खेला इंडिया यूथ गेम्स में हिस्सा लेंगे ‘टॉप्स’ एथलीट


नयी दिल्ली(वार्ता) मध्य प्रदेश में 30 जनवरी से शुरू हो रहे खेलो इंडिया यूथ गेम्स में भारत सरकार की ‘टारगेट ओलंपिक पोडियम योजना’ (टॉप्स) के 15 एथलीट मैदान पर उतर कर नवोदित एथलीटों को प्रोत्साहित करेंगे।

भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) ने शनिवार को एक विज्ञप्ति जारी कर बताया कि टॉप्स के तहत पहले से ही अंतरराष्ट्रीय उपलब्धि हासिल कर चुके एथलीट यहां जमीनी स्तर के एथलीटों को आगे बढ़ने के लिये प्रेरित करेंगे।

इन खिलाड़ियों में महाराष्ट्र के विशाल चांगमई, मंजिरी अलोन, अपेक्षा फर्नांडीस, आकांक्षा व्यवहारे, हरियाणा की रिद्धि, उन्नति हुड्डा, शिव नरवाल, तेजस्वनी, निश्चल, दिल्ली की पायस जैन और कर्नाटक की रिधिमा वीरेंद्रकुमार एवं यशस्विनी घोरपड़े सहित अन्य एथलीटों के नाम शामिल हैं।

विज्ञप्ति में बताया गया कि मध्य प्रदेश के भोपाल, इंदौर, उज्जैन, ग्वालियर, जबलपुर, मंडला, खरगोन (महेश्वर) और बालाघाट के अलावा नयी दिल्ली में होने वाली प्रतियोगिता में करीब छह हजार एथलीट हिस्सा लेंगे।
यूथ गेम्स में कुल 27 विधाएं होंगी।इन खेलों के इतिहास में पहली बार वाटर स्पोर्ट्स को शामिल किया जा रहा है।
इसके अलावा कैनो स्लैलम, कयाकिंग, कैनोइंग और रोइंग जैसे पानी के खेल भी साथ होंगे।

टॉप्स का मुख्य उद्देश्य एथलीटों को ओलंपिक और अन्य अंतरराष्ट्रीय खेल आयोजनों में पदक जीतने के लिए वित्तीय सहायता और अन्य सहायता प्रदान करना है।
साल 2020 में दस से 12 वर्ष आयुवर्ग के बच्चों को लक्षित करते हुए 2028 में ओलंपिक विजेताओं को तैयार करने के लिये टॉप्स की शुरुआत की गयी थी।


नव भारत न्यूज

Next Post

जीवन को सकारात्मकता में परिवर्तित करें : शिवानी दीदी

Sun Jan 29 , 2023
जीवाजी यूनिवर्सिटी में आयोजित हुआ इमोशनल सेफ्टी पर व्याख्यान ग्वालियर: आज प्रजापिता ब्रह्माकुमारीज़ ईश्वरीय विश्व विद्यालय की प्रेरक वक्ता बी. के. शिवानी दीदी के प्रेरक उद्बोधन का प्रथम सत्र अटल बिहारी वाजपेयी सभागार, जीवाजी यूनिवर्सिटी में आयोजित हुआ जिसका विषय था – इमोशनल सेफ्टी।बी.के.शिवानी दीदी ने श्रोताओं को संबोधित करते […]