बांदा : यमुना नदी में नाव डूबी, 03 की मौत, 15 को बचाया, 17 लापता


बांदा,  (वार्ता) उत्तर प्रदेश के बांदा जिले में गुरुवार को यमुना नदी में एक नाव डूबने की दुर्घटना में तीन लोगों की मौत हो गयी और 17 लापता हैं, जबकि 15 अन्य को गोताखोरों ने सुरक्षित बचा लिया है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस घटना पर दुख व्यक्त करते हुए जिला प्रशासन को राहत एवं बचाव कार्य तेज गति से चलाने के निर्देश दिये हैं। बांदा के पुलिस अधीक्षक अभिनंदन ने बताया कि आज दोपहर बाद लगभग तीन बजे यमुना नदी में फतेहपुर से बांदा की ओर आ रही एक नाव बांदा जिले के मरका थाना क्षेत्र में डूब गयी। उन्होंने बताया कि इस घटना की सूचना मिलने पर पुलिस ने तत्काल राहत एवं बचाव कार्य शुरु कर दिया।

उन्होंने बताया कि तेज हवा चलने के कारण नाव असंतुलित होकर पलट गयी। गोताखोरों ने अब तक दो महिलाओं और एक बच्चे का शव बरामद कर लिया है। बचाव कार्य के दौरान 15 लोगों को नदी से सुरक्षित निकाला जा चुका है। उन्होंने बताया कि नाव में सवार 17 लोगों का अब तक पता नहीं चल सका है। लापता लोगों की तलाश जारी है।

उन्होंने बताया कि सुरक्षित बचाये गये लोगों में दो घायलों को इलाज के लिये अस्पताल भेजा गया है, जहां उनकी हालत स्थिर बतायी गयी है। लापता लोगों की तलाश के लिये राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन एवं राज्य आपदा प्रबंधन के अलावा जलपुलिस की टीमों को भी बुलाया गया है।

इस बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस दुर्घटना पर दुख व्यक्त करते हुए जिला प्रशासन को तत्काल मौके पर पहुंचकर राहत और बचाव कार्य करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने दुर्घटना में हुई जनहानि पर शोक व्यक्त करते हुए शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की है। मुख्यमंत्री ने जिलाधिकारी, डीआईजी, एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीम को तत्काल मौके पर भेजे जाने हादसे में घायल हुए लोगों का समुचित उपचार कराए जाने के निर्देश दिए हैं।


नव भारत न्यूज

Next Post

केजरीवाल ने मुफ्त की रेवड़ी की बहस को विकृत रूप दिया: सीतारमण

Fri Aug 12 , 2022
नयी दिल्ली,  (वार्ता) ‘मुफ्त की रेवड़ी’ और सब्सिडी पर छिड़ी राजनैतिक बहस के बीच वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने गुरुवार को कहा कि गरीबों और जरूरतमंदों को स्वास्थ्य और शिक्षा की सुविधा देना केंद्र सरकार की कल्याणकारी नीतियों और कार्यकर्मों का मुख्य अंग है और इसे मुफ्त की रेवड़ी कहना […]