Breaking News :

काहिरा, मिश्र के प्रधानमंत्री अब्देल फतह अल सिसि ने कहा है कि अमेरिकी दूतावास को इजरायल के यरुशलम स्थानांतरित करने से क्षेत्र में ‘कुछ अस्थिता’ पैदा हो गयी है। इजरायल की सेनाओं ने सोमवार को गाजा सीमा पर फलस्तीनी प्रदर्शनकारियों को मार गिराया। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के प्रशासन ने जब यरुशलम में अमेरिकी दूतावास खोला तो इससे इजरायल विरोधी प्रदर्शनों से तनाव कई सप्ताह तक उबलने की सीमा तक पहुंच गया। श्री सिसि ने कल युवाओं के सम्मेलन के टीवी कार्यक्रम में कहा, “अमेरिकी दूतावास के स्थानांतरण से इस मुद्दे का अरब देशों और इस्लामिक जन अभिमत पर नकारात्मक प्रतिक्रिया सामने आयी और इससे असंतोष और कुछ अस्थिरता पैदा हुई। इससे फलस्तीन की भी नकारात्मक प्रतिक्रिया होगी।” “मैं इजरायल के लोगों से अनुरोध करुंगा कि वह इस बात को समझे कि इस मुद्दे पर फलस्तीनियों की प्रतिक्रिया सीमित रही है और फलस्तीनी लोगों की जानें बचाने के लिए काफी सावधानी बरतने की आवश्यकता है।”"/> काहिरा, मिश्र के प्रधानमंत्री अब्देल फतह अल सिसि ने कहा है कि अमेरिकी दूतावास को इजरायल के यरुशलम स्थानांतरित करने से क्षेत्र में ‘कुछ अस्थिता’ पैदा हो गयी है। इजरायल की सेनाओं ने सोमवार को गाजा सीमा पर फलस्तीनी प्रदर्शनकारियों को मार गिराया। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के प्रशासन ने जब यरुशलम में अमेरिकी दूतावास खोला तो इससे इजरायल विरोधी प्रदर्शनों से तनाव कई सप्ताह तक उबलने की सीमा तक पहुंच गया। श्री सिसि ने कल युवाओं के सम्मेलन के टीवी कार्यक्रम में कहा, “अमेरिकी दूतावास के स्थानांतरण से इस मुद्दे का अरब देशों और इस्लामिक जन अभिमत पर नकारात्मक प्रतिक्रिया सामने आयी और इससे असंतोष और कुछ अस्थिरता पैदा हुई। इससे फलस्तीन की भी नकारात्मक प्रतिक्रिया होगी।” “मैं इजरायल के लोगों से अनुरोध करुंगा कि वह इस बात को समझे कि इस मुद्दे पर फलस्तीनियों की प्रतिक्रिया सीमित रही है और फलस्तीनी लोगों की जानें बचाने के लिए काफी सावधानी बरतने की आवश्यकता है।”"/> काहिरा, मिश्र के प्रधानमंत्री अब्देल फतह अल सिसि ने कहा है कि अमेरिकी दूतावास को इजरायल के यरुशलम स्थानांतरित करने से क्षेत्र में ‘कुछ अस्थिता’ पैदा हो गयी है। इजरायल की सेनाओं ने सोमवार को गाजा सीमा पर फलस्तीनी प्रदर्शनकारियों को मार गिराया। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के प्रशासन ने जब यरुशलम में अमेरिकी दूतावास खोला तो इससे इजरायल विरोधी प्रदर्शनों से तनाव कई सप्ताह तक उबलने की सीमा तक पहुंच गया। श्री सिसि ने कल युवाओं के सम्मेलन के टीवी कार्यक्रम में कहा, “अमेरिकी दूतावास के स्थानांतरण से इस मुद्दे का अरब देशों और इस्लामिक जन अभिमत पर नकारात्मक प्रतिक्रिया सामने आयी और इससे असंतोष और कुछ अस्थिरता पैदा हुई। इससे फलस्तीन की भी नकारात्मक प्रतिक्रिया होगी।” “मैं इजरायल के लोगों से अनुरोध करुंगा कि वह इस बात को समझे कि इस मुद्दे पर फलस्तीनियों की प्रतिक्रिया सीमित रही है और फलस्तीनी लोगों की जानें बचाने के लिए काफी सावधानी बरतने की आवश्यकता है।”">

अमेरिकी दूतावास इजरायल स्थानांतरित होने से पैदा हुई क्षेत्रीय अस्थिरता

2018/05/17



काहिरा, मिश्र के प्रधानमंत्री अब्देल फतह अल सिसि ने कहा है कि अमेरिकी दूतावास को इजरायल के यरुशलम स्थानांतरित करने से क्षेत्र में ‘कुछ अस्थिता’ पैदा हो गयी है। इजरायल की सेनाओं ने सोमवार को गाजा सीमा पर फलस्तीनी प्रदर्शनकारियों को मार गिराया। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के प्रशासन ने जब यरुशलम में अमेरिकी दूतावास खोला तो इससे इजरायल विरोधी प्रदर्शनों से तनाव कई सप्ताह तक उबलने की सीमा तक पहुंच गया। श्री सिसि ने कल युवाओं के सम्मेलन के टीवी कार्यक्रम में कहा, “अमेरिकी दूतावास के स्थानांतरण से इस मुद्दे का अरब देशों और इस्लामिक जन अभिमत पर नकारात्मक प्रतिक्रिया सामने आयी और इससे असंतोष और कुछ अस्थिरता पैदा हुई। इससे फलस्तीन की भी नकारात्मक प्रतिक्रिया होगी।” “मैं इजरायल के लोगों से अनुरोध करुंगा कि वह इस बात को समझे कि इस मुद्दे पर फलस्तीनियों की प्रतिक्रिया सीमित रही है और फलस्तीनी लोगों की जानें बचाने के लिए काफी सावधानी बरतने की आवश्यकता है।”


Opinions expressed in the comments are not reflective of Nava Bharat. Comments are moderated automatically.

Related Posts