रामनवमी को मनाया जायेगा चित्रकूट का गौरव दिवस


5 लाख दीपकों से जगमगायेगा चित्रकूट नगर परिषद कलेक्टर ने भरत घाट पर ली तैयारियों संबंधी बैठक
सतना : र्मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की मंशानुसार प्रदेश के प्रत्येक नगरीय निकाय और ग्राम पंचायतों में वर्ष का एक दिन चुनकर उसे गौरव दिवस के रूप में मनाया जा रहा है। सतना जिले की पवित्र और धार्मिक नगरी चित्रकूट का गौरव दिवस रामनवमी को मनाया जाएगा। गौरव दिवस के अवसर पर पूरे चित्रकूट नगर के प्रमुख स्थानों पर 5 लाख दीपक जलाकर पूरे चित्रकूट को जगमग किया जाएगा। चित्रकूट के गौरव दिवस मनाने के संबंध में कलेक्टर अनुराग वर्मा ने बुधवार को मंदाकिनी के किनारे भरत घाट में स्थानीय प्रतिनिधियों, साधु-संत और विभागीय अधिकारियों की बैठक लेकर गौरव दिवस के आयोजन की रूपरेखा तय की तथा अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। इस मौके पर सीईओ जिला पंचायत डॉ परीक्षित राव, जिला शिक्षा अधिकारी सच्चिदानंद पांडेय, एसडीएम पीएस त्रिपाठी, तहसीलदार नितिन कुमार झोंड़, सीएमओ ऋषि नारायण सिंह सहित चित्रकूट में कार्यरत विविध स्वयंसेवी संस्थानों के प्रतिनिधि एवं महंत, साधु संत उपस्थित थे।

कलेक्टर श्री वर्मा ने कहा कि चित्रकूट नगर का धार्मिक नगरी होने से विशेष महत्व है। साधु-संत और स्थानीय प्रतिनिधियों की बैठक में तय किया गया कि भगवान श्रीराम ने अपने वनवास के दौरान सबसे अधिक समय चित्रकूट में बिताया था। यहां का कण-कण श्री राम कथा में समाहित है। चित्रकूट के लिए रामनवमी से और बेहतर गौरव दिवस का विकल्प नहीं हो सकता। सर्वसम्मति से तय किया गया कि रामनवमी को चित्रकूट का गौरव दिवस बड़े ही धूमधाम से मनाया जाएगा। गौरव दिवस पर चित्रकूट के प्रमुख स्थानों पर दीपक जलाकर पूरे चित्रकूट को जगमगाया जाएगा। इस दिवस कम से कम 5 लाख दीपक जलाए जाएंगे। जिनमें मां मंदाकिनी के घाटों पर ढाई लाख दीपक, कामदगिरि परिक्रमा में 2 लाख दीपक, हनुमान धारा में 21 हजार, अनुसुइया आश्रम में 21 हजार, गुप्त गोदावरी में 11 हजार दीपक जलाए जाएंगे।

बैठक में उपस्थित संत, महात्मा और विश्वविद्यालय, स्वयंसेवी संस्थानों ने बढ़-चढ़कर हिस्सेदारी निभाने की बात कही। इनमें सद्गुरु संघ ट्रस्ट एक लाख, डीआरआई और ग्रामोदय विश्वविद्यालय 50-50 हजार, तुलसी शोध संस्थान 50 हजार, हनुमान धारा मंदिर और गायत्री शक्तिपीठ द्वारा 25-25 हजार, कामतानाथ प्रमुख द्वार 21 हजार, प्राचीन मुखारविंद 11 हजार और रावतपुरा सरकार संस्थान ने 21 हजार दीपक जलाने की बात कही। चित्रकूट का गौरव दिवस मनाने के लिए कलेक्टर श्री वर्मा के निर्देशानुसार एसडीएम पीएस त्रिपाठी की अध्यक्षता में एक कोर कमेटी का गठन किया गया है। कोर कमेटी में शासकीय एवं अशासकीय सदस्यों को रखा गया है।


नव भारत न्यूज

Next Post

बिना टिकट यात्रा का उठा रहेे थे लुत्फ, जांच हुई तो ट्रेन से कूदकर भागने लगे

Thu Mar 17 , 2022
रेलवे के उडऩ दस्ते ने ट्रेन से कूद कर भागते और बर्थ में लेटे 900यात्रियों को पकड़ा जबलपुर:  जबलपुर स्टेशन से पिपरिया स्टेशन के बीच रेलवे के  उडऩ दस्ते के टिकट निरीक्षको ने बुधवार को एक दर्जन यात्री गाडय़िों में सघन टिकट जांच अभियान चलाकर 900 यात्रियों को अनियमित  टिकट […]