Breaking News :

टोक्यो,  जापान के प्रधानमंत्री शिन्जो आबे ने कहा है कि उत्तरी कोरिया की ओर से मंडरा रहे खतरे के मद्देनजर खुद को सुरक्षित रखने में समर्थ हाेना उनके देश के लिए आवश्यक है। श्री आबे ने कल यहां सेल्फ-डिफेंस फोर्स के वरिष्ठ अधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि ऐसे खतरों को ध्यान में रखते हुए देश की सुरक्षा बढ़ाना नितांत आवश्यक है। जापान टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक श्री आबे देश के संविधान की अमनपसंद प्रकृति के बावजूद सैन्य व्यवस्था को कड़ा किये जाने की वकालत करते रहे हैं। उनका कहना है कि आप खुद को सुरक्षित नहीं रखना चाहेंगे तो कोई और आपकी सुरक्षा नहीं करेगा। श्री आबे ने कहा, “हमें उत्तर कोरिया के परमाणु परीक्षण के मद्देनजर सभी ऐहतियाती कदम उठाने होंगे। उन्होंने रक्षा मंत्री को सेना की रणनीति के लिए एक खाका तैयार करने को कहा है।”"/> टोक्यो,  जापान के प्रधानमंत्री शिन्जो आबे ने कहा है कि उत्तरी कोरिया की ओर से मंडरा रहे खतरे के मद्देनजर खुद को सुरक्षित रखने में समर्थ हाेना उनके देश के लिए आवश्यक है। श्री आबे ने कल यहां सेल्फ-डिफेंस फोर्स के वरिष्ठ अधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि ऐसे खतरों को ध्यान में रखते हुए देश की सुरक्षा बढ़ाना नितांत आवश्यक है। जापान टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक श्री आबे देश के संविधान की अमनपसंद प्रकृति के बावजूद सैन्य व्यवस्था को कड़ा किये जाने की वकालत करते रहे हैं। उनका कहना है कि आप खुद को सुरक्षित नहीं रखना चाहेंगे तो कोई और आपकी सुरक्षा नहीं करेगा। श्री आबे ने कहा, “हमें उत्तर कोरिया के परमाणु परीक्षण के मद्देनजर सभी ऐहतियाती कदम उठाने होंगे। उन्होंने रक्षा मंत्री को सेना की रणनीति के लिए एक खाका तैयार करने को कहा है।”"/> टोक्यो,  जापान के प्रधानमंत्री शिन्जो आबे ने कहा है कि उत्तरी कोरिया की ओर से मंडरा रहे खतरे के मद्देनजर खुद को सुरक्षित रखने में समर्थ हाेना उनके देश के लिए आवश्यक है। श्री आबे ने कल यहां सेल्फ-डिफेंस फोर्स के वरिष्ठ अधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि ऐसे खतरों को ध्यान में रखते हुए देश की सुरक्षा बढ़ाना नितांत आवश्यक है। जापान टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक श्री आबे देश के संविधान की अमनपसंद प्रकृति के बावजूद सैन्य व्यवस्था को कड़ा किये जाने की वकालत करते रहे हैं। उनका कहना है कि आप खुद को सुरक्षित नहीं रखना चाहेंगे तो कोई और आपकी सुरक्षा नहीं करेगा। श्री आबे ने कहा, “हमें उत्तर कोरिया के परमाणु परीक्षण के मद्देनजर सभी ऐहतियाती कदम उठाने होंगे। उन्होंने रक्षा मंत्री को सेना की रणनीति के लिए एक खाका तैयार करने को कहा है।”">

खुद को सुरक्षित रखने का सामर्थ्य होना जापान के लिए अपरिहार्य : आबे

2017/09/12



टोक्यो,  जापान के प्रधानमंत्री शिन्जो आबे ने कहा है कि उत्तरी कोरिया की ओर से मंडरा रहे खतरे के मद्देनजर खुद को सुरक्षित रखने में समर्थ हाेना उनके देश के लिए आवश्यक है। श्री आबे ने कल यहां सेल्फ-डिफेंस फोर्स के वरिष्ठ अधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि ऐसे खतरों को ध्यान में रखते हुए देश की सुरक्षा बढ़ाना नितांत आवश्यक है। जापान टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक श्री आबे देश के संविधान की अमनपसंद प्रकृति के बावजूद सैन्य व्यवस्था को कड़ा किये जाने की वकालत करते रहे हैं। उनका कहना है कि आप खुद को सुरक्षित नहीं रखना चाहेंगे तो कोई और आपकी सुरक्षा नहीं करेगा। श्री आबे ने कहा, “हमें उत्तर कोरिया के परमाणु परीक्षण के मद्देनजर सभी ऐहतियाती कदम उठाने होंगे। उन्होंने रक्षा मंत्री को सेना की रणनीति के लिए एक खाका तैयार करने को कहा है।”


Opinions expressed in the comments are not reflective of Nava Bharat. Comments are moderated automatically.

Related Posts