पीएससी द्धारा ईडब्ल्यूएस क़े न्यूनत्तम अंक अनारक्षित वर्ग के समतुल्य रखने को चुनौती हाईकोर्ट में दायर हुई याचिका, सुनवाई जल्द


जबलपुर: मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित की जाने वाली परीक्षाओ में ईडब्लूएस वर्ग को न्यूनतम उत्तरीण अंक अनारक्षित वर्ग के समतुल्यनिर्धारित किए जाने को चुनौती देते हुए हाईकोर्ट में याचिका दायर की गई है।यह याचिका डॉ प्रवीण कुमार द्विवेदी ने अधिवक्ता रामेश्वर सिंह ठाकुर के माध्यम से दायर की है। जिसमें कहा गया है की मध्यप्रदेश राज्य सेवा भर्ती परीक्षा संशोधित नियम 20 दिसंबर 2022 में अस्पष्ट रूप से ईडब्ल्यूएस को एक आरक्षित वर्ग मान्य किया गया है तथा उक्त नियमो में ईडब्ल्यूएस को ओबीसी वर्ग के समतुल्य मिनिमम क्वालीफाई माक्र्स निर्धारित किए जाने काप्रावधान है। इसके बावजूद भी भी लोकसेवा आयोग द्वारा ईडब्ल्यूएस को अनारक्षित वर्ग के बराबर क्वालीफाई अंको का निर्धारण किया गया है।

जिसकेकारण उक्त आरक्षण का उद्देश्य ही पूरा नही होगा अर्थात अनारक्षित वर्ग तथा आरक्षित वर्ग में कोई अंतर ही नही रहेगा । हाल ही में लोकसेवा आयोग द्वारा दन्त चिकित्सा परीक्षा 2022 में ईडब्ल्यूएस वर्ग को परीक्षा केकिसी भी स्तर पर छूट अर्थात आरक्षित वर्ग के समतुल्य मिनिमम क्वालीफाई अंको का निर्धारण नही किया गया है, जबकि ईडब्ल्यूएस को अनारक्षित वर्ग के ही समतुल्य क्वालीफाई अंको का निर्धारण किया गया है। वहीं आरक्षित वर्ग एससीएसटी, ओबीसी, को 10 अंको की छूट प्रदान की गई है । याचिका मेंईडब्ल्यूएस को ओबीसी के बराबर क्वालीफाई अंको का निर्धारण किए जाने की मांग की गई है ।

हाल ही में शिक्षक पात्रता परीक्षा में ईडब्ल्यूएस को ओबीसी के बराबर 50% मिनिमम क्वालीफाई अंको का निर्धारण किया गया है तथा व्यापमं द्वारा आयोजित अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं में भी ईडब्ल्यूएस कोओबीसी के समतुल्य क्वालीफाई अंको का निर्धारण किया जाता है। याचिका में साक्ष्य स्वरूप अन्य राज्यों तथा केन्द्र द्वारा की जाने बाली भर्तियो में भी ईडब्ल्यूएस को ओबीसी के समतुल्य क्वालीफाई अंक के निर्धारण सेसंवंधित दस्तावेज संलंग्न किए गए है । याचिका कर्ता का आरोप है की मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा ईडब्ल्यूएस को उक्त परीक्षा में अनारक्षित वर्ग के समतुल्य, मिनिमम क्वालीफाई अंक निर्धारित किए जाने केकारण भारतीय संविधान के अनुछेद 14, 15, 16 एवं 19 के विपरीत है। मामले में अगले सप्ताह सुनवाई होने की संभावना है।


नव भारत न्यूज

Next Post

गया सावन झूम के,सरई इलाके में झमाझम बारिश

Thu Aug 11 , 2022
चितरंगी व बैढऩ में रिमझिम बारिश से किसानों के चेहरे पर अभी भी छाई है चिंता की लकीरें,अकाल पडऩे की बढ़ी संभावना सिंगरौली : जिले में आज अचानक मानसून सक्रिय दिखाई दिया। दोपहर बाद तेज हवाओं के साथ बैढऩ व चितरंगी इलाकें में रूक-रूककर बारिश हुई। वहीं सरई इलाके में […]