किसानों की बेचैनी बढ़ी, बारिश हुई तो, फसल होगी बर्बाद


जबलपुर: इन दिनों मौसम कुछ अलग ही रुत में चल रहा है। जहां सुबह-सुबह बादल छाए रहते , वहीं दोपहर में कड़ी धूप होती है, इसके अलावा रात के समय अब ठंड भी अपना असर दिखने लगी है। वहीं दो-तीन दिनों से बादल होने के कारण जिन किसानों की फसल काटने को तैयार है उनमें भारी बेचैनी देखी जा रही है। इसी के साथ मौसम विभाग द्वारा एक-दो दिन में बारिश की संभावना जताई है जिसके कारण किसान बहुत परेशान नजऱ आ रहे हैं। मौसम विभाग ने एक-दो दिनों में जिले के अंदर 30 प्रतिशत बारिश की संभावना बताई है।

जिससे किसानों के अंदर काफी बेचैनी छाई हुई है। क्योंकि जिले में कई जगह धान की कटाई हो चुकी है, जिसका माल अभी किसानों द्वारा गल्ले में और खुले आसमान के नीचे रखा गया है । वहीं कुछ जगहों पर अभी भी धान की फसल खड़ी है। अगर बारिश होती है तो रखी हुई फसल और जो कटने लायक फसल है, दोनों को नुकसान होगा। जिसके कारण इन दिनों मौसम किसानों की आफत बना हुआ है।
खेत गीले, नहीं काट पा रहे फसल
धान की फसल बोने के लिए बारिश के समय खेतों में काफी अधिक जल भराव की आवश्यकता पड़ती है। वहीं कुछ महीनो तक खेतों में पानी भरा होने से ही धान की फसल की अच्छी पैदावार होती है। दीपावली के बाद इन फसलों को काटने का समय आता है तो खेतों को सूखने के लिए काफी अधिक समय लगता है। लेकिन पिछले कुछ दिनों से जिले में बादल होने की वजह से धूप अच्छे से नहीं निकल रही है। जिसके कारण किसानों के खेत अभी भी गीले हैं और इन गीले खेतों में फसल की कटाई नहीं की जा सकती है।


नव भारत न्यूज

Next Post

प्रत्याशियों के नहीं कट रहे दिन और रातें, परिणाम की बेसब्री से कर रहे प्रतीक्षा

Mon Nov 27 , 2023
जबलपुर: इंतजार की घडिय़ां क्या होती हैं ये उन प्रत्याशियों को समझ में आ रहा है जिनकी किस्मत ईवीएम में कैद है।  जिले की आठों विधानसभा के 83 प्रत्याशियों और उनके समर्थकों एक-एक दिन बड़ी मुश्किल से कट रहे है।  मतदान के बाद के दो-तीन दिन तो थकान उतारने में […]