जिला चिकित्सालय को 400 बिस्तरा बनाने का प्रस्ताव ठण्ड बस्ते में


जिला चिकित्सालय को कायाकल्प योजना से वंचित कराने का चल रहा षडय़ंत्र, परिसर में क्रिटिकल अस्पताल बनने से कायाकल्प का नहीं मिल पायेगा लाभ

सिंगरौली : जिला चिकित्सालय को अपग्रेड कर 400 बिस्तरा अस्पताल बनाने का प्रस्ताव ठण्डे बस्ते में पड़ा हुआ है। निवर्तमान विधायक रामलल्लू वैस ने करीब एक साल पहले मुख्यमंत्री एवं स्वास्थ्य मंत्री को पत्र लिखा था और कलेक्टोरेट के माध्यम से राज्य शासन के यहॉ प्रस्ताव भी पहुंचा था लेकिन अभी तक मामला खटाई में पड़ा हुआ है।

गौरतलब हो कि जिला चिकित्सालय में तीन सौ से अधिक मरीज भर्ती होते है। जैसे-जैसे जिला चिकित्सालय में सुविधाए बढ़ रही हैं । लोगों का विश्वास भी बढ़ रहा है। आलम यह है कि जिला चिकित्सालय में सुबह से लेकर ओपीडी के समय तक मरीजो की लम्बी-लम्बी कतारे लगी रहती है। यहॉ बताते चले कि जिला चिकित्सालय बैढऩ दो सौ बिस्तरा का ही है।

बढ़ती जनसंख्या एवं मरीजों की बढ़ती संख्या को देख निवर्तमान विधायक रामलल्लू वैस ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एवं स्वास्थ्य मंत्री को पत्र लिखकर जिला चिकित्सालय को अपग्रेड कर 4 सौ बिस्तरा अस्पताल किये जाने का मांग किया था। विधायक की इस पहल पर तत्कालीन कलेक्टर राजीव रंजन मीणा ने राज्य शासन को 4 बिस्तरा अस्पताल किये जाने का प्रस्ताव भी भेज दिया था। लेकिन एक साल बाद भी 4 सौ बिस्तरा अस्पताल किये जाने संबंधी प्रस्ताव ठण्डे बस्ते में पड़ा है।


नव भारत न्यूज

Next Post

किसानों की बेचैनी बढ़ी, बारिश हुई तो, फसल होगी बर्बाद

Mon Nov 27 , 2023
जबलपुर: इन दिनों मौसम कुछ अलग ही रुत में चल रहा है। जहां सुबह-सुबह बादल छाए रहते , वहीं दोपहर में कड़ी धूप होती है, इसके अलावा रात के समय अब ठंड भी अपना असर दिखने लगी है। वहीं दो-तीन दिनों से बादल होने के कारण जिन किसानों की फसल […]