Breaking News :

नारायण संस्थान करेगी अंगों का निर्माण

भोपाल, दिव्यांगों के लिए भोपाल उत्सव मेला वरदान साबित होने जा रहा है. इस बार उत्सव मेला समिति की ओर से दुर्घटना या अन्य वजहों से हाथ-पैर खो चुके लोगों को कृत्रिम अंगों का वितरण किया जाएगा. इसी क्रम में 10 जनवरी को उदयपुर की प्रसिद्ध लिम्ब निर्माता नारायण सेवा संस्थान के सहयोग से दिव्यांगों के कृत्रिम अंग हेतु नाप शिविर का आयोजन आज 9 बजे से 2 बजे तक आयोजित किया जा रहा है. शिविर संयोजक विजय अग्रवाल व सुनील जैनविन ने बताया की शिविर में दिव्यांगों के अनुभवी टेक्निसिओं द्वारा नाप लिए जायेंगे तथा उक्त कृत्रिम अंग एक निश्चित पर शिविर स्थल पर पहनाये जायेंगे. अधिक से अधिक दिव्यांगों का इस शिविर में आने की उम्मींद है. इस कार्यक्रम में व्हील चेयर अथवा अन्य कोई सामग्रियों का वितरण नहीं किया जायेगा. राजेश जैन ने बताया कि अगला शिविर सेरेब्रल पाल्सी से ग्रस्त बच्चों के उपचार हेतु 20 जनवरी को सुबह 10 बजे से 4 बजे तक आयोजित किया जायेगा. इसके अलावा उत्सव मेला समिति द्वारा निशुल्क योग शिविर प्रात: 8 बजे से 10 बजे तक आयोजित किया गया. इस दौरान वरिष्ठ योगाचार्य पवन गुरु द्वारा योग अवं प्रयाणयाम का प्रशिक्षण दिया गया. बार-बार भोजन को पकाने से कैंसर का खतरा भोपाल उत्सव मेले में लगाये गये चिकित्सा शिविर में 9 जनवरी को कैंसर बीमारी की जांच की गई. जाने माने कैंसर रोग विशेषज्ञ डॉ. गणेश द्वारा मरीजों की नि:शुल्क जांच तथा परामर्श दिया गया. उन्होंने बताया कि शिविर में प्रतिदिन 20से 25 लोग जांच कराने के लिए आते हैं, जिनमें से 90फीसदी मरीजों में कैंसर के लक्षण दिखे. डॉ. गणेश ने बताया कि तंबाकू के उत्पादों का सेवन एवं स्मोकिंग करना कैंसर की प्रमुख वजह हैं. उन्होंने साथ हीं बताया कि प्रदूषण, विकिरणें भी कैंसर का कारण बन सकती हैं. इसके अलावा वेज या नॉनवेज भोजन को बार-बार पकाने से भी कैंसर का खतरा रहता है. उनके मुताबिक रिकुकिंग से नानवेज में मायोटाक्सिन तथा वेज में नाइट्रोसमिन उत्पन्न होता है जोकि कैंसर सेल को उत्पन्न करने का कारण बनते हैं. बीमारी की फैमिली हिस्ट्री वालों को कैंसर से पीडि़त होने की संभावना अधिक होती है."/>

नारायण संस्थान करेगी अंगों का निर्माण

भोपाल, दिव्यांगों के लिए भोपाल उत्सव मेला वरदान साबित होने जा रहा है. इस बार उत्सव मेला समिति की ओर से दुर्घटना या अन्य वजहों से हाथ-पैर खो चुके लोगों को कृत्रिम अंगों का वितरण किया जाएगा. इसी क्रम में 10 जनवरी को उदयपुर की प्रसिद्ध लिम्ब निर्माता नारायण सेवा संस्थान के सहयोग से दिव्यांगों के कृत्रिम अंग हेतु नाप शिविर का आयोजन आज 9 बजे से 2 बजे तक आयोजित किया जा रहा है. शिविर संयोजक विजय अग्रवाल व सुनील जैनविन ने बताया की शिविर में दिव्यांगों के अनुभवी टेक्निसिओं द्वारा नाप लिए जायेंगे तथा उक्त कृत्रिम अंग एक निश्चित पर शिविर स्थल पर पहनाये जायेंगे. अधिक से अधिक दिव्यांगों का इस शिविर में आने की उम्मींद है. इस कार्यक्रम में व्हील चेयर अथवा अन्य कोई सामग्रियों का वितरण नहीं किया जायेगा. राजेश जैन ने बताया कि अगला शिविर सेरेब्रल पाल्सी से ग्रस्त बच्चों के उपचार हेतु 20 जनवरी को सुबह 10 बजे से 4 बजे तक आयोजित किया जायेगा. इसके अलावा उत्सव मेला समिति द्वारा निशुल्क योग शिविर प्रात: 8 बजे से 10 बजे तक आयोजित किया गया. इस दौरान वरिष्ठ योगाचार्य पवन गुरु द्वारा योग अवं प्रयाणयाम का प्रशिक्षण दिया गया. बार-बार भोजन को पकाने से कैंसर का खतरा भोपाल उत्सव मेले में लगाये गये चिकित्सा शिविर में 9 जनवरी को कैंसर बीमारी की जांच की गई. जाने माने कैंसर रोग विशेषज्ञ डॉ. गणेश द्वारा मरीजों की नि:शुल्क जांच तथा परामर्श दिया गया. उन्होंने बताया कि शिविर में प्रतिदिन 20से 25 लोग जांच कराने के लिए आते हैं, जिनमें से 90फीसदी मरीजों में कैंसर के लक्षण दिखे. डॉ. गणेश ने बताया कि तंबाकू के उत्पादों का सेवन एवं स्मोकिंग करना कैंसर की प्रमुख वजह हैं. उन्होंने साथ हीं बताया कि प्रदूषण, विकिरणें भी कैंसर का कारण बन सकती हैं. इसके अलावा वेज या नॉनवेज भोजन को बार-बार पकाने से भी कैंसर का खतरा रहता है. उनके मुताबिक रिकुकिंग से नानवेज में मायोटाक्सिन तथा वेज में नाइट्रोसमिन उत्पन्न होता है जोकि कैंसर सेल को उत्पन्न करने का कारण बनते हैं. बीमारी की फैमिली हिस्ट्री वालों को कैंसर से पीडि़त होने की संभावना अधिक होती है."/>

नारायण संस्थान करेगी अंगों का निर्माण

भोपाल, दिव्यांगों के लिए भोपाल उत्सव मेला वरदान साबित होने जा रहा है. इस बार उत्सव मेला समिति की ओर से दुर्घटना या अन्य वजहों से हाथ-पैर खो चुके लोगों को कृत्रिम अंगों का वितरण किया जाएगा. इसी क्रम में 10 जनवरी को उदयपुर की प्रसिद्ध लिम्ब निर्माता नारायण सेवा संस्थान के सहयोग से दिव्यांगों के कृत्रिम अंग हेतु नाप शिविर का आयोजन आज 9 बजे से 2 बजे तक आयोजित किया जा रहा है. शिविर संयोजक विजय अग्रवाल व सुनील जैनविन ने बताया की शिविर में दिव्यांगों के अनुभवी टेक्निसिओं द्वारा नाप लिए जायेंगे तथा उक्त कृत्रिम अंग एक निश्चित पर शिविर स्थल पर पहनाये जायेंगे. अधिक से अधिक दिव्यांगों का इस शिविर में आने की उम्मींद है. इस कार्यक्रम में व्हील चेयर अथवा अन्य कोई सामग्रियों का वितरण नहीं किया जायेगा. राजेश जैन ने बताया कि अगला शिविर सेरेब्रल पाल्सी से ग्रस्त बच्चों के उपचार हेतु 20 जनवरी को सुबह 10 बजे से 4 बजे तक आयोजित किया जायेगा. इसके अलावा उत्सव मेला समिति द्वारा निशुल्क योग शिविर प्रात: 8 बजे से 10 बजे तक आयोजित किया गया. इस दौरान वरिष्ठ योगाचार्य पवन गुरु द्वारा योग अवं प्रयाणयाम का प्रशिक्षण दिया गया. बार-बार भोजन को पकाने से कैंसर का खतरा भोपाल उत्सव मेले में लगाये गये चिकित्सा शिविर में 9 जनवरी को कैंसर बीमारी की जांच की गई. जाने माने कैंसर रोग विशेषज्ञ डॉ. गणेश द्वारा मरीजों की नि:शुल्क जांच तथा परामर्श दिया गया. उन्होंने बताया कि शिविर में प्रतिदिन 20से 25 लोग जांच कराने के लिए आते हैं, जिनमें से 90फीसदी मरीजों में कैंसर के लक्षण दिखे. डॉ. गणेश ने बताया कि तंबाकू के उत्पादों का सेवन एवं स्मोकिंग करना कैंसर की प्रमुख वजह हैं. उन्होंने साथ हीं बताया कि प्रदूषण, विकिरणें भी कैंसर का कारण बन सकती हैं. इसके अलावा वेज या नॉनवेज भोजन को बार-बार पकाने से भी कैंसर का खतरा रहता है. उनके मुताबिक रिकुकिंग से नानवेज में मायोटाक्सिन तथा वेज में नाइट्रोसमिन उत्पन्न होता है जोकि कैंसर सेल को उत्पन्न करने का कारण बनते हैं. बीमारी की फैमिली हिस्ट्री वालों को कैंसर से पीडि़त होने की संभावना अधिक होती है.">

दिव्यांगों के हाथ-पैर की माप आज

2018/01/10



नारायण संस्थान करेगी अंगों का निर्माण

भोपाल, दिव्यांगों के लिए भोपाल उत्सव मेला वरदान साबित होने जा रहा है. इस बार उत्सव मेला समिति की ओर से दुर्घटना या अन्य वजहों से हाथ-पैर खो चुके लोगों को कृत्रिम अंगों का वितरण किया जाएगा. इसी क्रम में 10 जनवरी को उदयपुर की प्रसिद्ध लिम्ब निर्माता नारायण सेवा संस्थान के सहयोग से दिव्यांगों के कृत्रिम अंग हेतु नाप शिविर का आयोजन आज 9 बजे से 2 बजे तक आयोजित किया जा रहा है. शिविर संयोजक विजय अग्रवाल व सुनील जैनविन ने बताया की शिविर में दिव्यांगों के अनुभवी टेक्निसिओं द्वारा नाप लिए जायेंगे तथा उक्त कृत्रिम अंग एक निश्चित पर शिविर स्थल पर पहनाये जायेंगे. अधिक से अधिक दिव्यांगों का इस शिविर में आने की उम्मींद है. इस कार्यक्रम में व्हील चेयर अथवा अन्य कोई सामग्रियों का वितरण नहीं किया जायेगा. राजेश जैन ने बताया कि अगला शिविर सेरेब्रल पाल्सी से ग्रस्त बच्चों के उपचार हेतु 20 जनवरी को सुबह 10 बजे से 4 बजे तक आयोजित किया जायेगा. इसके अलावा उत्सव मेला समिति द्वारा निशुल्क योग शिविर प्रात: 8 बजे से 10 बजे तक आयोजित किया गया. इस दौरान वरिष्ठ योगाचार्य पवन गुरु द्वारा योग अवं प्रयाणयाम का प्रशिक्षण दिया गया. बार-बार भोजन को पकाने से कैंसर का खतरा भोपाल उत्सव मेले में लगाये गये चिकित्सा शिविर में 9 जनवरी को कैंसर बीमारी की जांच की गई. जाने माने कैंसर रोग विशेषज्ञ डॉ. गणेश द्वारा मरीजों की नि:शुल्क जांच तथा परामर्श दिया गया. उन्होंने बताया कि शिविर में प्रतिदिन 20से 25 लोग जांच कराने के लिए आते हैं, जिनमें से 90फीसदी मरीजों में कैंसर के लक्षण दिखे. डॉ. गणेश ने बताया कि तंबाकू के उत्पादों का सेवन एवं स्मोकिंग करना कैंसर की प्रमुख वजह हैं. उन्होंने साथ हीं बताया कि प्रदूषण, विकिरणें भी कैंसर का कारण बन सकती हैं. इसके अलावा वेज या नॉनवेज भोजन को बार-बार पकाने से भी कैंसर का खतरा रहता है. उनके मुताबिक रिकुकिंग से नानवेज में मायोटाक्सिन तथा वेज में नाइट्रोसमिन उत्पन्न होता है जोकि कैंसर सेल को उत्पन्न करने का कारण बनते हैं. बीमारी की फैमिली हिस्ट्री वालों को कैंसर से पीडि़त होने की संभावना अधिक होती है.


Opinions expressed in the comments are not reflective of Nava Bharat. Comments are moderated automatically.

Related Posts