Breaking News :

नयी दिल्ली, केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने आईएनएक्स मीडिया से जुड़े धनशोधन (मनी लांड्रिंग) मामले में पूर्व केंद्रीय मंत्री पी. चिदम्बरम के पुत्र कार्ति चिदम्बरम को आज चेन्नई में गिरफ्तार कर लिया। सीबीआई सूत्रों ने यहां बताया कि जांच एजेंसी ने कार्ति को लंदन से चेन्नई हवाईअड्डे पर उतरते ही हिरासत में ले लिया था। कुछ देर हवाईअड्डे पर ही पूछताछ किये जाने के बाद कार्ति को गिरफ्तार कर लिया गया। जांच एजेंसी का दावा है कि कार्ति जांच में सहयोग नहीं कर रहे हैं। सूत्रों के अनुसार, जूनियर चिदम्बरम को आज ही चेन्नई से दिल्ली लाया जायेगा। पिछले वर्ष 15 मई को सीबीआई ने कार्ति के खिलाफ आपराधिक षड्यंत्र रचने, धोखाधड़ी, भ्रष्ट और अवैध काम के लिए धन लेने, सरकारी कर्मचारी को निर्णय बदलने के लिए प्रभावित करने और आपराधिक दुराचार के मामले दर्ज किए थे। कार्ति चिदंबरम पर आरोप है कि उन्होंने कथित रूप से मुम्बई के आईएनएक्स मीडिया (अब 9एक्स मीडिया) को विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड (एफआईपीबी) से हरी झंडी दिलाने के नाम पर 3.5 करोड़ रुपये लिये थे। उस वक्त कार्ति के पिता श्री पी चिदम्बरम केंद्रीय वित्त मंत्री थे। आईएनएक्स मीडिया को तब इंद्राणी मुखर्जी और पीटर मुखर्जी संचालित कर रहे थे। ये दोनों अब शीना बोरा हत्याकांड में आरोपी हैं। उल्‍लेखनीय है कि दो दिन पहले ही दिल्ली की एक अदालत ने कार्ति के चार्टर्ड एकाउंटेंट (सीए) एस भास्कररमन को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया था। भास्कररमन को भी आईएनएक्स मीडिया से जुड़े धनशोधन मामले में गिरफ्तार किया गया था।"/> नयी दिल्ली, केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने आईएनएक्स मीडिया से जुड़े धनशोधन (मनी लांड्रिंग) मामले में पूर्व केंद्रीय मंत्री पी. चिदम्बरम के पुत्र कार्ति चिदम्बरम को आज चेन्नई में गिरफ्तार कर लिया। सीबीआई सूत्रों ने यहां बताया कि जांच एजेंसी ने कार्ति को लंदन से चेन्नई हवाईअड्डे पर उतरते ही हिरासत में ले लिया था। कुछ देर हवाईअड्डे पर ही पूछताछ किये जाने के बाद कार्ति को गिरफ्तार कर लिया गया। जांच एजेंसी का दावा है कि कार्ति जांच में सहयोग नहीं कर रहे हैं। सूत्रों के अनुसार, जूनियर चिदम्बरम को आज ही चेन्नई से दिल्ली लाया जायेगा। पिछले वर्ष 15 मई को सीबीआई ने कार्ति के खिलाफ आपराधिक षड्यंत्र रचने, धोखाधड़ी, भ्रष्ट और अवैध काम के लिए धन लेने, सरकारी कर्मचारी को निर्णय बदलने के लिए प्रभावित करने और आपराधिक दुराचार के मामले दर्ज किए थे। कार्ति चिदंबरम पर आरोप है कि उन्होंने कथित रूप से मुम्बई के आईएनएक्स मीडिया (अब 9एक्स मीडिया) को विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड (एफआईपीबी) से हरी झंडी दिलाने के नाम पर 3.5 करोड़ रुपये लिये थे। उस वक्त कार्ति के पिता श्री पी चिदम्बरम केंद्रीय वित्त मंत्री थे। आईएनएक्स मीडिया को तब इंद्राणी मुखर्जी और पीटर मुखर्जी संचालित कर रहे थे। ये दोनों अब शीना बोरा हत्याकांड में आरोपी हैं। उल्‍लेखनीय है कि दो दिन पहले ही दिल्ली की एक अदालत ने कार्ति के चार्टर्ड एकाउंटेंट (सीए) एस भास्कररमन को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया था। भास्कररमन को भी आईएनएक्स मीडिया से जुड़े धनशोधन मामले में गिरफ्तार किया गया था।"/> नयी दिल्ली, केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने आईएनएक्स मीडिया से जुड़े धनशोधन (मनी लांड्रिंग) मामले में पूर्व केंद्रीय मंत्री पी. चिदम्बरम के पुत्र कार्ति चिदम्बरम को आज चेन्नई में गिरफ्तार कर लिया। सीबीआई सूत्रों ने यहां बताया कि जांच एजेंसी ने कार्ति को लंदन से चेन्नई हवाईअड्डे पर उतरते ही हिरासत में ले लिया था। कुछ देर हवाईअड्डे पर ही पूछताछ किये जाने के बाद कार्ति को गिरफ्तार कर लिया गया। जांच एजेंसी का दावा है कि कार्ति जांच में सहयोग नहीं कर रहे हैं। सूत्रों के अनुसार, जूनियर चिदम्बरम को आज ही चेन्नई से दिल्ली लाया जायेगा। पिछले वर्ष 15 मई को सीबीआई ने कार्ति के खिलाफ आपराधिक षड्यंत्र रचने, धोखाधड़ी, भ्रष्ट और अवैध काम के लिए धन लेने, सरकारी कर्मचारी को निर्णय बदलने के लिए प्रभावित करने और आपराधिक दुराचार के मामले दर्ज किए थे। कार्ति चिदंबरम पर आरोप है कि उन्होंने कथित रूप से मुम्बई के आईएनएक्स मीडिया (अब 9एक्स मीडिया) को विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड (एफआईपीबी) से हरी झंडी दिलाने के नाम पर 3.5 करोड़ रुपये लिये थे। उस वक्त कार्ति के पिता श्री पी चिदम्बरम केंद्रीय वित्त मंत्री थे। आईएनएक्स मीडिया को तब इंद्राणी मुखर्जी और पीटर मुखर्जी संचालित कर रहे थे। ये दोनों अब शीना बोरा हत्याकांड में आरोपी हैं। उल्‍लेखनीय है कि दो दिन पहले ही दिल्ली की एक अदालत ने कार्ति के चार्टर्ड एकाउंटेंट (सीए) एस भास्कररमन को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया था। भास्कररमन को भी आईएनएक्स मीडिया से जुड़े धनशोधन मामले में गिरफ्तार किया गया था।">

आईएनएक्स मीडिया मामला: कार्ति चिदम्बरम गिरफ्तार

2018/02/28



नयी दिल्ली, केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने आईएनएक्स मीडिया से जुड़े धनशोधन (मनी लांड्रिंग) मामले में पूर्व केंद्रीय मंत्री पी. चिदम्बरम के पुत्र कार्ति चिदम्बरम को आज चेन्नई में गिरफ्तार कर लिया। सीबीआई सूत्रों ने यहां बताया कि जांच एजेंसी ने कार्ति को लंदन से चेन्नई हवाईअड्डे पर उतरते ही हिरासत में ले लिया था। कुछ देर हवाईअड्डे पर ही पूछताछ किये जाने के बाद कार्ति को गिरफ्तार कर लिया गया। जांच एजेंसी का दावा है कि कार्ति जांच में सहयोग नहीं कर रहे हैं। सूत्रों के अनुसार, जूनियर चिदम्बरम को आज ही चेन्नई से दिल्ली लाया जायेगा। पिछले वर्ष 15 मई को सीबीआई ने कार्ति के खिलाफ आपराधिक षड्यंत्र रचने, धोखाधड़ी, भ्रष्ट और अवैध काम के लिए धन लेने, सरकारी कर्मचारी को निर्णय बदलने के लिए प्रभावित करने और आपराधिक दुराचार के मामले दर्ज किए थे। कार्ति चिदंबरम पर आरोप है कि उन्होंने कथित रूप से मुम्बई के आईएनएक्स मीडिया (अब 9एक्स मीडिया) को विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड (एफआईपीबी) से हरी झंडी दिलाने के नाम पर 3.5 करोड़ रुपये लिये थे। उस वक्त कार्ति के पिता श्री पी चिदम्बरम केंद्रीय वित्त मंत्री थे। आईएनएक्स मीडिया को तब इंद्राणी मुखर्जी और पीटर मुखर्जी संचालित कर रहे थे। ये दोनों अब शीना बोरा हत्याकांड में आरोपी हैं। उल्‍लेखनीय है कि दो दिन पहले ही दिल्ली की एक अदालत ने कार्ति के चार्टर्ड एकाउंटेंट (सीए) एस भास्कररमन को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया था। भास्कररमन को भी आईएनएक्स मीडिया से जुड़े धनशोधन मामले में गिरफ्तार किया गया था।


Opinions expressed in the comments are not reflective of Nava Bharat. Comments are moderated automatically.

Related Posts