Breaking News :

मुम्बई, अमेरिका के मजबूत रोजगार आंकड़ों से फेडरल रिजर्व द्वारा ब्याज दर बढ़ाये जाने की आशंका बढ़ गयी है जिससे अधिकतर एशियाई बाजारों के साथ घरेलू शेयर बाजार भी कारोबार की शुरुआत से दबाव में आ गये। बैंकिंग,रिएल्टी, वित्त और दूरसंचार सहित अधिकतर समूहों में बिकवाली हावी है जिससे बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स कारोबार के दौरान 1.25 फीसदी यानी 429.38 अंक टूटकर 33,983.78 अंक पर और एनएसई का निफ्टी 1.34 प्रतिशत यानी 131.25 अंक लुढ़ककर 10,443.25अंक पर आ गया। शेयर बाजार में लगातार सात दिन की गिरावट के बाद कल तेजी दर्ज की गयी थी लेकिन अंतरराष्ट्रीय बाजारों के गिरावट में रहने की खबरों से यहां फिर कोहराम मच गया।सेंसेक्स की शुरुआत 410.71 अंक की गिरावट के साथ 34,002.45 अंक से और निफ्टी की 160.35 अंक की गिरावट के साथ 10,416.50 अंक से हुई है। अमेरिका के मजबूत रोजगार आंकड़ों से महंगाई बढ़ने की संभावना तेज हो गयी है जिसे देखते हुए फेडरल रिजर्व अगली बैठक में ब्याज दर बढाने की घोषणा कर सकता है। ब्याज दर बढने से निवेशक शेयर बाजार से पैसा निकालकर बांड में निवेश करने लगते हैं।"/> मुम्बई, अमेरिका के मजबूत रोजगार आंकड़ों से फेडरल रिजर्व द्वारा ब्याज दर बढ़ाये जाने की आशंका बढ़ गयी है जिससे अधिकतर एशियाई बाजारों के साथ घरेलू शेयर बाजार भी कारोबार की शुरुआत से दबाव में आ गये। बैंकिंग,रिएल्टी, वित्त और दूरसंचार सहित अधिकतर समूहों में बिकवाली हावी है जिससे बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स कारोबार के दौरान 1.25 फीसदी यानी 429.38 अंक टूटकर 33,983.78 अंक पर और एनएसई का निफ्टी 1.34 प्रतिशत यानी 131.25 अंक लुढ़ककर 10,443.25अंक पर आ गया। शेयर बाजार में लगातार सात दिन की गिरावट के बाद कल तेजी दर्ज की गयी थी लेकिन अंतरराष्ट्रीय बाजारों के गिरावट में रहने की खबरों से यहां फिर कोहराम मच गया।सेंसेक्स की शुरुआत 410.71 अंक की गिरावट के साथ 34,002.45 अंक से और निफ्टी की 160.35 अंक की गिरावट के साथ 10,416.50 अंक से हुई है। अमेरिका के मजबूत रोजगार आंकड़ों से महंगाई बढ़ने की संभावना तेज हो गयी है जिसे देखते हुए फेडरल रिजर्व अगली बैठक में ब्याज दर बढाने की घोषणा कर सकता है। ब्याज दर बढने से निवेशक शेयर बाजार से पैसा निकालकर बांड में निवेश करने लगते हैं।"/> मुम्बई, अमेरिका के मजबूत रोजगार आंकड़ों से फेडरल रिजर्व द्वारा ब्याज दर बढ़ाये जाने की आशंका बढ़ गयी है जिससे अधिकतर एशियाई बाजारों के साथ घरेलू शेयर बाजार भी कारोबार की शुरुआत से दबाव में आ गये। बैंकिंग,रिएल्टी, वित्त और दूरसंचार सहित अधिकतर समूहों में बिकवाली हावी है जिससे बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स कारोबार के दौरान 1.25 फीसदी यानी 429.38 अंक टूटकर 33,983.78 अंक पर और एनएसई का निफ्टी 1.34 प्रतिशत यानी 131.25 अंक लुढ़ककर 10,443.25अंक पर आ गया। शेयर बाजार में लगातार सात दिन की गिरावट के बाद कल तेजी दर्ज की गयी थी लेकिन अंतरराष्ट्रीय बाजारों के गिरावट में रहने की खबरों से यहां फिर कोहराम मच गया।सेंसेक्स की शुरुआत 410.71 अंक की गिरावट के साथ 34,002.45 अंक से और निफ्टी की 160.35 अंक की गिरावट के साथ 10,416.50 अंक से हुई है। अमेरिका के मजबूत रोजगार आंकड़ों से महंगाई बढ़ने की संभावना तेज हो गयी है जिसे देखते हुए फेडरल रिजर्व अगली बैठक में ब्याज दर बढाने की घोषणा कर सकता है। ब्याज दर बढने से निवेशक शेयर बाजार से पैसा निकालकर बांड में निवेश करने लगते हैं।">

अमेरिकी रोजगार आंकड़ों से शेयर बाजार धराशायी

2018/02/09



मुम्बई, अमेरिका के मजबूत रोजगार आंकड़ों से फेडरल रिजर्व द्वारा ब्याज दर बढ़ाये जाने की आशंका बढ़ गयी है जिससे अधिकतर एशियाई बाजारों के साथ घरेलू शेयर बाजार भी कारोबार की शुरुआत से दबाव में आ गये। बैंकिंग,रिएल्टी, वित्त और दूरसंचार सहित अधिकतर समूहों में बिकवाली हावी है जिससे बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स कारोबार के दौरान 1.25 फीसदी यानी 429.38 अंक टूटकर 33,983.78 अंक पर और एनएसई का निफ्टी 1.34 प्रतिशत यानी 131.25 अंक लुढ़ककर 10,443.25अंक पर आ गया। शेयर बाजार में लगातार सात दिन की गिरावट के बाद कल तेजी दर्ज की गयी थी लेकिन अंतरराष्ट्रीय बाजारों के गिरावट में रहने की खबरों से यहां फिर कोहराम मच गया।सेंसेक्स की शुरुआत 410.71 अंक की गिरावट के साथ 34,002.45 अंक से और निफ्टी की 160.35 अंक की गिरावट के साथ 10,416.50 अंक से हुई है। अमेरिका के मजबूत रोजगार आंकड़ों से महंगाई बढ़ने की संभावना तेज हो गयी है जिसे देखते हुए फेडरल रिजर्व अगली बैठक में ब्याज दर बढाने की घोषणा कर सकता है। ब्याज दर बढने से निवेशक शेयर बाजार से पैसा निकालकर बांड में निवेश करने लगते हैं।


Opinions expressed in the comments are not reflective of Nava Bharat. Comments are moderated automatically.

Related Posts