7 साल की बच्ची की हत्या


पड़ोसी ने उतारा मौत के घाट, आक्रोशित लोगों ने पुलिस पर किया पथराव
इंदौर:आजाद नगर थाना क्षेत्र में एक 7 साल की बच्ची की पड़ोस में रहने वाले युवक ने हत्या कर दी. जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और शव का पोस्टमार्टम करवाया. इस दौरान आक्रोशित लोगों ने पुलिस पर जमकर पथराव कर दिया. भीड़ को तितर बितर करने के लिए पुलिस को भी लाठीचार्ज करना पड़ा. जानकारी के अनुसार घटना आजाद नगर थाना क्षेत्र की है. थाना प्रभारी इंद्रेश त्रिपाठी ने बताया कि घटना आजाद नगर के वाटर पंप मैदान के पास की है. यहां एक मुस्लिम युवक सद्दाम अपने पड़ोस में रहने वाली सात साल की बच्ची को उठाकर अपने घर ले गया था. जब काफी देर तक बच्ची नजर नहीं आई तो आसपास पूछताछ की गई. इस दौरान कुछ लोगों ने बताया कि सद्दाम बच्ची को घर के अंदर ले जाते हुए देखा गया.

जिसके बाद बच्ची के परिजनों को मामले की सूचना दी. इसके बाद परिजनों वहां पहुंचे और काफी देर सद्दाम से बच्ची को छोड़ने की की गुहार लगाते रहे, लेकिन उसने गेट नहीं खोला. इसके बाद आसपास के रहवासियों ने सद्दाम के घर का दरवाजा तोड़ दिया. जब सद्दाम बाहर आया तो उसके हाथ में खून से सना चाकू था. वह रहवासियों को चाकू दिखाते हुए जान से मारने की धमकी देकर वहां से भागने की कोशिश करने लगा. जिसे लोगों ने पकड़कर पीटा और फिर पुलिस के हवाले कर दिया.
युवक का है पुराना अपराधिक रिकॉर्ड
पुलिस के मुताबिक आरोपी का पुराना आपराधिक रिकॉर्ड है. 25 साल का आरोपी युवक सद्दाम मानसिक दिव्यांग बताया जा रहा है. फिलहाल पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. इसके बाद रहवासियों ने हंगामा करते हुए पुलिस थाने का घेराव किया और पूरे मामले में उचित कार्रवाई करने की मांग की. खास बात यह है कि जिस बच्ची की हत्या हुई है उसकी मां की भी कुछ दिनों पहले मौत हो गई थी. वह अपने पिता के साथ घर में अकेली रहती थी.

आरोपी का घर तोड़ा
शाम को निगम की टीम ने आरोपी मकान से सामान बाहर निकालने के बाद मकान को तोड़ दिया. मकान तोड़ने के पहले सामान निकलवाया. निगम के अतिक्रमण विरोधी अमले ने घर की सभी दीवारें हथौड़े से तोड़ दी हैं. बताया जा रहा है कि यह मकान अवैध तरीके से अतिक्रमण कर बनाया गया था. मकान तोड़ने के दौरान आरोपी के परिजनों ने विरोध भी किया, जिसे रोकने केलिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा.

पुलिस पर किया पथराव, लाठीचार्ज
पोस्टमार्टम के बाद जैसे ही 7 वर्षीय बच्ची का शव वापस आजाद नगर में पहुंचा तो लोग आक्रोशित हो उठे और आरोपी सद्दाम को फांसी देने की मांग की. साथ ही उसका घर पर तोड़ने की मांग करने लगे. इस दौरान आक्रोशित भीड़ ने पुलिस पर भी पथराव कर दिया. जिसके बाद पुलिस को भीड़ को वहां से हटाने के लिए लाठीचार्ज करना पड़ा. पथराव के इंदौर नगर निगम की कुछ गाड़िया भी चपेट में आ गई और टूट-फूट गई. लोगों के गुस्से और नाराजगी को देखते हुए वहां पर अतिरिक्त पुलिस फोर्स लगाया गया है. मौके पर मौजूद पुलिस के आला अधिकारी पूरे मामले को शांत करवाने में जुटे रहे.


नव भारत न्यूज

Next Post

जन सेवा अभियान के लिए कर्मचारियों को दिया गया प्रशिक्षण

Sat Sep 24 , 2022
ग्वालियर: मुख्यमंत्री जनसेवा अभियान के अंतर्गत शहर के प्रत्येक पात्र नागरिक को शासन की जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ दिलाया जाना है। जो व्यक्ति जिस योजना में पात्र है उसे उस योजना का लाभ मिल जाए। यही सरकार का उद्धेश्य है और इसे क्रियानवित हम सभी को चुनौती लेकर करना है। […]