Breaking News :

मुंबई, श्रीलंका के खिलाफ मैन ऑफ द मैच और मैन ऑफ द सीरीज़ बने भारतीय तेज़ गेंदबाज़ जयदेव उनादकट ने कहा है कि इस स्तर पर उनके अच्छे प्रदर्शन से उनका अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में आत्मविश्वास काफी बढ़ा है और वह आगे भी इसके लिये तैयार हैं। सौराष्ट्र के युवा गेंदबाज़ उनादकट ने श्रीलंका के खिलाफ रविवार को हुये तीसरे एवं अंतिम ट्वंटी 20 मैच में 3.75 इकोनोमी रेट से 15 रन पर दो विकेट हासिल किये।श्रीलंका के खिलाफ ट्वंटी 20 सीरीज़ में तीन मैचों में उन्होंने 4.88 के इकोनोमी रेट से चार विकेट लिये और मैन ऑफ द सीरीज़ भी बने। हालांकि स्पिनर युजवेंद्र चहल इस सीरीज में आठ विकेट के साथ सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज़ रहे।वानखेड़े स्टेडियम में पांच विकेट से आखिरी मैच जीतकर भारत ने सीरीज़ 3-0 से अपने नाम की।मैच के बाद उनादकट ने कहा“ इस सीरीज ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में मुझे अच्छा प्रदर्शन करने के लिये काफी मनोबल दिया है। पहले भी जब घरेलू क्रिकेट में मैंने अच्छा खेला था तो मुझे कई मौके मिलते रहे।ऐसे में मैं बस मैदान पर गया और पूरे आत्मविश्वास के साथ इस मौके को भुनाया।”"/> मुंबई, श्रीलंका के खिलाफ मैन ऑफ द मैच और मैन ऑफ द सीरीज़ बने भारतीय तेज़ गेंदबाज़ जयदेव उनादकट ने कहा है कि इस स्तर पर उनके अच्छे प्रदर्शन से उनका अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में आत्मविश्वास काफी बढ़ा है और वह आगे भी इसके लिये तैयार हैं। सौराष्ट्र के युवा गेंदबाज़ उनादकट ने श्रीलंका के खिलाफ रविवार को हुये तीसरे एवं अंतिम ट्वंटी 20 मैच में 3.75 इकोनोमी रेट से 15 रन पर दो विकेट हासिल किये।श्रीलंका के खिलाफ ट्वंटी 20 सीरीज़ में तीन मैचों में उन्होंने 4.88 के इकोनोमी रेट से चार विकेट लिये और मैन ऑफ द सीरीज़ भी बने। हालांकि स्पिनर युजवेंद्र चहल इस सीरीज में आठ विकेट के साथ सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज़ रहे।वानखेड़े स्टेडियम में पांच विकेट से आखिरी मैच जीतकर भारत ने सीरीज़ 3-0 से अपने नाम की।मैच के बाद उनादकट ने कहा“ इस सीरीज ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में मुझे अच्छा प्रदर्शन करने के लिये काफी मनोबल दिया है। पहले भी जब घरेलू क्रिकेट में मैंने अच्छा खेला था तो मुझे कई मौके मिलते रहे।ऐसे में मैं बस मैदान पर गया और पूरे आत्मविश्वास के साथ इस मौके को भुनाया।”"/> मुंबई, श्रीलंका के खिलाफ मैन ऑफ द मैच और मैन ऑफ द सीरीज़ बने भारतीय तेज़ गेंदबाज़ जयदेव उनादकट ने कहा है कि इस स्तर पर उनके अच्छे प्रदर्शन से उनका अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में आत्मविश्वास काफी बढ़ा है और वह आगे भी इसके लिये तैयार हैं। सौराष्ट्र के युवा गेंदबाज़ उनादकट ने श्रीलंका के खिलाफ रविवार को हुये तीसरे एवं अंतिम ट्वंटी 20 मैच में 3.75 इकोनोमी रेट से 15 रन पर दो विकेट हासिल किये।श्रीलंका के खिलाफ ट्वंटी 20 सीरीज़ में तीन मैचों में उन्होंने 4.88 के इकोनोमी रेट से चार विकेट लिये और मैन ऑफ द सीरीज़ भी बने। हालांकि स्पिनर युजवेंद्र चहल इस सीरीज में आठ विकेट के साथ सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज़ रहे।वानखेड़े स्टेडियम में पांच विकेट से आखिरी मैच जीतकर भारत ने सीरीज़ 3-0 से अपने नाम की।मैच के बाद उनादकट ने कहा“ इस सीरीज ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में मुझे अच्छा प्रदर्शन करने के लिये काफी मनोबल दिया है। पहले भी जब घरेलू क्रिकेट में मैंने अच्छा खेला था तो मुझे कई मौके मिलते रहे।ऐसे में मैं बस मैदान पर गया और पूरे आत्मविश्वास के साथ इस मौके को भुनाया।”">

इस सीरीज़ से अंतरराष्ट्रीय स्तर के लिये बढ़ा मनोबल: उनादकट

2017/12/25



मुंबई, श्रीलंका के खिलाफ मैन ऑफ द मैच और मैन ऑफ द सीरीज़ बने भारतीय तेज़ गेंदबाज़ जयदेव उनादकट ने कहा है कि इस स्तर पर उनके अच्छे प्रदर्शन से उनका अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में आत्मविश्वास काफी बढ़ा है और वह आगे भी इसके लिये तैयार हैं। सौराष्ट्र के युवा गेंदबाज़ उनादकट ने श्रीलंका के खिलाफ रविवार को हुये तीसरे एवं अंतिम ट्वंटी 20 मैच में 3.75 इकोनोमी रेट से 15 रन पर दो विकेट हासिल किये।श्रीलंका के खिलाफ ट्वंटी 20 सीरीज़ में तीन मैचों में उन्होंने 4.88 के इकोनोमी रेट से चार विकेट लिये और मैन ऑफ द सीरीज़ भी बने। हालांकि स्पिनर युजवेंद्र चहल इस सीरीज में आठ विकेट के साथ सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज़ रहे।वानखेड़े स्टेडियम में पांच विकेट से आखिरी मैच जीतकर भारत ने सीरीज़ 3-0 से अपने नाम की।मैच के बाद उनादकट ने कहा“ इस सीरीज ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में मुझे अच्छा प्रदर्शन करने के लिये काफी मनोबल दिया है। पहले भी जब घरेलू क्रिकेट में मैंने अच्छा खेला था तो मुझे कई मौके मिलते रहे।ऐसे में मैं बस मैदान पर गया और पूरे आत्मविश्वास के साथ इस मौके को भुनाया।”


Opinions expressed in the comments are not reflective of Nava Bharat. Comments are moderated automatically.

Related Posts