Breaking News :

लाहाैर,  पाकिस्तान के अनुभवी आफ स्पिनर सईद अजमल ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के सभी प्रारुपों से संन्यास लेने की सोमवार को घोषणा कर दी। 40 वर्षीय अजमल पाकिस्तान में जारी नेशनल ट्वंटी-20 टूर्नामेंट के बाद अंतराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की आधिकारिक घोषणा करेंगे।टूर्नामेंट 26 नवंबर को समाप्त होगा और अजमल इसके बाद ही संन्यास की आधिकारिक घोषणा करेंगे। अजमल ने टूर्नामेंट के दौरान ही संन्यास लेने की घोषणा करते हुए सोमवार को कहा,“ नेशनल टूर्नामेंट मेरा आखिरी टूर्नामेंट होगा।मैं अब किसी भी तरह से टीम के लिए बोझ नहीं बनना चाहता।नेशनल टीम में मेरे चयन को लेकर कोई विवाद उठे उससे पहले मैं ख़ुद हमेशा के लिए क्रिकेट से संन्यास लेना चाहता हूं और यह मेरा आखिरी फैसला है।” अजमल ने पाकिस्तान के लिए 2008 से लेकर 2015 तक 35 टेस्ट, 113 वनडे और 64 ट्वंटी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले जिसमें उन्होंने क्रमश: 178, 184 और 85 विकेट हासिल किये।अजमल ने वर्ष 2009 में अपने बेहतरीन प्रदर्शन से पाकिस्तान को पहला ट्वंटी-20 खिताब दिलाने में भी अहम भूमिका निभाई थी। हालांकि साल 2009 में अजमल के गेंदबाजी एक्शन पर आईसीसी ने प्रतिबंध लगाया था। लेकिन इसके तुरंत बाद ही उन्हें क्लीन चिट भी मिल गई थी।उनके गेंदबाजी एक्शन की दो बार शिकायत हुई थी।"/> लाहाैर,  पाकिस्तान के अनुभवी आफ स्पिनर सईद अजमल ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के सभी प्रारुपों से संन्यास लेने की सोमवार को घोषणा कर दी। 40 वर्षीय अजमल पाकिस्तान में जारी नेशनल ट्वंटी-20 टूर्नामेंट के बाद अंतराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की आधिकारिक घोषणा करेंगे।टूर्नामेंट 26 नवंबर को समाप्त होगा और अजमल इसके बाद ही संन्यास की आधिकारिक घोषणा करेंगे। अजमल ने टूर्नामेंट के दौरान ही संन्यास लेने की घोषणा करते हुए सोमवार को कहा,“ नेशनल टूर्नामेंट मेरा आखिरी टूर्नामेंट होगा।मैं अब किसी भी तरह से टीम के लिए बोझ नहीं बनना चाहता।नेशनल टीम में मेरे चयन को लेकर कोई विवाद उठे उससे पहले मैं ख़ुद हमेशा के लिए क्रिकेट से संन्यास लेना चाहता हूं और यह मेरा आखिरी फैसला है।” अजमल ने पाकिस्तान के लिए 2008 से लेकर 2015 तक 35 टेस्ट, 113 वनडे और 64 ट्वंटी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले जिसमें उन्होंने क्रमश: 178, 184 और 85 विकेट हासिल किये।अजमल ने वर्ष 2009 में अपने बेहतरीन प्रदर्शन से पाकिस्तान को पहला ट्वंटी-20 खिताब दिलाने में भी अहम भूमिका निभाई थी। हालांकि साल 2009 में अजमल के गेंदबाजी एक्शन पर आईसीसी ने प्रतिबंध लगाया था। लेकिन इसके तुरंत बाद ही उन्हें क्लीन चिट भी मिल गई थी।उनके गेंदबाजी एक्शन की दो बार शिकायत हुई थी।"/> लाहाैर,  पाकिस्तान के अनुभवी आफ स्पिनर सईद अजमल ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के सभी प्रारुपों से संन्यास लेने की सोमवार को घोषणा कर दी। 40 वर्षीय अजमल पाकिस्तान में जारी नेशनल ट्वंटी-20 टूर्नामेंट के बाद अंतराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की आधिकारिक घोषणा करेंगे।टूर्नामेंट 26 नवंबर को समाप्त होगा और अजमल इसके बाद ही संन्यास की आधिकारिक घोषणा करेंगे। अजमल ने टूर्नामेंट के दौरान ही संन्यास लेने की घोषणा करते हुए सोमवार को कहा,“ नेशनल टूर्नामेंट मेरा आखिरी टूर्नामेंट होगा।मैं अब किसी भी तरह से टीम के लिए बोझ नहीं बनना चाहता।नेशनल टीम में मेरे चयन को लेकर कोई विवाद उठे उससे पहले मैं ख़ुद हमेशा के लिए क्रिकेट से संन्यास लेना चाहता हूं और यह मेरा आखिरी फैसला है।” अजमल ने पाकिस्तान के लिए 2008 से लेकर 2015 तक 35 टेस्ट, 113 वनडे और 64 ट्वंटी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले जिसमें उन्होंने क्रमश: 178, 184 और 85 विकेट हासिल किये।अजमल ने वर्ष 2009 में अपने बेहतरीन प्रदर्शन से पाकिस्तान को पहला ट्वंटी-20 खिताब दिलाने में भी अहम भूमिका निभाई थी। हालांकि साल 2009 में अजमल के गेंदबाजी एक्शन पर आईसीसी ने प्रतिबंध लगाया था। लेकिन इसके तुरंत बाद ही उन्हें क्लीन चिट भी मिल गई थी।उनके गेंदबाजी एक्शन की दो बार शिकायत हुई थी।">

अजमल ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को कहा अलविदा

2017/11/14



लाहाैर,  पाकिस्तान के अनुभवी आफ स्पिनर सईद अजमल ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के सभी प्रारुपों से संन्यास लेने की सोमवार को घोषणा कर दी। 40 वर्षीय अजमल पाकिस्तान में जारी नेशनल ट्वंटी-20 टूर्नामेंट के बाद अंतराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की आधिकारिक घोषणा करेंगे।टूर्नामेंट 26 नवंबर को समाप्त होगा और अजमल इसके बाद ही संन्यास की आधिकारिक घोषणा करेंगे। अजमल ने टूर्नामेंट के दौरान ही संन्यास लेने की घोषणा करते हुए सोमवार को कहा,“ नेशनल टूर्नामेंट मेरा आखिरी टूर्नामेंट होगा।मैं अब किसी भी तरह से टीम के लिए बोझ नहीं बनना चाहता।नेशनल टीम में मेरे चयन को लेकर कोई विवाद उठे उससे पहले मैं ख़ुद हमेशा के लिए क्रिकेट से संन्यास लेना चाहता हूं और यह मेरा आखिरी फैसला है।” अजमल ने पाकिस्तान के लिए 2008 से लेकर 2015 तक 35 टेस्ट, 113 वनडे और 64 ट्वंटी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले जिसमें उन्होंने क्रमश: 178, 184 और 85 विकेट हासिल किये।अजमल ने वर्ष 2009 में अपने बेहतरीन प्रदर्शन से पाकिस्तान को पहला ट्वंटी-20 खिताब दिलाने में भी अहम भूमिका निभाई थी। हालांकि साल 2009 में अजमल के गेंदबाजी एक्शन पर आईसीसी ने प्रतिबंध लगाया था। लेकिन इसके तुरंत बाद ही उन्हें क्लीन चिट भी मिल गई थी।उनके गेंदबाजी एक्शन की दो बार शिकायत हुई थी।


Opinions expressed in the comments are not reflective of Nava Bharat. Comments are moderated automatically.

Related Posts