Breaking News :

नयी दिल्ली, खेल मंत्रालय पहले खेलो इंडिया स्कूल खेलों का आयोजन 31 जनवरी से आठ फरवरी तक राजधानी के पांच स्टेडियमों में कर रहा है जिसमें 16 खेलों में 197 स्वर्ण, 197 रजत और 273 कांस्य पदक सहित कुल 667 पदक दांव पर होंगे। खेलों इंडिया स्कूल खेलों का आयोजन अंडर-17 वर्ग में होगा जिसमें 3500 एथलीटों, 1250 अधिकारियों, 800 स्वयंसेवकों और 250 कार्यबल की भागीदारी रहेगी।केंद्रीय खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौर ने सोमवार को यहां एक संवाददाता सम्मेलन में इन खेलों के गीत ‘और खेलना चाहते हैं हम, खूब खेलो साथ में हम’ को लांच किया। राठौर ने खेलों के गीत को लांच करते हुये कहा“ इन खेलों से देश में खेल आंदोलन पैदा होगा और हम खेलों को समाज के हर हिस्से में बच्चे बच्चे तक पहुंच सकेंगे।खेलों इंडिया सरकार का कार्यक्रम नहीं है बल्कि यह देश का आंदोलन है और हम चाहते हैं कि इसमें हर माता-पिता, अध्यापक और बच्चों की सहभागिता हो।” खेलो इंडिया में 16 खेलों तीरंदाजी, एथलेटिक्स, बैडमिंटन, बास्केटबॉल, मुक्केबाजी, फुटबाल, जिमनास्टिक, हॉकी, जूडो, कबड्डी, खो-खो, निशानेबाजी, तैराकी, वॉलीबाल, भारोत्तोलन और कुश्ती का आयोजन किया जाएगा। ये खेल जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम, आईजी स्पोर्ट्स काम्पलैक्स, श्यामा प्रसाद मुखर्जी तैराकी पूल काम्पलैक्स, कर्णी सिंह शूटिंग रेंज और मेजर ध्यानचंद नेशनल स्टेडियम में आयोजित किये जाएंगे।"/> नयी दिल्ली, खेल मंत्रालय पहले खेलो इंडिया स्कूल खेलों का आयोजन 31 जनवरी से आठ फरवरी तक राजधानी के पांच स्टेडियमों में कर रहा है जिसमें 16 खेलों में 197 स्वर्ण, 197 रजत और 273 कांस्य पदक सहित कुल 667 पदक दांव पर होंगे। खेलों इंडिया स्कूल खेलों का आयोजन अंडर-17 वर्ग में होगा जिसमें 3500 एथलीटों, 1250 अधिकारियों, 800 स्वयंसेवकों और 250 कार्यबल की भागीदारी रहेगी।केंद्रीय खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौर ने सोमवार को यहां एक संवाददाता सम्मेलन में इन खेलों के गीत ‘और खेलना चाहते हैं हम, खूब खेलो साथ में हम’ को लांच किया। राठौर ने खेलों के गीत को लांच करते हुये कहा“ इन खेलों से देश में खेल आंदोलन पैदा होगा और हम खेलों को समाज के हर हिस्से में बच्चे बच्चे तक पहुंच सकेंगे।खेलों इंडिया सरकार का कार्यक्रम नहीं है बल्कि यह देश का आंदोलन है और हम चाहते हैं कि इसमें हर माता-पिता, अध्यापक और बच्चों की सहभागिता हो।” खेलो इंडिया में 16 खेलों तीरंदाजी, एथलेटिक्स, बैडमिंटन, बास्केटबॉल, मुक्केबाजी, फुटबाल, जिमनास्टिक, हॉकी, जूडो, कबड्डी, खो-खो, निशानेबाजी, तैराकी, वॉलीबाल, भारोत्तोलन और कुश्ती का आयोजन किया जाएगा। ये खेल जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम, आईजी स्पोर्ट्स काम्पलैक्स, श्यामा प्रसाद मुखर्जी तैराकी पूल काम्पलैक्स, कर्णी सिंह शूटिंग रेंज और मेजर ध्यानचंद नेशनल स्टेडियम में आयोजित किये जाएंगे।"/> नयी दिल्ली, खेल मंत्रालय पहले खेलो इंडिया स्कूल खेलों का आयोजन 31 जनवरी से आठ फरवरी तक राजधानी के पांच स्टेडियमों में कर रहा है जिसमें 16 खेलों में 197 स्वर्ण, 197 रजत और 273 कांस्य पदक सहित कुल 667 पदक दांव पर होंगे। खेलों इंडिया स्कूल खेलों का आयोजन अंडर-17 वर्ग में होगा जिसमें 3500 एथलीटों, 1250 अधिकारियों, 800 स्वयंसेवकों और 250 कार्यबल की भागीदारी रहेगी।केंद्रीय खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौर ने सोमवार को यहां एक संवाददाता सम्मेलन में इन खेलों के गीत ‘और खेलना चाहते हैं हम, खूब खेलो साथ में हम’ को लांच किया। राठौर ने खेलों के गीत को लांच करते हुये कहा“ इन खेलों से देश में खेल आंदोलन पैदा होगा और हम खेलों को समाज के हर हिस्से में बच्चे बच्चे तक पहुंच सकेंगे।खेलों इंडिया सरकार का कार्यक्रम नहीं है बल्कि यह देश का आंदोलन है और हम चाहते हैं कि इसमें हर माता-पिता, अध्यापक और बच्चों की सहभागिता हो।” खेलो इंडिया में 16 खेलों तीरंदाजी, एथलेटिक्स, बैडमिंटन, बास्केटबॉल, मुक्केबाजी, फुटबाल, जिमनास्टिक, हॉकी, जूडो, कबड्डी, खो-खो, निशानेबाजी, तैराकी, वॉलीबाल, भारोत्तोलन और कुश्ती का आयोजन किया जाएगा। ये खेल जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम, आईजी स्पोर्ट्स काम्पलैक्स, श्यामा प्रसाद मुखर्जी तैराकी पूल काम्पलैक्स, कर्णी सिंह शूटिंग रेंज और मेजर ध्यानचंद नेशनल स्टेडियम में आयोजित किये जाएंगे।">

खेलो इंडिया में दांव पर होंगे 197 स्वर्ण सहित 667 पदक

2018/01/15



नयी दिल्ली, खेल मंत्रालय पहले खेलो इंडिया स्कूल खेलों का आयोजन 31 जनवरी से आठ फरवरी तक राजधानी के पांच स्टेडियमों में कर रहा है जिसमें 16 खेलों में 197 स्वर्ण, 197 रजत और 273 कांस्य पदक सहित कुल 667 पदक दांव पर होंगे। खेलों इंडिया स्कूल खेलों का आयोजन अंडर-17 वर्ग में होगा जिसमें 3500 एथलीटों, 1250 अधिकारियों, 800 स्वयंसेवकों और 250 कार्यबल की भागीदारी रहेगी।केंद्रीय खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौर ने सोमवार को यहां एक संवाददाता सम्मेलन में इन खेलों के गीत ‘और खेलना चाहते हैं हम, खूब खेलो साथ में हम’ को लांच किया। राठौर ने खेलों के गीत को लांच करते हुये कहा“ इन खेलों से देश में खेल आंदोलन पैदा होगा और हम खेलों को समाज के हर हिस्से में बच्चे बच्चे तक पहुंच सकेंगे।खेलों इंडिया सरकार का कार्यक्रम नहीं है बल्कि यह देश का आंदोलन है और हम चाहते हैं कि इसमें हर माता-पिता, अध्यापक और बच्चों की सहभागिता हो।” खेलो इंडिया में 16 खेलों तीरंदाजी, एथलेटिक्स, बैडमिंटन, बास्केटबॉल, मुक्केबाजी, फुटबाल, जिमनास्टिक, हॉकी, जूडो, कबड्डी, खो-खो, निशानेबाजी, तैराकी, वॉलीबाल, भारोत्तोलन और कुश्ती का आयोजन किया जाएगा। ये खेल जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम, आईजी स्पोर्ट्स काम्पलैक्स, श्यामा प्रसाद मुखर्जी तैराकी पूल काम्पलैक्स, कर्णी सिंह शूटिंग रेंज और मेजर ध्यानचंद नेशनल स्टेडियम में आयोजित किये जाएंगे।


Opinions expressed in the comments are not reflective of Nava Bharat. Comments are moderated automatically.

Related Posts