कि वॉल पेंटिंग के पीछे हमारा उद्देश्य जहां एक और शहर की दीवारों को सुंदरता प्रदान करना है वहीं कलाकृतियों के कारण लोग दीवारों को गंदा भी नहीं करते और स्वच्छता व पर्यावरण संरक्षण आदि संबंधी संदेश भी नागरिकों तक पहुंचते है. दास ने कहा कि हम विद्यार्थियों की भावना एवं उनकी कला का आदर करते हैं और इस वॉल पेंटिंग में अपनी भावनाएं उकेरने वाले विद्यार्थियों को स्वच्छ कार्ड दिया जाएगा."/> विद्यार्थियों को मिलेगा स्वच्छ कार्ड इस मौके पर निगम आयुक्त प्रियंका दास ने कहा कि वॉल पेंटिंग के पीछे हमारा उद्देश्य जहां एक और शहर की दीवारों को सुंदरता प्रदान करना है वहीं कलाकृतियों के कारण लोग दीवारों को गंदा भी नहीं करते और स्वच्छता व पर्यावरण संरक्षण आदि संबंधी संदेश भी नागरिकों तक पहुंचते है. दास ने कहा कि हम विद्यार्थियों की भावना एवं उनकी कला का आदर करते हैं और इस वॉल पेंटिंग में अपनी भावनाएं उकेरने वाले विद्यार्थियों को स्वच्छ कार्ड दिया जाएगा.">

दीवाल पर उकेरीं भावनाएं

2018/01/10



'मॉय सिटी मॉय वॉल' के तहत की चित्रकारी

भोपाल, शहर की दीवारों की सुंदरता को बढ़ाने हेतु ''मॉय सिटी मॉय वॉल" के तहत सिक्योरिटी लाईन भेल दशहरा मैदान के पास स्थित हेमा हॉयर सेकेण्ड्री स्कूल की बाउंड्रीवॉल पर वॉल पेंटिंग का आयोजन किया गया. दो दिवसीय इस आयोजन का शुभारंभ महापौर आलोक शर्मा ने निगम आयुक्त प्रियंका दास की उपस्थिति में स्वयं तुलिका से रंग उकेरकर किया और विद्यार्थियों का उत्साहवर्धन करते हुए स्वच्छता एवं पर्यावरण संरक्षा संबंधी संदेश भी लिखने का आव्हान किया. वॉल पेंटिंग में शहर के विभिन्न शैक्षणिक संस्थानों के 100 से अधिक विद्यार्थियों ने अपनी भावनाएं उकेंरी. ''मॉय सिटी मॉय वॉल" के तहत वॉल पेंटिंग प्रतियोगिता का शुभारंभ करते हुए महापौर आलोक शर्मा ने कहा कि भोपाल शहर को स्वच्छ सर्वेक्षण-2018 में नंबर 01 शहर बनाने हेतु हम सबको अपनी जिम्मेदारी का निर्वाहन करना है. उन्होंने विद्यार्थियों का आव्हान किया कि वह स्वयं अपने घर, अपने मोहल्ले, अपने संस्थान से स्वच्छता को प्रारंभ करें और रोको-टोको अभियान को अपनाते हुए न स्वयं गंदगी करें और दूसरों को भी गंदगी करने से रोके. महापौर शर्मा ने विद्यार्थियों का उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि पिछले स्वच्छता सर्वेक्षण में विद्यार्थियों ने अपनी भूमिका का बहुत अच्छे तरीके से निर्वाहन किया था. इस बार क्योंकि हमारा मुकाबला 500 से नहीं 4000 शहरों से है ऐसे में हम सभी को अपनी जिम्मेदारियों का अच्छे ढंग से निर्वाहन करना चाहिए . विद्यार्थियों को मिलेगा स्वच्छ कार्ड इस मौके पर निगम आयुक्त प्रियंका दास ने कहा कि वॉल पेंटिंग के पीछे हमारा उद्देश्य जहां एक और शहर की दीवारों को सुंदरता प्रदान करना है वहीं कलाकृतियों के कारण लोग दीवारों को गंदा भी नहीं करते और स्वच्छता व पर्यावरण संरक्षण आदि संबंधी संदेश भी नागरिकों तक पहुंचते है. दास ने कहा कि हम विद्यार्थियों की भावना एवं उनकी कला का आदर करते हैं और इस वॉल पेंटिंग में अपनी भावनाएं उकेरने वाले विद्यार्थियों को स्वच्छ कार्ड दिया जाएगा.


Opinions expressed in the comments are not reflective of Nava Bharat. Comments are moderated automatically.

Related Posts