Breaking News :

भूखंड स्वामी को देना पड़ा 25 हजार सफाई शुल्क भोपाल, निगम आयुक्त प्रियंका दास ने मंगलवार को प्रात: अशोका गार्डन, 80 फीट रोड, परिहार चौराहा, अशोक विहार, चांदबड, कम्मू का बाग, महामाई का बाग आदि सहित अनेक क्षेत्रों में सफाई व्यवस्था का जायजा लिया. उन्होंने 80 फीट रोड पर अशोका गार्डन में एक खाली प्लाट पर बड़ी मात्रा में कचरा देखकर नाराजगी व्यक्त की. निगम आयुक्त ने उक्त प्लाट से कचरा, गंदगी साफ कराने के निर्देश दिये. निगम आयुक्त के निर्देश पर प्रभारी स्वास्थ्य अधिकारी राकेश शर्मा ने निगम के अमले को लगाकर प्लाट की जेसीबी मशीन, रोबोट से सफाई कराई और खाली प्लाट के स्वामी रईस से सफाई शुल्क के रूप में 25 हजार रूपये राशि का चैक प्राप्त किया. साथ ही उक्त भूखंड स्वामी को कहा गया कि दुबारा गंदगी पायी जाती है तो नगर पालिक निगम अधिनियम के अंतर्गत कार्यवाही की जायेगी. बेतरतीब ढंग से खड़े वाहनों को थाने भिजवाया निगम आयुक्त ने 80 फीट मुख्यमार्ग पर बेतरतीब ढंंग से खड़े टैंकर, मैजिक, आटो आदि 5 वाहनों को वहां से हटवाकर थाना बजरिया में भेजा. गंदगी पर भड़कीं निगम आयुक्त प्रियंका दास ने भ्रमण के दौरान सफाई व्यवस्था संतोषजनक न पाये जाने पर नाराजगी व्यक्त की. उन्होंने प्रतिदिन नियमित रूप से निर्धारित समय पर साफ-सफाई कराने और कचरे को तत्काल उठवाने की व्यवस्था को सुनिश्चित करने की हिदायत दी. बेहतर साफ-सफाई व्यवस्था के साथ-साथ दीवारों को भी साफ स्वच्छ बनाकर चित्रकारी कराने के निर्देश दिये."/> भूखंड स्वामी को देना पड़ा 25 हजार सफाई शुल्क भोपाल, निगम आयुक्त प्रियंका दास ने मंगलवार को प्रात: अशोका गार्डन, 80 फीट रोड, परिहार चौराहा, अशोक विहार, चांदबड, कम्मू का बाग, महामाई का बाग आदि सहित अनेक क्षेत्रों में सफाई व्यवस्था का जायजा लिया. उन्होंने 80 फीट रोड पर अशोका गार्डन में एक खाली प्लाट पर बड़ी मात्रा में कचरा देखकर नाराजगी व्यक्त की. निगम आयुक्त ने उक्त प्लाट से कचरा, गंदगी साफ कराने के निर्देश दिये. निगम आयुक्त के निर्देश पर प्रभारी स्वास्थ्य अधिकारी राकेश शर्मा ने निगम के अमले को लगाकर प्लाट की जेसीबी मशीन, रोबोट से सफाई कराई और खाली प्लाट के स्वामी रईस से सफाई शुल्क के रूप में 25 हजार रूपये राशि का चैक प्राप्त किया. साथ ही उक्त भूखंड स्वामी को कहा गया कि दुबारा गंदगी पायी जाती है तो नगर पालिक निगम अधिनियम के अंतर्गत कार्यवाही की जायेगी. बेतरतीब ढंग से खड़े वाहनों को थाने भिजवाया निगम आयुक्त ने 80 फीट मुख्यमार्ग पर बेतरतीब ढंंग से खड़े टैंकर, मैजिक, आटो आदि 5 वाहनों को वहां से हटवाकर थाना बजरिया में भेजा. गंदगी पर भड़कीं निगम आयुक्त प्रियंका दास ने भ्रमण के दौरान सफाई व्यवस्था संतोषजनक न पाये जाने पर नाराजगी व्यक्त की. उन्होंने प्रतिदिन नियमित रूप से निर्धारित समय पर साफ-सफाई कराने और कचरे को तत्काल उठवाने की व्यवस्था को सुनिश्चित करने की हिदायत दी. बेहतर साफ-सफाई व्यवस्था के साथ-साथ दीवारों को भी साफ स्वच्छ बनाकर चित्रकारी कराने के निर्देश दिये."/> भूखंड स्वामी को देना पड़ा 25 हजार सफाई शुल्क भोपाल, निगम आयुक्त प्रियंका दास ने मंगलवार को प्रात: अशोका गार्डन, 80 फीट रोड, परिहार चौराहा, अशोक विहार, चांदबड, कम्मू का बाग, महामाई का बाग आदि सहित अनेक क्षेत्रों में सफाई व्यवस्था का जायजा लिया. उन्होंने 80 फीट रोड पर अशोका गार्डन में एक खाली प्लाट पर बड़ी मात्रा में कचरा देखकर नाराजगी व्यक्त की. निगम आयुक्त ने उक्त प्लाट से कचरा, गंदगी साफ कराने के निर्देश दिये. निगम आयुक्त के निर्देश पर प्रभारी स्वास्थ्य अधिकारी राकेश शर्मा ने निगम के अमले को लगाकर प्लाट की जेसीबी मशीन, रोबोट से सफाई कराई और खाली प्लाट के स्वामी रईस से सफाई शुल्क के रूप में 25 हजार रूपये राशि का चैक प्राप्त किया. साथ ही उक्त भूखंड स्वामी को कहा गया कि दुबारा गंदगी पायी जाती है तो नगर पालिक निगम अधिनियम के अंतर्गत कार्यवाही की जायेगी. बेतरतीब ढंग से खड़े वाहनों को थाने भिजवाया निगम आयुक्त ने 80 फीट मुख्यमार्ग पर बेतरतीब ढंंग से खड़े टैंकर, मैजिक, आटो आदि 5 वाहनों को वहां से हटवाकर थाना बजरिया में भेजा. गंदगी पर भड़कीं निगम आयुक्त प्रियंका दास ने भ्रमण के दौरान सफाई व्यवस्था संतोषजनक न पाये जाने पर नाराजगी व्यक्त की. उन्होंने प्रतिदिन नियमित रूप से निर्धारित समय पर साफ-सफाई कराने और कचरे को तत्काल उठवाने की व्यवस्था को सुनिश्चित करने की हिदायत दी. बेहतर साफ-सफाई व्यवस्था के साथ-साथ दीवारों को भी साफ स्वच्छ बनाकर चित्रकारी कराने के निर्देश दिये.">

खाली प्लाट पर कचरा फेंकना पड़ा महंगा

2017/12/13



भूखंड स्वामी को देना पड़ा 25 हजार सफाई शुल्क भोपाल, निगम आयुक्त प्रियंका दास ने मंगलवार को प्रात: अशोका गार्डन, 80 फीट रोड, परिहार चौराहा, अशोक विहार, चांदबड, कम्मू का बाग, महामाई का बाग आदि सहित अनेक क्षेत्रों में सफाई व्यवस्था का जायजा लिया. उन्होंने 80 फीट रोड पर अशोका गार्डन में एक खाली प्लाट पर बड़ी मात्रा में कचरा देखकर नाराजगी व्यक्त की. निगम आयुक्त ने उक्त प्लाट से कचरा, गंदगी साफ कराने के निर्देश दिये. निगम आयुक्त के निर्देश पर प्रभारी स्वास्थ्य अधिकारी राकेश शर्मा ने निगम के अमले को लगाकर प्लाट की जेसीबी मशीन, रोबोट से सफाई कराई और खाली प्लाट के स्वामी रईस से सफाई शुल्क के रूप में 25 हजार रूपये राशि का चैक प्राप्त किया. साथ ही उक्त भूखंड स्वामी को कहा गया कि दुबारा गंदगी पायी जाती है तो नगर पालिक निगम अधिनियम के अंतर्गत कार्यवाही की जायेगी. बेतरतीब ढंग से खड़े वाहनों को थाने भिजवाया निगम आयुक्त ने 80 फीट मुख्यमार्ग पर बेतरतीब ढंंग से खड़े टैंकर, मैजिक, आटो आदि 5 वाहनों को वहां से हटवाकर थाना बजरिया में भेजा. गंदगी पर भड़कीं निगम आयुक्त प्रियंका दास ने भ्रमण के दौरान सफाई व्यवस्था संतोषजनक न पाये जाने पर नाराजगी व्यक्त की. उन्होंने प्रतिदिन नियमित रूप से निर्धारित समय पर साफ-सफाई कराने और कचरे को तत्काल उठवाने की व्यवस्था को सुनिश्चित करने की हिदायत दी. बेहतर साफ-सफाई व्यवस्था के साथ-साथ दीवारों को भी साफ स्वच्छ बनाकर चित्रकारी कराने के निर्देश दिये.


Opinions expressed in the comments are not reflective of Nava Bharat. Comments are moderated automatically.

Related Posts