बैंक का लॉकर काटकर चोरों ने उड़ाई राशि


जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित शाखा मड़वास में सुनियोजित तरीके से की गई चोरी, मौके पर एसपी समेत पहुंचे अन्य अधिकारी

सीधी/मड़वास :  जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित शाखा मड़वास में दो दिन के अवकाश के दौरान अज्ञात चोरों ने बैंक का लॉकर काटकर चोरी को सुनियोजित तरीके से अंजाम दिया। चोरी की जानकारी मिलने पर पुलिस अधीक्षक मुकेश कुमार श्रीवास्तव, मझौली एवं कुसमी के एसडीओपी नीरज नामदेव, मझौली थाना प्रभारी दीपक सिंह बघेल भी मौके पर पहुंचे।मिली जानकारी के अनुसार 25 फरवरी की शाम 5:30 बजे रोजाना की तरह बैंक को बंद कर सभी बैंककर्मी अपने घर चले गये थे। शनिवार एवं रविवार को अवकाश होने के कारण आज सोमवार की सुबह बैंककर्मी बैंक को खोलकर अंदर दाखिल हुए। अंदर पहुंचने पर उन्हें मालूम पड़ा कि बैंक के स्ट्रांग रूम का दरवाजा खुला हुआ है। किसी अनहोनी की आशंका पर बैंक कर्मियों ने अन्य कक्षों में जाकर देखा तो मालूम पड़ा कि पीछे की खिड़की एवं दरवाजा भी खुला है। जिसके बाद बैंक के शाखा प्रबंधक दिलराज सिंह ने तत्काल चौकी प्रभारी मड़वास को सूचना दी।

जिसके बाद तत्काल चौकी प्रभारी योगेश मिश्रा अपने दलबल के साथ मौके पर पहुंचकर बैंक की स्थिति का जायजा लिया और अपने वरिष्ठ अधिकारियों को चोरी के संबंध में सूचना दिया। बैंक में चोरी होने की जानकारी पाने पर पुलिस अधीक्षक मुकेश कुमार श्रीवास्तव स्वयं भी मौके पर पहुंचे। उनके आने से पूर्व ही अन्य पुलिस अधिकारी वहां पहुंचकर विवेचना में जुटे हुए थे। जिला मुख्यालय से पहुंचे खोजी कुत्ता ने भी बैंक के अंदर एवं बाहर चोरों का सुराग लगाने का प्रयास किया लेकिन कोई जानकारी नहीं मिल सकी। उधर बैंक कर्मियों ने बताया कि चोर बैंक के अंदर दाखिल होने के लिये भवन के पिछले हिस्से का उपयोग किये। भवन के पीछे स्थित लोहे की खिड़की का कुछ हिस्सा काटकर अंदर से बंद सिटकनी को खोला गया।

साथ ही खिड़की में लगी एक-दो सरिया को भी गैस कटर से काटकर अंदर दाखिल हुये। चोर काफी शातिर थे और अंदर पहुंचने के बाद स्ट्रांग रूम के बाहर लगे लोहे के चैनल के ताले को काटकर अलग करने के बाद अंदर के दरवाजे में भी बंद ताले को काटकर अंदर पहुंचे। स्ट्रांग रूम में रखे लोहे के लॉकर में जहां चाभी लगती है उस हिस्से को उनके द्वारा लोहे के कटर से काटा गया। चोर काफी मशक्कत के बाद लॉकर के एक ही हिस्से तक पहुंच सके और उसमें रखी नकदी लेकर सुरक्षित तरीके से निकल गये। लॉकर के अंदर एक दूसरा दराज भी था उसमें भी नकदी रखी हुई है। लॉकर में कुल 2 लाख 6 हजार 148 रूपए रखे थे। दूसरे हिस्से में कितनी नकदी है इसकी जानकारी लॉकर का दूसरा हिस्सा खुलने पर ही मिलेगी।
००
लॉकर के दूसरे दराज को कटवाने में छूटा पसीना
चोर तमाम प्रयासों के बावजूद लॉकर के दूसरे खंधे में रखी नकदी तक नहीं पहुंच पाये। सुबह जब पुलिस द्वारा मौके का निरीक्षण किया गया तो लॉकर में रखी राशि में से कितने की चोरी हुई इसकी जानकारी लेने के लिये लॉकर के दूसरे दराज को खुलना भी काफी आवश्यक था। चोर लॉकर में जहां चाभी लगती है उसी स्थान को काफी मशक्कत के बाद गैस कटर से काटा गया था। जिसके बाद वह लॉकर के एक हिस्से में रखी राशि को लेकर रफूचक्कर हो गये। पुलिस द्वारा देर शाम तक लॉकर के दूसरे दराज को खोलने के लिये गैस कटर से कटवाने का कार्य किया जाता रहा, जिससे चोरी गई राशि के संबंध में जानकारी सामने आ सके। खबर लिखे जाने तक पुलिस लॉकर के दूसरे दराज को कटवाने में पूरी मुस्तैदी के साथ लगी हुई थी।

इनका कहना है
25 फरवरी शुक्रवार की शाम 5:30 बजे बैंक बंद किया गया। उस दौरान लॉकर में 2 लाख 6 हजार 148 रूपए थे। शनिवार एवं रविवार के अवकाश के बाद आज सुबह जब बैंक खोला गया तो लॉकर का दरवाजा खुला होने से किसी अनहोनी की आशंका में अन्य कमरों में भी देखा गया तो पीछे की खिड़की खुली थी। जिसके बाद मेरे द्वारा तत्काल पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस भी जल्द ही बैंक पहुंचकर विवेचना में जुट गई।
दिलराज सिंह, शाखा प्रबंधक मड़वास


नव भारत न्यूज

Next Post

विधानसभा हराने वाले चाबी के गुच्छों को भाजपा ने लगाया गले

Tue Mar 1 , 2022
प्रथम नगर आगमन पर प्रदेश मंत्री के स्वागत के लिए संगठन ने नहीं की पूर्व तैयारी शाजापुर: 2018 के विधानसभा चुनाव में शाजापुर विधानसभा के भाजपा प्रत्याशी को हराने के लिए जीतोड़ मेहनत करने वाले कार्यकर्ताओं को भाजपा को हराने के पारितोषिक के रूप में पार्टी में वापसी कर उन्हें […]