पारा-राजगढ़ मार्ग पर हादसा… रातीमाली में निजी बस हुई दुर्घटनाग्रस्त, दो दर्जन से अधिक यात्री घायल


 

झाबुआ/पारा। पारा-राजगढ़ मार्ग पर ग्राम रातीमाली में निजी बस दुर्घटना ग्रस्त हो गई। दुर्घटना ग्रस्त होने के कारण दो दर्जन से अधिक यात्री घायल हो गए, जिन्हें आस पास के लोगों की मदद से तत्काल नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र में ले जाकर उपचार करवाया गया। प्राप्त जानकारी के अनुसार पारा के समीप सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के पास पारा-राजगढ़ मार्ग पर रातीमाली में एक निजी बस असंतुलित होकर अचानक पलटी खाकर सड़क किनारे बनी खाई में गिर गई। बस के पलटी खाते ही चिख-पुकार की आवाजे़ आने लगी, जिससे आस पास के लोग तत्काल घटना स्थल पहुंचे।

आसपास के लोगों ने मदद कर तत्काल लोगों को बस के बाहर निकाला। इस दौरान घटना की सूचना स्वास्थ्य केंद्र व पुलिस को लोगों ने तत्काल फोन कर दी। बस के दुर्घटनाग्रस्त होने से उसमें सवार करीब 20 से अधिक महिला, पुरुष एवं बच्चों को चोटे आई हैं। जिसमें दो लोगों को फ्रेक्चर होना बताया गया है। जिन्हें नजदीक स्वास्थ्य केंद्र से प्राथमिक उपचार के बाद झाबुआ जिला चिकित्सालय रेंफर किया है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के डॉ. केएस डुडवे ने बताया की बाकी को हल्की-फुल्की चोट आई है। एक महिला और एक पुरुष को फ्रेक्चर हुआ है। जिसको प्राथमिक उपचार के बाद झाबुआ जिला चिकित्सालय रेफर किया है। वहीं पुलिस चौकी प्रभारी रमेश कोहली ने बताया की जैसे ही दुर्घटना की खबर मिली वैसे ही हमारा पुलिस बल घटना स्थल पहुंचा। आम जनता के सहयोग से घायलों को एंबुलेंस की मदद से स्वास्थ्य केंद्र पारा भेजा गया।
आए दिन हो रहे हे इस मार्ग पर हादसे
पारा-राजगढ़ मार्ग अतिव्यस्त मार्ग में से एक है और आए दिन इस मार्ग पर भारी मात्रा में ट्रैफिक होने के चलते इस मार्ग पर हादसे होते रहते है। कई बार क्षेत्र के नागरिक शासन, प्रशासन से इस मार्ग को हाईवे की मांग करते आ रहे हैं, लेकिन पूरे प्रदेश के सभी मार्ग टू लेन और फोर लेन बन चुके हैं लेकिन आजादी के बाद से अभी तक इस मार्ग की दुर्दशा पर किसी का ध्यान नहीं जा रहा है। अभी इस पखवाड़े में दो बस दुर्घटनाएं हो चुकी है और आए दिन टू व्हीलर एवं फोर व्हीलर वाहनों की दुर्घटना होती रहती है लेकिन कोई भी इस मार्ग की दुर्दशा पर देखने वाला नहीं है। कई मर्तबा नेता इस रोड की घोषणा कर चुके हैं लेकिन आज तक उन घोषणाओं का अमली जामा नहीं पहनाया गया। जिसका खामियाजा आम जनता को एवं वाहन चालकों को भुगतना पड़ रहा है।


नव-भारत न्यूज.

Next Post

ग्वालियर में ठंड ज्यादा लेकिन स्कूल समय नहीं बदला

Tue Nov 28 , 2023
ग्वालियर। ग्वालियर में मावठ की बारिश के साथ ठंड बढ़ने लगी है और छोटे-छोटे बच्चों को ठंड में स्कूल जाने में बेहद परेशानी हो रही हैं लेकिन अधिकारियों ने बच्चों के स्कूल लगने का समय अभी तक नहीं बदला हैं। इसके उलट भोपाल और इंदौर में ग्वालियर से कम ठंड […]