Breaking News :

30 किलो गांजा बरामद

भोपाल, क्राइम ब्रांच की टीम ने मुखबिर की सूचना पर दो तस्करों को गिरफ्तार किया है, जिनके पास से 30 किलो गांजा बरामद किया गया है. पुलिस आरोपियों से पूछताछ करने में जुटी है. क्राइम ब्रांच को जरिए मुखबिर सूचना मिली थी कि दो युवक भदभदा बस्ती के पास बिना नंबर की कार में खड़े हुए हैं, जो ग्राहक का इंतजार कर रहे हैं. सूचना मिलते ही पुलिस सक्र्रिय हुई और युवकों को धरदबोचा. पुलिस ने इनके पास से 30 किलो गांजा जिसकी कीमत करीबन 3 लाख जब्त किया. आरोपियों की पहचान मंगलदास बैरागी पिता गोपीदास बैरागी उम्र 25 वर्ष निवासी श्यामपुर सीहोर और रमीउद्दीन पिता अनवर खां उम्र 35 वर्ष निवासी सरखेड़ा जिला सीहोर हुई. आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि कार दिनेश अहिरवार निवासी काला पीपल शाजापुर की है, साथ ही दिनेश और मुकीम निवासी सीहोर ने इन्हें यहां भेजा था. इसके बदले में उन्हें 20-20 हजार रुपए का लालच दिया गया था. आरोपियों ने बताया कि इससे पहले भी दो बार वे गांजे की सप्लाई कर चुके हैं. पुलिस ने दिनेश और मुकीम के विरूद्ध मामला दर्ज कर तलाश शुरू कर दी है. पुलिस को उम्मीद है कि इनके पकड़े जाने के बाद बड़े मामले का खुलासा हो सकता है."/>

30 किलो गांजा बरामद

भोपाल, क्राइम ब्रांच की टीम ने मुखबिर की सूचना पर दो तस्करों को गिरफ्तार किया है, जिनके पास से 30 किलो गांजा बरामद किया गया है. पुलिस आरोपियों से पूछताछ करने में जुटी है. क्राइम ब्रांच को जरिए मुखबिर सूचना मिली थी कि दो युवक भदभदा बस्ती के पास बिना नंबर की कार में खड़े हुए हैं, जो ग्राहक का इंतजार कर रहे हैं. सूचना मिलते ही पुलिस सक्र्रिय हुई और युवकों को धरदबोचा. पुलिस ने इनके पास से 30 किलो गांजा जिसकी कीमत करीबन 3 लाख जब्त किया. आरोपियों की पहचान मंगलदास बैरागी पिता गोपीदास बैरागी उम्र 25 वर्ष निवासी श्यामपुर सीहोर और रमीउद्दीन पिता अनवर खां उम्र 35 वर्ष निवासी सरखेड़ा जिला सीहोर हुई. आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि कार दिनेश अहिरवार निवासी काला पीपल शाजापुर की है, साथ ही दिनेश और मुकीम निवासी सीहोर ने इन्हें यहां भेजा था. इसके बदले में उन्हें 20-20 हजार रुपए का लालच दिया गया था. आरोपियों ने बताया कि इससे पहले भी दो बार वे गांजे की सप्लाई कर चुके हैं. पुलिस ने दिनेश और मुकीम के विरूद्ध मामला दर्ज कर तलाश शुरू कर दी है. पुलिस को उम्मीद है कि इनके पकड़े जाने के बाद बड़े मामले का खुलासा हो सकता है."/>

30 किलो गांजा बरामद

भोपाल, क्राइम ब्रांच की टीम ने मुखबिर की सूचना पर दो तस्करों को गिरफ्तार किया है, जिनके पास से 30 किलो गांजा बरामद किया गया है. पुलिस आरोपियों से पूछताछ करने में जुटी है. क्राइम ब्रांच को जरिए मुखबिर सूचना मिली थी कि दो युवक भदभदा बस्ती के पास बिना नंबर की कार में खड़े हुए हैं, जो ग्राहक का इंतजार कर रहे हैं. सूचना मिलते ही पुलिस सक्र्रिय हुई और युवकों को धरदबोचा. पुलिस ने इनके पास से 30 किलो गांजा जिसकी कीमत करीबन 3 लाख जब्त किया. आरोपियों की पहचान मंगलदास बैरागी पिता गोपीदास बैरागी उम्र 25 वर्ष निवासी श्यामपुर सीहोर और रमीउद्दीन पिता अनवर खां उम्र 35 वर्ष निवासी सरखेड़ा जिला सीहोर हुई. आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि कार दिनेश अहिरवार निवासी काला पीपल शाजापुर की है, साथ ही दिनेश और मुकीम निवासी सीहोर ने इन्हें यहां भेजा था. इसके बदले में उन्हें 20-20 हजार रुपए का लालच दिया गया था. आरोपियों ने बताया कि इससे पहले भी दो बार वे गांजे की सप्लाई कर चुके हैं. पुलिस ने दिनेश और मुकीम के विरूद्ध मामला दर्ज कर तलाश शुरू कर दी है. पुलिस को उम्मीद है कि इनके पकड़े जाने के बाद बड़े मामले का खुलासा हो सकता है.">

गांजे की तस्करी करते पकड़ाए दो युवक

2018/01/18



30 किलो गांजा बरामद

भोपाल, क्राइम ब्रांच की टीम ने मुखबिर की सूचना पर दो तस्करों को गिरफ्तार किया है, जिनके पास से 30 किलो गांजा बरामद किया गया है. पुलिस आरोपियों से पूछताछ करने में जुटी है. क्राइम ब्रांच को जरिए मुखबिर सूचना मिली थी कि दो युवक भदभदा बस्ती के पास बिना नंबर की कार में खड़े हुए हैं, जो ग्राहक का इंतजार कर रहे हैं. सूचना मिलते ही पुलिस सक्र्रिय हुई और युवकों को धरदबोचा. पुलिस ने इनके पास से 30 किलो गांजा जिसकी कीमत करीबन 3 लाख जब्त किया. आरोपियों की पहचान मंगलदास बैरागी पिता गोपीदास बैरागी उम्र 25 वर्ष निवासी श्यामपुर सीहोर और रमीउद्दीन पिता अनवर खां उम्र 35 वर्ष निवासी सरखेड़ा जिला सीहोर हुई. आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि कार दिनेश अहिरवार निवासी काला पीपल शाजापुर की है, साथ ही दिनेश और मुकीम निवासी सीहोर ने इन्हें यहां भेजा था. इसके बदले में उन्हें 20-20 हजार रुपए का लालच दिया गया था. आरोपियों ने बताया कि इससे पहले भी दो बार वे गांजे की सप्लाई कर चुके हैं. पुलिस ने दिनेश और मुकीम के विरूद्ध मामला दर्ज कर तलाश शुरू कर दी है. पुलिस को उम्मीद है कि इनके पकड़े जाने के बाद बड़े मामले का खुलासा हो सकता है.


Opinions expressed in the comments are not reflective of Nava Bharat. Comments are moderated automatically.

Related Posts